Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

तीर्थ दर्शन / देवी पार्वती ने लगाया था यहां वटवृक्ष, मुगलों के कटवाने के बाद फिर से हरा-भरा हो गया पेड़

Dainik Bhaskar

Sep 25, 2018, 03:50 PM IST

रिलिजन डेस्क. 16 दिनों तक चलने वाले श्राद्ध पक्ष में लोग अपने घरों में तो पूजा आदि करते ही हैं, साथ ही पवित्र तीर्थों पर भी अपने पितरों की आत्मा की शांति के लिए तर्पण, पिंडदान करते हैं। हमारे देश में अनेक ऐसे तीर्थ हैं जो पिंडदान, तर्पण आदि के लिए प्रसिद्ध हैं। ऐसा ही एक स्थान है उज्जैन का सिद्धनाथ तीर्थ। इसे प्रेतशीला तीर्थ भी कहा जाता है। यहां दूर-दूर से लोग अपने पितरों का तर्पण करने आते हैं। तीर्थ पुरोहित पंडा समिति के अध्यक्ष पं. राजेश त्रिवेदी के अनुसार, यहां लगभग 150 परिवारों से जुड़े 700 पुजारी तर्पण, श्राद्ध आदि करवाते हैं।

Share
Next Story

आस्था / गया का विश्व प्रसिद्ध पितृपक्ष मेला शुरू, 17 दिनों तक चलने वाले मेले में लाखों लोग होंगे शामिल

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News