पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
Loading advertisement...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ब्रिस्बेन टेस्ट का तीसरा दिन:भारत ने पहली पारी में 336 रन बनाए, शार्दूल-सुंदर ने 123 रन जोड़े, ऑस्ट्रेलिया को अब तक 54 रन की बढ़त

ब्रिस्बेन2 महीने पहले
Loading advertisement...
Open Dainik Bhaskar in...
Browser

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिस्बेन में चौथा और आखिरी टेस्ट खेला जा रहा है। तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक ऑस्ट्रेलिया ने दूसरी पारी में बिना कोई विकेट गंवाए 21 रन बना लिए हैं। डेविड वॉर्नर (20 रन) और मार्कस हैरिस (1 रन) नाबाद हैं। मैच का स्कोरकार्ड देखने के लिए यहां क्लिक करें...

ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाए थे। जवाब में शार्दूल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने 7वें विकेट के लिए 123 रन की पार्टनरशिप की। इसकी बदौलत टीम इंडिया ने पहली पारी में 336 रन बनाए। पहली पारी और दूसरी पारी मिलाकर ऑस्ट्रेलिया ने अब तक भारत पर 54 रन की बढ़त ले ली है।

शार्दूल-सुंदर ने भारतीय पारी को संभाला
टीम इंडिया ने तीसरे दिन 2 विकेट पर 62 रन से आगे खेलना शुरू किया। एक समय टीम ने 186 रन पर 6 विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद शार्दूल ठाकुर और वॉशिंगटन सुंदर ने भारतीय पारी को संभाला और रिकॉर्ड साझेदारी कर डाली। दोनों ने 7वें विकेट के लिए 217 बॉल पर 123 रन की पार्टनरशिप की। ऑस्ट्रेलिया में शतकीय साझेदारी करने वाली यह भारत की चौथी जोड़ी है।

ऑस्ट्रेलिया में 7वें विकेट के लिए भारतीय बल्लेबाजों की 100+ रन की पार्टनरशिप

पार्टनरशिप (रन) बल्लेबाज जगह साल
204 ऋषभ पंत-रविंद्र जडेजा सिडनी 2018/19
132 एच अधिकारी-विजय हजारे एडिलेड 1947/48
123 वॉशिंगटन सुंदर-शार्दूल ठाकुर ब्रिस्बेन 2020/21
101 मोहम्मद अजहरुद्दीन-मनोज प्रभाकर एडिलेड 1991/92

यह पिछले दो साल में 7वें विकेट के लिए भारत की पहली 50 से ज्यादा रन की साझेदारी है। इससे पहले जनवरी, 2019 में ऋषभ पंत और रविंद्र जडेजा ने सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (SCG) पर 7वें विकेट के लिए 204 रन की पार्टनरशिप की थी। पैट कमिंस ने शार्दूल को क्लीन बोल्ड किया। वे 67 रन बनाकर आउट हुए। इस दौरान उन्होंने 9 चौके और 2 छक्के लगाए।

स्टार्क ने सुंदर को आउट किया
मिचेल स्टार्क ने वॉशिंगटन सुंदर को कैमरून ग्रीन के हाथों कैच कराया। वे 62 रन बनाकर आउट हुए। नवदीप सैनी को हेजलवुड ने स्टीव स्मिथ के हाथों कैच कराया। जोश हेजलवुड ने मोहम्मद सिराज को आउट कर भारतीय पारी को समेट दिया। सिराज 13 रन बनाकर आउट हुए। ऑस्ट्रेलियाई टीम ने पहली पारी में 369 रन बनाए थे।

हेजलवुड को 5 विकेट
ऑस्ट्रेलिया की ओर से हेजलवुड ने 5 विकेट लिए। उन्होंने चेतेश्वर पुजारा, मयंक अग्रवाल, ऋषभ पंत, नवदीप सैनी और मोहम्मद सिराज को आउट किया। जबकि, कमिंस और स्टार्क को 2-2 विकेट मिले। नाथन लियोन ने 1 विकेट लिया।

शार्दूल ने सिक्स लगाकर फिफ्टी पूरी की
शार्दूल ने सिक्स लगाकर अपने टेस्ट करियर की पहली फिफ्टी पूरी की। यह उनका टेस्ट में हाईएस्ट स्कोर है। इससे पहले उनका हाईएस्ट स्कोर 4 रन था। वहीं, सुंदर ने भी अपने डेब्यू टेस्ट में फिफ्टी लगाई।

वाका पर 20 साल बाद 8वें नंबर के बल्लेबाज ने फिफ्टी लगाई
ब्रिस्बेन में 20 साल बाद 8वें या इससे नीचे के बल्लेबाज ने अर्धशतक बनाया। शार्दूल से पहले 1991 में पाकिस्तान के मोइन खान ने ब्रिस्बेन के वाका ग्राउंड पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 61 रन की पारी खेली थी। शार्दूल ने मनोज प्रभाकर के रिकॉर्ड की बराबरी भी की।

ब्रिस्बेन में 8वें या इससे नीचे के बल्लेबाजों द्वारा सबसे ज्यादा रन

बल्लेबाज रन बनाए खिलाफ साल
शार्दूल ठाकुर 67 ऑस्ट्रेलिया 15 जनवरी, 2020/21
मोइन खान 61 ऑस्ट्रेलिया 5 नवंबर, 1999
मनोज प्रभाकर 54 ऑस्ट्रेलिया 29 नवंबर, 1991
जे.आर रत्नायके 56 ऑस्ट्रेलिया 8 दिसंबर, 1989
सर रिचर्ड हेडली 54 ऑस्ट्रेलिया 8 नवंबर, 1985

सुंदर ने 73 साल पुराने रिकॉर्ड की बराबरी की
सुंदर डेब्यू टेस्ट की पहली पारी में 50+ रन बनाने और 3 विकेट लेने वाले भारत के दूसरे खिलाड़ी बन गए। इससे पहले यह रिकॉर्ड दत्तू फाडकर के नाम था। उन्होंने 1947/48 में डेब्यू टेस्ट की पहली पारी में 51 रन बनाए थे और 3 विकेट लिया था। ओवरऑल टेस्ट डेब्यू में 50+ रन और 3 विकेट लेने वाले सुंदर भारत के तीसरे प्लेयर हैं।

टेस्ट डेब्यू में 50+ रन और 3 विकेट लेने वाले भारतीय प्लेयर

प्लेयर रन विकेट
दत्तू फाडकर 51 14/3
हनुमा विहारी 56 37/3
वॉशिंगटन सुंदर 62 89/3

एक ही पारी में 7वें और 8वें नंबर के बल्लेबाज ने लगाई फिफ्टी
1982 के बाद पहली बार भारत के 7वें और 8वें नंबर के बल्लेबाज ने टेस्ट की एक पारी में फिफ्टी लगाई। इससे पहले 1982 में संदीप पाटिल (129* रन) और कपिल देव (65 रन) ने मैनचेस्टर में एक ही पारी में फिफ्टी लगाई थी।

भारत के लिए 7वें नंबर पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज

बल्लेबाज रन खिलाफ जगह साल
राहुल द्रविड़ 95 इंग्लैंड लॉर्ड्स 1996
युवराज ऑफ पटियाला 84 न्यूजीलैंड दिल्ली 1955
बापू नादकनी 68 इंग्लैंड चेन्नई 1934
वॉशिंगटन सुंदर 62 ऑस्ट्रेलिया ब्रिस्बेन 2020/21
दिलावर हुसैन 57 इंग्लैंड कोलकाता 1934
विजय मांजरेकर 48 इंग्लैंड कोलकाता 1951

हेजलवुड ने पंत को आउट किया
हेजलवुड ने पंत को आउट कर टीम इंडिया को 6वां झटका दिया। पंत का कैच कैमरून ग्रीन ने लिया। वे 23 रन बनाकर आउट हुए। लंच के बाद पहले ही ओवर में हेजलवुड ने मयंक अग्रवाल को स्मिथ के हाथों कैच कराया था। वे 38 रन बनाकर आउट हुए। वहीं, स्टार्क ने कप्तान अजिंक्य रहाणे को मैथ्यू वेड के हाथों कैच कराया। वे 37 रन बनाकर आउट हुए। रहाणे और मयंक ने चौथे विकेट के लिए 97 गेंदों पर 39 रन की पार्टनरशिप की।

रहाणे-पुजारा के बीच 45 रन की पार्टनरशिप
इससे पहले हेजलवुड ने भारत को तीसरे दिन का पहला झटका दिया। उन्होंने चेतेश्वर पुजारा (25 रन) को टिम पेन के हाथों कैच कराया। पुजारा और रहाणे के बीच तीसरे विकेट के लिए 114 बॉल पर 45 रन की पार्टनरशिप हुई।

एशिया से बाहर पुजारा-रहाणे का खराब रिकॉर्ड
एशिया से बाहर 18 इनिंग्स में पुजारा और रहाणे के बीच औसतन 25.22 रन की साझेदारी हुई है। एशिया से बाहर इन दोनों ने सिर्फ एक बार 50+ रन की पार्टनरशिप की है। एडिलेड में 2018/19 में उन्होंने 87 रन की पार्टनरशिप की थी। एशिया में 15 पारियों में इन दोनों के बीच औसतन 65.42 रन की पार्टनरशिप हुई। इसमें 4 शतकीय साझेदारी भी शामिल है।

एशिया से बाहर एशिया में
रहाणे-पुजारा ने 25.22 की औसत से रन बनाए रहाणे-पुजारा ने 65.42 की औसत से रन बनाए

टीम इंडिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही
ब्रिस्बेन टेस्ट का दूसरा दिन बारिश के कारण धुल गया था। दूसरे दिन टी-टाइम के बाद का खेल नहीं हो सका। भारत ने दूसरे दिन 2 विकेट पर 62 रन बनाए थे। भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी। टीम ने 11 रन पर ही पहला विकेट गंवा दिया था।

ओपनर शुभमन गिल 7 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। उन्हें तेज गेंदबाज पैट कमिंस ने स्लिप में स्टीव स्मिथ के हाथों कैच आउट कराया। टीम इंडिया को दूसरा झटका 60 रन के स्कोर पर लगा। रोहित शर्मा 44 रन बनाकर आउट हुए। स्पिनर नाथन लियोन की बॉल पर मिचेल स्टार्क ने उनका कैच लिया। लियोन का यह 100वां टेस्ट मैच है।

ब्रिस्बेन टेस्ट का दूसरा दिन: बारिश के कारण टी-टाइम के बाद मैच नहीं हो सका; डेब्यू टेस्ट में नटराजन और वॉशिंगटन को 3-3 विकेट

डेब्यू टेस्ट में नटराजन और वॉशिंगटन को 3-3 विकेट
ऑस्ट्रेलिया के लिए मार्नस लाबुशेन ने 204 बॉल पर सबसे ज्यादा 108 रन की पारी खेली। यह उनके टेस्ट करियर का 5वां शतक रहा। उनके अलावा कप्तान टिम पेन ने 50, कैमरून ग्रीन ने 47 और मैथ्यू वेड ने 45 रन की पारी खेली। वहीं, डेब्यू मैच खेल रहे तेज गेंदबाज टी नटराजन और स्पिनर वॉशिंगटन सुंदर ने 3-3 विकेट लिए। पेसर शार्दूल ठाकुर को भी 3 विकेट मिले।

भारत को लगातार 3 ओवर में 3 सफलता
दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया ने 5 विकेट पर 274 रन से आगे खेलना शुरू किया था। टिम पेन और कैमरून ग्रीन ने तेज शुरुआत दी और दोनों के बीच छठवें विकेट के लिए 98 रन की पार्टनरशिप हुई। ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 311 रन पर 5 विकेट ही था, लेकिन टीम ने आखिरी 58 रन बनाने में 5 विकेट गंवा दिए और 369 रन पर सिमट गई।

कप्तान टिम पेन फिफ्टी लगाकर आउट
कप्तान टिम पेन (50) टेस्ट करियर की 9वीं फिफ्टी लगाकर आउट हुए। शार्दूल ठाकुर की बॉल पर रोहित शर्मा ने उनका कैच लिया। कैमरून ग्रीन 47 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। डेब्यू मैच खेल रहे वॉशिंगटन सुंदर ने ग्रीन को क्लीन बोल्ड कर दिया। 8वें विकेट के तौर पर पैट कमिंस आउट हुए। शार्दूल ने उन्हें LBW किया।

ब्रिस्बेन में पहले दिन बराबरी का टेस्ट: लाबुशेन ने शतक जड़ा; डेब्यू मैच खेल रहे नटराजन ने 2 और वॉशिंगटन ने एक विकेट लिया

वॉर्नर पहले ही ओवर में आउट
पहले दिन टॉस जीतकर पहले बैटिंग करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की शुरुआत अच्छी नहीं रही थी। मैच के पहले ही ओवर में मोहम्मद सिराज ने पहला झटका दिया। ओपनर डेविड वॉर्नर एक रन बनाकर स्लिप में रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट हुए। दूसरा झटका शार्दूल ठाकुर ने अपने पहले और मैच के 9वें ओवर में दिया। उन्होंने ओपनर मार्कस हैरिस (5) को वॉशिंगटन सुंदर के हाथों कैच आउट कराया। ऑस्ट्रेलिया ने 17 रन पर 2 विकेट गंवा दिए थे।

इसके बाद स्टीव स्मिथ ने लाबुशेन के साथ तीसरे विकेट के लिए 70 रन की पार्टनरशिप कर पारी को संभाला। हालांकि, डेब्यूटेंट वॉशिंगटन ने करियर का पहला विकेट लेते हुए जोड़ी तोड़ दी। उन्होंने स्मिथ को 36 रन पर रोहित शर्मा के हाथों कैच आउट कराया।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...