राजस्थान / कोटा जेल में कैदी की संदिग्ध हालत में मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

  • जेल अस्पताल के स्टाफ ने उसे एमबीएस अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां उसकी मौत हो गई

Dainik Bhaskar

Feb 19, 2019, 05:26 PM IST

कोटा. हत्या के प्रयास के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे कुन्हाड़ी निवासी निखिल सिंह राजावत उर्फ भवानी की सोमवार को सेंट्रल जेल में मौत हो गई। वो रविवार रात सोया था और सोमवार सुबह करीब 9.45 बजे जेल में उसकी तबीयत खराब हो गई। जेल अस्पताल के स्टाफ ने उसे एमबीएस अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां उसकी मौत हो गई। परिजनों ने जेल प्रशासन पर आरोप लगाते हुए हंगामा कर दिया। मामले की न्यायिक जांच होगी।

ये आरोप लगाए बंदी के पिता ने : पिता दौलत सिंह राजावत ने आरोप लगाया कि जेल प्रशासन ने उसके बेटे से 1 लाख रुपए मांगे थे। पैसे नहीं देने पर उसकी हत्या कर दी गई। जेल में उससे मारपीट होती थी, जिससे उसके सिर में टांके आए थे। उसने परेशान होकर जेल में भूख हड़ताल भी की थी। निखिल ने रविवार रात को हमसे मोबाइल पर बात की थी, तब तक उसकी तबीयत ठीक थी।

2016 में की थी फायरिंग: निखिल ने 4 जुलाई 2016 को कुन्हाड़ी में पंकज गौड़ नामक युवक को सरेआम गोली मारकर घायल कर दिया था। उसे आजीवन कारावास की सजा हुई थी। जेल रिकॉर्ड अनुसार निखिल हार्डकोर बदमाश था।

एक लाख रुपए मांगने और नहीं देने पर हत्या करने के आरोप झूठे हैं। जेल में मोबाइल से बात हुई, यह तो परिजन बता रहे हैं। वो बताएं कि जेल में निखिल के पास मोबाइल कैसे आया? -सुमन मालीवाल, जेल अधीक्षक

Share
Next Story

पेंग्विन हाइट्स प्राइमरी स्कूल का उद्‌घाटन

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News