--Advertisement--

तलाक के केस का बदला लेने के लिए पति ने ही जलाई थी महिला की एक्टिवा

चौहाबो थाने में पीड़िता ने दी रिपोर्ट, पति व उसके दोस्त के खिलाफ केस दर्ज

Bhaskar News | Aug 03, 2018, 08:21 AM IST

जोधपुर.  रामसागर इलाके में रहने वाला एक बदमाश पिछले नौ साल से अलग रहकर घरों में काम कर गुजारा करने वाली पत्नी द्वारा तलाक का केस करने को लेकर गुस्से में था। लंबे समय से दोनों के बीच चल रहे इसी विवाद के चलते ही बदमाश ने अपने एक अन्य साथी के साथ पहले तो महिला की एक्टिवा पत्थरों से तोड़ी और फिर उसमें आग लगा दी। बुधवार रात को पीएफ ऑफिस के सामने हुई इस वारदात के संबंध में चौपासनी हाउसिंग बोर्ड थाने में पीड़िता ने केस दर्ज कराया है। पुलिस की प्रारंभिक पड़ताल में यह भी सामने आया कि हरीश बामणिया आपराधिक प्रवृति का है और किसी मामले में जेल जाने के बाद एक महीने पहले ही बाहर आया था। 

चौपासनी हाउसिंग बोर्ड थाने के एसआई गणपतलाल ने बताया कि थाना क्षेत्र की एक आवासीय कॉलोनी में रहने वाली महिला ने रिपोर्ट दी है। इसमें उसने बताया कि उसकी शादी रामसागर अशोक कॉलोनी निवासी हरीश बामणिया के साथ हुई थी, लेकिन पिछले नौ साल से वह अपने पति से अलग रह रही है। इनके बीच तलाक का केस भी कोर्ट में चल रहा है। खुद का घर चलाने के लिए वह रामनगर व अन्य इलाकों में लोगों के घरों में खाना बनाने का काम करती है। पति-पत्नी के बीच विवाद की वजह से हरीश उसके साथ रंजिश रखता है।

 

एटीएम से निकलते ही युवती से की गई थी बदसलूकी और मारपीट: बुधवार रात करीब पौने दस बजे वह हाउसिंग बोर्ड पीएफ ऑफिस के सामने स्थित पालीवाल फिलिंग स्टेशन पर लगे एटीएम से रुपए निकालने गई थी। यहां से दो सौ रुपए निकाल वह वापस रवाना हुई, तभी एक बाइक पर सवार हरीश और उसके साथी अनु ने उसका रास्ता रोक लिया और बदसलूकी करने लगे। मारपीट से बचने के लिए पीड़िता अपनी एक्टिवा वहीं छोड़कर पेट्रोल पंप के निकट की गली में भाग गई। इसके बाद दोनों बदमाशों ने महिला की एक्टिवा को पत्थरों से तोड़ा और कुछ देर बाद उस पर ज्वलनशील पदार्थ डालकर आग लगा दी। आधी जली गाड़ी बाद में पुलिस थाने ले गई। घटना के अगले दिन सुबह महिला चौहाबो थाने पहुंची। 

--Advertisement--

टॉप न्यूज़और देखें

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

--Advertisement--

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें