ऑस्ट्रेलिया / महिला क्रिकेटर एमिली स्मिथ पर लगा 1 साल का बैन, इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया था प्लेइंग-11

एमिली स्मिथ। ( फाइल फोटो)

  • बिग बैश लीग में होबार्ट हरीकेन के लिए खेलती हैं एमिली
  • सिडनी थंडर के खिलाफ मैच से पहलेपोस्ट किया था वीडियो
  • सीए ने एंटी करप्शन कोड के उल्लंघन का दोषी पाया

Dainik Bhaskar

Nov 18, 2019, 05:39 PM IST

होबार्ट(ऑस्ट्रेलिया). क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया(सीए) ने बिग बैश लीग में खेल रही महिला क्रिकेटर एमिली स्मिथ पर एक साल का बैन लगा दिया है। एमिली ने मैच से एक घंटे पहले ही अपनी टीम का प्लेइंग इलेवन इंस्टाग्राम अकाउंट पर पोस्ट कर दिया था। सीए ने स्मिथ की इस हरकत को एंटी करप्शन कोड का उल्लंघन माना और उन्हें एक साल के लिए बैन कर दिया।

एमिली ने सीए के एंटी करप्शन कोड के आर्टिकल 2.3.2 के उल्लंघन के लिए सजा स्वीकार कर ली है। वो 1 साल तक क्रिकेट के किसी भी फॉर्मेट में खेलने के लिए अयोग्य होंगी। हालांकि सीए ने इसमें से 9 महीने की सजा कम कर दी है। फिर भी वो 3 महीने तक क्रिकेट नहीं खेल पाएंगी। इसका मतलब वो वीमेंस बिग बैश लीग( डब्ल्यूबीबीएल) के बाकी मचे मुकाबलों में नजर नहीं आएंगी।

एमिली ने मैच से पहले वीडियो पोस्ट किया था

होबार्ट हरीकेन की विकेटकीपर स्मिथ ने दो नवंबर को खिलाड़ियों और मैच ऑफिशियल के लिए सीमित क्षेत्र (पीएमओए) के अंदर बनाया गया एक वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया था। सिडनी थंडर के खिलाफ होने वाले मैच से 1 घंटे पहले किए गए इस पोस्ट में प्लेइंग-11 से जुड़ी जानकारी थी। जो क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के एंटी करप्शन कोड का सीधे-सीधे उल्लंघन था। हालांकि बारिश के चलते मैच में टॉस तक नहीं हो पाया था। फिर भी सीए ने इसे गंभीर मानते हुए महिला क्रिकेटर पर कार्रवाई की।

सीए ने कहा-सट्‌टेबाज इसका इस्तेमाल कर सकते थे

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अपने बयान में कहा कि, स्मिथ ने एंटी करप्शन कोड के आर्टिकल 2.3.2 का उल्लंघन किया है। इसके तहत उन्होंने टीम के अंदर की जानकारी लीक की है। इसका इस्तेमाल सट्‌टेबाजी में हो सकता था। सीए के एंटी करप्शन कोड का आर्टिकल 2.3.2 किसी भी व्यक्ति को टीम के अंदर की जानकारी देने पर रोक लगाता है। फिर चाहें जानकारी किसी लालच में दी गई होगा या गलती से।

Share
Next Story

आईपीएल / जहीर खान बोले- चोटिल गेंदबाजों के चलते खिलाड़ी ट्रेड करने पड़े

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News