खुलासा / गूगल पर फर्जी लवगुरु स्पेशलिस्ट पंडित की बनाई आईडी, युवती को झांसा देकर ठगे साढ़े पांच लाख रुपए

नाहरगढ़ थाने की गिरफ्त में शातिर ठग योगीनाथ

  • नाहरगढ़ थाना पुलिस टीम ने शातिर ठग कोजालंधर से किया गिरफ्तार
  • दसवीं पास आरोपी ने खुद को बताया ज्योतिष में गोल्ड मेडलिस्ट

Dainik Bhaskar

Apr 25, 2019, 08:17 PM IST

जयपुर. गूगल पर फर्जी पंडित योगीनाथ बनकर लवगुरु स्पेशलिस्ट की आईडी बनाकर एक युवती से लाखों रुपए की ठगी का मामला सामने आया है। मामले में नाहरगढ़ थाना पुलिस ने कार्रवाई कर शातिर ठग को जालंधर, पंजाब से गिरफ्तार कर लिया। डीसीपी (नार्थ) मनोज कुमार ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी दीपचंद उर्फ दीप रावल उर्फ दीप शर्मा उर्फ पंडित योगीनाथ उर्फ विश्वनार्थ भार्गव (45) है। वह मूल रुप से राजस्थान में चुरु जिले के भुटिया रोड का रहने वाला है। योगीनाथ सिर्फ दसवीं कक्षा तक पढ़ा लिखा है। लेकिन गूगल आईडी मेंउसने खुद को ज्योतिष में गोल्ड मेडलिस्ट बता रखा है।

खोया हुआ प्यार मिलाने और ब्लेक मैजिक से कोर्ट के मसले सुलझाने का करता है दावा, फिर लोगों को फंसाकर ऐंठता है रकम

  1. एडिशनल डीसीपी धर्मेंद्र सागर ने बताया कि वह पिछले करीब 12 साल से पंजाब के जालंधर में रह रहा है। उसने गूगल पर पंडित योगीनाथ लव गुरु स्पेशलिस्ट के नाम से आईडी बना रखी है। जिसमें वशीकरण, ब्लेक मैजिक कोर्ट मैटर्स, प्रेम विवाह, हैल्थ प्रॉब्लम, तंत्र मंत्र स्पेशलिस्ट, व्यापार, खोया हुआ प्यार से पीड़ित लोगों की समस्या का समाधान करने का दावा करता है।

     

  2. कोतवाली एसीपी मेघचंद मीणा के मुताबिक गत 12 अप्रेल को मारु पांडे का चौक, नाहरगढ़ रोड निवासी किराएदार राधा देवी ने मुकदमा दर्ज करवाया। जिसमें बताया कि उनकी अलमारी में रखे 5.41 लाख रुपए चोरी हो गए है। जिसमें मकान के ही अन्य किराएदारों पर चोरी का संदेह भी जताया। तब प्रशिक्षु आरपीएस संदीप सारस्वत व नाहरगढ़ थानाप्रभारी सतीश कुमार के नेतृत्व में अनुसंधान शुरु किया।

  3. एटीएम की सीसीटीवी फुटेज से मिला सुराग, पूछताछ में खुल गई पोल

    जिसमें रिपोर्टकर्ता राधा देवी के पति सुरेश चंद ने एटीम की दो पर्चियां पेश की, जो कि एचडीएफसी बैंक के चौड़ा रास्ता स्थित एक एटीएम की थी। पुलिस टीम ने एटीएम की सीसीटीवी फुटेज निकलवाई। जिसमें परिवादी राधा देवी की बेटी रुपए जमा करवाते नजर आई। इस पर पुलिस ने राधा देवी की बेटी से गहनता से पूछताछ की। तब उसने बताया कि उसकी एक लड़के से दोस्ती थी।

  4. उसने युवती से बातचीत बंद कर दी थी। उसे मनाने के लिए उसने गूगल पर लव गुरु पंडित को सर्च किया तो योगीनाथ लवगुरु स्पेशलिस्ट आया। उसमें शातिर ठग के मोबाइल नंबर लिखे थे। इन नंबरों पर संपर्क करने पर आरोपी योगीनाथ ने युवती से कहा कि वो उसकी समस्या का समाधान कर देंगे। इसकी एवज में रकम मांग की और अपना खाता संख्या मैसेज कर तत्काल रुपए भेजने को कहा।

  5. अनिष्ट होने का भय दिखाकर मांगता रहा रुपए, तीन दिन में वसूले साढ़े पांच लाख रुपए

    तब युवती ने अलमारी में रखे रुपए चोरी छिपे निकालकर चौड़ा रास्ता स्थित एटीएम से आरोपी ठग के खाते में जमा करवा दिए। इसके बाद शातिर ठग योगीनाथ ने युवती से कहा कि किसी को बताने पर पूजा अधूरी रह सकती है। इससे तुम्हारे माता पिता की जान को हानि और उस युवक से दोस्ती टूट सकती है। ऐसे में किसी को मत बताना और यह कहकर और रुपयों की मांग की।

  6. आरपीएस संदीप सारस्वत ने बताया कि अनिष्ट की आशंका के डर से मजबूर होकर युवती ने तीन दिन के भीतर 5.41 लाख रुपए आरोपी योगीनाथ के खाते में जमा करवा दिए। इसका पता चलने पर पुलिस ने तत्काल योगीनाथ के खाते में जमा 3.40 लाख रुपयों को नो डेबिट करवाया। तब नाहरगढ़ थाने के एएसआई मनोज सिंह शेखावत के साथ पुलिस टीम ने जालंधर पहुंची। जहां आरोपी योगीनाथ को पकड़ा।

  7. यहां लाकर पूछताछ की। ठगी की वारदात कबूल करने पर योगीनाथ को गिरफ्तार कर लिया। योगीनाथ फर्जी आईडी बनाकर लोगों को फंसाता है। फिर अनिष्ट होने का डर दिखाकर उन्हें धमकाता है और अपने मोटी रकम वसूल करता है। पूछताछ में उससे कई और भी ठगी की वारदातें खुलने की संभावना है। उसे रिमांड पर लेकर गहनता से पूछताछ की जाएगी। 

Share
Next Story

राजस्थान / भाजपा संसदीय बोर्ड कल तय कर सकता है 40 नाम, कांग्रेस कमेटी ने 94 सीटों पर सिंगल नाम किए तय

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News