Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जिले के 6 प्रमुख कॉलेजों में से 2 ABVP व 2 NSUI के अध्यक्ष, 2 छात्राएं भी बनीं प्रेसिडेंट, 20 वोट से भी जीत

जयनारायण व्यास यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों के चुनाव परिणाम मंगलवार को घोषित हुए। जिले के छह प्रमुख कॉलेजों में...

Bhaskar News Network | Sep 12, 2018, 05:45 AM IST
जयनारायण व्यास यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों के चुनाव परिणाम मंगलवार को घोषित हुए। जिले के छह प्रमुख कॉलेजों में से 2 में एबीवीपी प्रत्याशी और 2 में एनएसयूआई प्रत्याशी अध्यक्ष बने। इसमें बिलाड़ा के डॉ. बीआर अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय व बालेसर के राजकीय महाविद्यालय में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के उम्मीदवार जीते। उधर, भोपालगढ़ के परसराम मदेरणा राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय व ओसियां के राजकीय पीजी महाविद्यालय में एनएसयूआई प्रत्याशी विजयी रहे। एक-एक कॉलेज में किसान छात्रसंघ और एसएफआई प्रत्याशी भी अध्यक्ष बने। इनमें पीपाड़ के राजकीय कन्या महाविद्यालय में किसान छात्रसंघ व फलोदी के जयनारायण मोहनलाल पुरोहित राजकीय पीजी कॉलेज में अध्यक्ष पद पर एसएफआई प्रत्याशी ने जीत दर्ज की। यहां दो पदों पर एबीवीपी व दो पदों पर एसएफआई जीती। हालांकि बिलाड़ा राजकीय महाविद्यालय में एबीवीपी का पूरा पैनल जीत गया। भोपालगढ़ के राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय एवं पीपाड़ राजकीय कन्या महाविद्यालय में छात्राएं अध्यक्ष बनीं। भोपालगढ़ कॉलेज के इतिहास में पहली बार लीला चौधरी के रूप में कोई छात्रा अध्यक्ष बनी। सबसे बड़ी जीत फलौदी के जयनारायण मोहनलाल पुरोहित राजकीय पीजी कॉलेज में एसएफआई के सोहनलाल विश्नोई की रही। उन्होंने निकटतम प्रतिद्वंद्वी एबीवीपी के गिरीश थानवी को 333 वोटों से हराया। सबसे नजदीकी जीत बिलाड़ा राजकीय महाविद्यालय में एबीवीपी प्रत्याशी महेंद्र की रही। उन्होंने ममता चौधरी को 20 वोट से हराया। उधर परिणामों के बाद बिलाड़ा के एनएसयूआई ब्लॉक अध्यक्ष किशोर पूनिया ने पद से इस्तीफा दे दिया।

बिलाड़ा: अध्यक्ष पद की दावेदार हारी तो बोली- मेरी नहीं सभी लड़कियों की हार

अध्यक्ष पद का चुनाव हारने वाली ममता ने मतगणना के बाद भास्कर संवाददाता से कहा कि यह मेरी हार नहीं, कॉलेज की सभी लड़कियों की हार है। ममता ने परिणाम की घोषणा के बाद सभी विजेताओं को बधाई दी और अध्यक्ष विजेता महेंद्र को कहा कि छात्रहितों का हमेशा ध्यान रखना। ज्ञात रहे कि महाविद्यालय में 265 छात्राएं व 264 छात्र है, जबकि ममता चौधरी केवल 20 वोटों से हारी हैं।

गायत्री चौधरी निर्विरोध कक्षा प्रतिनिधि बनी

डॉ. बीआर अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय बिलाड़ा में चाराें पदों पर एबीवीपी ने परचम लहराया। वही एक मात्र कक्षा प्रतिनिधि का नामांकन भरने वाली गायत्री चौहान को निर्विरोध विजेता घोषित किया गया।

फलोदी: जयनारायण मोहनलाल पुरोहित, पीजी कॉलेज

स्टॉफ की कमी को दूर करने के प्रयास, एनसीसी शुरू करने,विज्ञान संकाय में गणित विषय शुरू करवाने,खेल मैदान तैयार करवा कर उसमें नियमित खेल गतिविधियां शुरू करवाने, पुस्तकालय में पुस्तकों की संख्या में बढोतरी करने, कॉलेज में नियमित व सुचारू कक्षाओं का संचालन

वोटर

एबीवीपी के उपाध्यक्ष व महासचिव बने, वहीं अध्यक्ष व सं सचिव एसएफआई के रहे।

भोपालगढ़: परसराम मदेरणा स्नातकोत्तर महाविद्यालय

कॉलेज के इतिहास में पहली बार लीला चौधरी के रूप में कोई छात्रा अध्यक्ष बनी है। लीला कि प्राथमिकताओं में कॉलेज में व्याख्याताओं के रिक्त पदों पर िनयुक्ति करवाना, छात्र-छात्राओं की हर समस्या के समाधान का प्रयास रहेगा। महाविद्यालय के विकास के लिए जो जरूरी कदम होगा वह उठाया।

वोटर

एनएसयूआई दो पदों पर विजयी। वहीं निर्दलीय व एसएफआई को एक-एक पद मिला।

अध्यक्ष

सोहनलाल विश्नोई (एसएफआई)

698 वोट मिले

गिरीश थानवी (एबीवीपी)

365 वोट मिले

प्राथमिकता

उपाध्यक्ष

सिद्धि राजपुरोहित (एबीवीपी)

608 वोट मिले

रणजीत कुमार (एसएफआई)

551 वोट मिले

महासचिव

नजदीकी प्रतिद्वंदी

नजदीकी प्रतिद्वंदी

नरेंद्र पुरोहित (एबीवीपी)

677 वोट मिले

जगदीश (एसएफआई)

स. सचिव

मत पड़े

मत पड़े

नजदीकी प्रतिद्वंदी

निर्मला भील (एसएफआई)

728 वोट मिले

भागीरथ मेघवाल (एबीवीपी)

अध्यक्ष

लीला चौधरी (एनएसयूआई)

472 वोट मिले

उपाध्यक्ष

महासचिव

मनफूलसिंह (एसएफआई)

361 वोट मिले

प्राथमिकता

बसंती प्रजापत (निर्दलीय)

391 वोट मिले

अशोक कुमार (एनएसयूआई)

332 वोट मिले

रामरख सुथार (एनएसयूआई)

407 वोट मिले

नीतू फुलवारिया (एसएफआई)

स. सचिव

अमरचंद (एसएफआई)

निर्विरोध विजेता

जीत का अंतर 333

पंकज व्यास (एनएसयूआई)

261 वोट मिले

जीत का अंतर 57

गोरधनराम (एनएसयूआई)

168 वोट मिले

जीत का अंतर 32

645 वोट मिले

जीत का अंतर 145

नजदीकी प्रतिद्वंदी

70.20% कुल वोटिंग

583 वोट मिले

नजदीकी प्रतिद्वंदी

4 पदों के लिए 10 उम्मीदवार थे

जीत का अंतर 111

जीत का अंतर 59

नजदीकी प्रतिद्वंदी

दयालराम (एसएफआई)

62 वोट मिले

जीत का अंतर 34

नजदीकी प्रतिद्वंदी

57.93% कुल वोटिंग

373 वोट मिले

3 पदों के लिए 7 उम्मीदवार थे

बिलाड़ा : डॉ. बीआर अंबेडकर राजकीय महाविद्यालय

अध्यक्ष महेंद्र ने जीतने के बाद बताया कि छात्र हितों को हमेशा प्राथमिकता दी जाएगी। महाविद्यालय में विज्ञान संकाय प्रारंभ करवाना और क्रमोन्नत कर स्नातकोत्तर करवाने के साथ-साथ सीटें बढाने के लिए पूरा प्रयास करूंगा।

वोटर

बिलाड़ा से पूरा पैनल एबीवीपी से जीता।

ओसियां : राजकीय पीजी महाविद्यालय

उमेश चौधरी ने बताया कि चुनाव जीतने के बाद पहली प्राथमिकता कॉलेज में विद्यार्थियों की पढ़ाई के लिए नियमित कक्षाएं लगवाना की कोशिश रहेगी। व्याख्याताओं के िरक्त पदों पर स्थाई नियुक्ति की मांग व ऐसा नहीं होने पर संविदा पर व्याख्याता लगाने की कोशिश होगी।

वोटर

कुल चार पदों में से दो में एनएसयूआई व दो पर एबीवीपी के उम्मीदवार जीते।

अध्यक्ष

महेंद्र (एबीवीपी)

236 वोट मिले

ममता चौधरी (एनएसयूआई)

216 वोट मिले

अध्यक्ष

नजदीकी प्रतिद्वंदी

प्राथमिकता

उपाध्यक्ष

ज्योति प्रजापत (एबीवीपी)

292 वोट मिले

महासचिव

रिया मुलेवा (एबीवीपी)

305 वोट मिले

मधु कुमावत (एनएसयूआई)

स. सचिव

शैलेष (एबीवीपी)

253 वोट मिले

रिद्धि पटेल (एनएसयूआई)

मत पड़े

उपाध्यक्ष

महासचिव

स. सचिव

मत पड़े

जीत का अंतर 20

जीत का अंतर 134

नजदीकी प्रतिद्वंदी

पूजा राव (एनएसयूआई)

158 वोट मिले

जीत का अंतर 157

नजदीकी प्रतिद्वंदी

जीत का अंतर 59

नजदीकी प्रतिद्वंदी

88.47% कुल वोटिंग

उमेश चौधरी (एनएसयूआई)

446 वोट मिले

गणपतराम (एबीवीपी)

286 वोट मिले

नजदीकी प्रतिद्वंदी

प्राथमिकता

पूजा विश्नोई (एनएसयूआई)

275 वोट मिले

आरती (एसएफआई)

प्रकाश (एनएसयूआई)

148 वोट मिले

194 वोट मिले

जीत का अंतर 160

जीत का अंतर 31

नजदीकी प्रतिद्वंदी

मोतीराम (निर्दलीय)

244 वोट मिले

जीतूराम (एनएसयूआई)

377 वोट मिले

पुन्नी देवी (एबीवीपी)

352 वोट मिले

महेंद्र (निर्दलीय)

10 वोट मिले

4 पदों के लिए 9 उम्मीदवार थे

किशनसिंह (एसएफआई)

163 वोट मिले

मंगलाराम (एबीवीपी)

195 वोट मिले

जीत का अंतर 116

नजदीकी प्रतिद्वंदी

261 वोट मिले

जीत का अंतर 37

नजदीकी प्रतिद्वंदी

93.05% कुल वोटिंग

315 वोट मिले

4 पदों के लिए 13 उम्मीदवार थे

पीपाड़ : राजकीय कन्या महाविद्यालय

अध्यक्ष के रूप में उनकी सबसे पहली प्राथमिकता महाविद्यालय में रिक्त पड़े लेक्चरार के पदों को भरवाना ताकि सुचारू रूप से शिक्षण कार्य हो सके। साथ ही निर्माणाधीन कन्या हॉस्टल को तय समय में चालू करवाना, छात्र हित के लिए हर तरह के प्रयास करना।

वोटर

किसान छात्रसंघ ने 3 सीट जीती- एनएसयूआई ने एक सीट महासचिव की जीती।

बालेसर: राजकीय महाविद्यालय

अध्यक्ष विष्णु सांखला ने बताया की मेरी सबसे पहली प्राथमिकता राजकीय महाविद्यालय को यूजी से पीजी में क्रमोन्नत करवाना। एनसीसी शुरू करवाना। व्याख्याताओं के रिक्त पदों पर नियुक्ति। महाविद्यालय की चारदिवारी व सीसीटीवी कैमरे लगवाने का कार्य कराना।

वोटर

4 पदों के लिए हुए चुनाव में 3 में एबीवीपी ने बाजी मारी वहीं एक पद पर एनएसयूआई जीती।

अध्यक्ष

मत पड़े

मत पड़े

लीला चौधरी (किसान छात्र संघ)

257 वोट मिले

ममता भाटी (एनएसयूआई)

214 वोट मिले

प्राथमिकता

उपाध्यक्ष

पुष्पा विश्नोई (किसान छात्रसंघ)

259 वोट मिले

मनोज सोनेल (एनएसयूआई)

231 वोट मिले

महासचिव

निकिता वैष्णव (एनएसयूआई)

278 वोट मिले

संहिता (किसान छात्र संघ)

स. सचिव

नजदीकी प्रतिद्वंदी

नजदीकी प्रतिद्वंदी

नजदीकी प्रतिद्वंदी

ज्योति सिसोदिया (किसान छात्र संघ)

260 वोट मिले

आरती (एनएसयूआई)

अध्यक्ष

नजदीकी प्रतिद्वंदी

77.27% कुल वोटिंग

विष्णु सांखला (एबीवीपी)

222 वोट मिले

तुलछाराम (एनएसयूआई)

157 वोट मिले

उपाध्यक्ष

नजदीकी प्रतिद्वंदी

प्राथमिकता

लक्ष्मणराम (एनएसयूआई)

192 वोट मिले

मनीषा (निर्दलीय)

158 वोट मिले

महासचिव

लक्ष्मण सोलंकी (एबीवीपी)

281 वोट मिले

मिश्रीलाल (एनएसयूआई)

स. सचिव

जीत का अंतर 43

जीत का अंतर 28

जीत का अंतर 38

240 वोट मिले

जीत का अंतर 10

250 वोट मिले

जीत का अंतर 65

जीत का अंतर 34

नजदीकी प्रतिद्वंदी

अनिता (एबीवीपी)

110 वोट मिले

जीत का अंतर 108

नजदीकी प्रतिद्वंदी

गेनसिंह इंदा (एबीवीपी)

निर्विरोध विजेता

87.15% कुल वोटिंग

पूजा गहलोत (एबीवीपी)

119 वोट मिले

ममता (िनर्दलीय)

159 वोट मिले

4 पदों के लिए 13 उम्मीदवार थे

सरिता (निर्दलीय)

91 वोट मिले

173 वोट मिले

3 पदों के लिए 8 उम्मीदवार थे

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें