पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
Open Dainik Bhaskar in...
Browser
Loading advertisement...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अफरीदी के रिकॉर्ड में सचिन का हाथ:पूर्व गेंदबाज महमूद का खुलासा- सचिन के बल्ले से अफरीदी ने वनडे में लगाया था सबसे तेज शतक, इसी पारी से बतौर बल्लेबाज उनकी पहचान बनी

नई दिल्ली5 महीने पहले
शाहिद अफरीदी ने 1996 में श्रीलंका के खिलाफ 37 गेंद पर सेंचुरी पूरी की थी। आउट होने से पहले उन्होंने 104 रन बनाए थे। इस पारी में उन्होंने 11 छक्के और 6 चौके लगाए थे। -फाइल
  • शाहिद अफरीदी का वनडे में सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड 2014 में टूटा, तब न्यूजीलैंड के कोरी एंडरसन ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 36 गेंद पर सेंचुरी पूरी की थी
  • अजहर महमूद ने 'द ग्रेटेस्ट राइवलरी' पॉडकास्ट में बताया कि सचिन तेंदुलकर ने वकार युनूस को नया बैट बनवाने के लिए अपना यह बल्ला सैंपल के तौर पर दिया था
Loading advertisement...

पाकिस्तान के पूर्व बल्लेबाज शाहिद अफरीदी ने 1996 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे क्रिकेट में सबसे तेज शतक लगाया था। तब उन्होंने 36 गेंद पर सेंचुरी पूरी की थी। उनकी इस पारी को लेकर पूर्व साथी खिलाड़ी अजहर महमूद ने दिलचस्प खुलासा किया है। उन्होंने द 'ग्रेटेस्ट राइवलरी' पॉड कास्ट में बताया कि अफरीदी ने सबसे तेज शतक अपने बल्ले से नहीं, बल्कि सचिन तेंदुलकर के बैट से लगाया था। जो उन्हें वकार युनूस ने दिया था। दरअसल, सचिन ने युनूस को नया बैट बनवाने के लिए अपना यह पुराना बल्ला सैंपल के तौर पर दिया था।

अफरीदी का वनडे मेें सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड 18 साल तक बरकरार रहा। 2014 में न्यूजीलैंड के ऑलराउंडर कोरी एंडरसन ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 36 गेंद पर सेंचुरी लगाकर इस रिकॉर्ड को तोड़ दिया।

वसीम अकरम ने अफरीदी को टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी कराने का फैसला लिया था: महमूद

महमूद ने बताया कि अफरीदी को डेब्यू मैच में नंबर-6 पर बल्लेबाजी करने के लिए रखा गया था, लेकिन उसे मौका नहीं मिला। इसके बाद श्रीलंका की ओर से सनथ जयसूर्या और रोमेश कालूवितर्णा की बल्लेबाजी देखकर पाकिस्तान के टीम मैनेजमेंट ने अफरीदी से टॉप ऑर्डर में बल्लेबाजी कराने का फैसला लिया। तब वसीम अकरम ने मुझे और अफरीदी को चुना और नेट्स पर लंबे-लंबे शॉट्स लगाने की प्रैक्टिस करने को कहा। नेट्स में अफरीदी ने स्पिनर्स की गेंदबाजी पर लंबे छक्के लगाए।

'सबसे तेज शतक लगाने के बाद अफरीदी की पहचान बल्लेबाज के रूप में बनीं'

पूर्व गेंदबाज महमूद ने पॉड कास्ट में आगे बताया कि श्रीलंका के खिलाफ अगले मैच में जब 60 रन पर पाकिस्तान का पहला विकेट गिरा, तो टीम मैनेजमेंट ने अफरीदी को नंबर-3 पर बल्लेबाजी के लिए भेजा। उन्होंने 11 छक्के और 6 चौकों की मदद से सिर्फ 37 गेंदों में शतक लगा डाला। इस पारी के बाद बतौर बल्लेबाज उनकी पहचान बनी। वैसे उन्हें टीम में ऐसे गेंदबाज के रूप में ही शामिल किया गया था, जो मौका पड़ने पर लंबे शॉट्स लगाने की काबिलियत रखता था। तब अफरीदी ने 40 गेंदों पर 104 रन बनाए थे।

इसके बाद अफरीदी ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और आगे चलकर वनडे में पाकिस्तान के सबसे बड़े खिलाड़ी बने। उन्होंने 2011 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भारत के खिलाफ कप्तानी भी की।

अफरीदी ने वनडे में 8064 रन बनाए
अफरीदी ने पाकिस्तान के लिए 398 वनडे और 27 टेस्ट खेले। इसमें उन्होंने 8064 और 1716 रन बनाए। इसके अलावा उन्होंने 99 टी-20 में 150 की स्ट्राइक रेट से 1416 रन बनाए। उनके तीनों फॉर्मेट में 11 शतक हैं।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved

This website follows the DNPA Code of Ethics.