Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

क्रिकेट/ 36 साल में 4 बार वर्ल्ड कप से पहले भारत का विदेशी दौरा; 2 बार फाइनल, 2 बार सेमीफाइनल में पहुंचे

Dainik Bhaskar | Jan 22, 2019, 09:11 AM IST
भारत ने न्यूजीलैंड में 2009 में पहली सीरीज जीती थी।

  • वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया का आखिरी विदेशी दौरा कल से
  • न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच वनडे और तीन टी-20 खेलेगी टीम इंडिया

Dainik Bhaskar

Jan 22, 2019, 09:11 AM IST

खेल डेस्क. टीम इंडिया का न्यूजीलैंड दौरा 23 जनवरी से शुरू हाे रहा है। टीम को वहां पांच वनडे और तीन टी20 मैच खेलने हैं। पहला वनडे 23 जनवरी को नेपियर में खेला जाएगा। हालांकि न्यूजीलैंड दौरे पर 2014 में खेली गई आखिरी सीरीज में हम 0-4 से हार गए थे। 30 मई से इंग्लैंड में होने वाले वर्ल्ड कप से पहले यह भारत का आखिरी विदेशी दौरा है। पिछले 36 साल में ऐसा पांचवीं बार है, जब टीम इंडिया वर्ल्ड कप से पहले विदेशी दौरा कर रही है।

 

2015 तक छह वर्ल्ड कप एशिया से बाहर हुए
यह वर्ल्ड कप की तैयारियों के लिहाज से तो अहम होता ही है। साथ ही टीम को इसका फायदा भी मिलता है। भारत 1983 में इंग्लैंड में पहली बार वर्ल्ड चैंपियन बना था। तब से 2015 तक छह वर्ल्ड कप एशिया के बाहर हुए। इसमें से चार वर्ल्ड कप के पहले टीम इंडिया ने तैयारी परखने के लिए विदेशी दौरे किए। इसका टीम को फायदा मिला।

 

 

भारत तीन बार वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचा
चार में से तीन बार टीम इंडिया कम से कम सेमीफाइनल तक तो पहुंची ही। एक बार चैंपियन बनी और एक बार रनरअप रही। टीम इंडिया ने अब तक दो बार वर्ल्ड कप का खिताब जीता है जबकि तीन बार फाइनल में पहुंचने में सफल रही है।

 

वर्ल्ड कप से पहले भारत का विदेशी दौरा

वेस्टइंडीज-पाक दोनों देशों में हारे, फिर भी वर्ल्ड कप जीते (1983): इंग्लैंड में हुए वर्ल्ड कप से पहले टीम पाक और वेस्टइंडीज के दौरे पर गई। पाक में सीरीज 1-3 से और वेस्टइंडीज में 1-2 से हार गई। इसके बाद भी टीम वर्ल्ड कप जीतने में सफल रही। ऑस्ट्रेलिया में सीरीज खेली, पर पहले राउंड में बाहर हुए (1992): ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड में खेले गए वर्ल्ड कप से टीम ने ऑस्ट्रेलिया में वर्ल्डसीरीज खेली। वर्ल्ड कप में भारत दो मुकाबले 10 रन के कम अंतर से हारकर सेमीफाइनल में नहीं पहुंचा। न्यूजीलैंड में 2-5 से वनडे हारे, वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचे (2003): द. अफ्रीका में खेले गए वर्ल्ड कप से टीम ने अंतिम वनडे सीरीज न्यूजीलैंड में खेली। 2-5 से हारे। इसके बाद टीम की आलोचना हुई। लेकिन टीम वर्ल्ड कप फाइनल में पहुंचने में सफल रही। ट्राई सीरीज हारे, लेकिन वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल तक पहुंचे (2015): ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड से हुए वर्ल्ड कप से पहले टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया में ट्राई सीरीज खेली। एक भी मैच नहीं जीत सके। इसके बाद टीम वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल तक पहुंची। विदेशी दौरा नहीं, पहले राउंड में बाहर (2007): 2007 का वर्ल्ड कप वेस्टइंडीज में खेला गया। इससे पहले दोनों वनडे सीरीज टीम इंडिया ने देश में ही खेलीं। दोनों जीते, लेकिन टीम वर्ल्ड के पहले ही राउंड में बाहर हो गई। वहीं 1999 का वर्ल्ड कप इंग्लैंड-वेल्स में हुआ। अंतिम सीरीज यूएई में खेली। वर्ल्ड कप के नॉकआउट में नहीं पहुंच सके। नोट: 1987, 1996 और 2011 वर्ल्ड के मैच एशियाई देशों में खेले गए।

 

भारत और न्यूजीलैंड के बीच 43 साल में आठवीं सीरीज, टीम इंडिया एक बार जीती
टीम इंडिया की यह न्यूजीलैंड में आठवीं द्विपक्षीय वनडे सीरीज है। दोनों के बीच पहली सीरीज 1976 में खेली गई थी। तब दो मैचों की सीरीज टीम इंडिया 0-2 से हार गई थी। सात द्विपक्षीय सीरीज में न्यूजीलैंड ने चार जबकि टीम इंडिया ने एक जीती है। दो सीरीज बराबर रही हैं। भारत को पहली बार 2009 में 3-1 से जीत मिली थी। न्यूजीलैंड के गेंदबाज हर 38वीं गेंद पर टीम इंडिया का एक विकेट लेते हैं।

 

 

भारत के खिलाफ होम ग्राउंड पर विभिन्न टीमों का स्ट्राइक रेट

टीम मैच विकेट स्ट्राइक रेट
न्यूजीलैंड 34 234 37.5
द. अफ्रीका 34 231 37.9
वेस्टइंडीज 36 226 41.2
ऑस्ट्रेलिया 51 335 41.7
इंग्लैंड 41 262 43.7

 

कोहली ने दो शतक लगाए तो सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले भारतीय बन जाएंगे
न्यूजीलैंड के खिलाफ सबसे ज्यादा छह शतक वीरेंद्र सहवाग ने लगाए हैं। वहीं कोहली ने पांच शतक लगाए हैं। यदि वे सीरीज में दो शतक लगाने में कामयाब रहे तो सहवाग को पीछे छोड़ देंगे। कोहली ने न्यूजीलैंड के खिलाफ 19 मैचों में 72 की औसत से 1154 रन बनाए हैं। इसमें छह अर्धशतक भी हैं। 

Recommended