पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

प्रधानमंत्री इमरान की सरफराज को सलाह- टीम में वापसी के लिए घरेलू क्रिकेट पर ध्यान दें

9 महीने पहले
सरफराज अहमद। ( फाइल फोटो)
  • घरेलू टी20 सीरीज में श्रीलंका से मिली हार के बाद सरफराज से कप्तानी छीन ली गई थी
  • इमरान खान ने कहा- टी20 क्रिकेट से खिलाड़ी के प्रदर्शन को नहीं आंकना चाहिए
  • प्रधानमंत्री इमरान ने कहा- मिस्बाह उल हक को क्रिकेट कोच बनाने का फैसला सही
No ad for you

कराची. पाकिस्तान की क्रिकेट टीम और कप्तानी से हटाए गए सरफराज अहमद को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने घरेलू क्रिकेट पर ध्यान देने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि टी20 क्रिकेट से किसी खिलाड़ी के प्रदर्शन और फॉर्म को नहीं आंका जाना चाहिए। इसके लिए टेस्ट और वनडे क्रिकेट ही सही पैमाना है। राष्ट्रीय टीम में वापसी के लिए सरफराज को घरेलू क्रिकेट पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए।
 
पिछले महीने श्रीलंका के खिलाफ 3 मैचों की घरेलू टी20 सीरीज में पाकिस्तान का पूरी तरह सफाया हो गया था। इसके बाद सरफराज को कप्तानी के साथ ही टीम से भी बाहर कर दिया गया। सरफराज के साथ हुए इस बर्ताव के बाद उनके शहर कराची में पीसीबी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी हुए थे।
 

इमरान ने मिस्बाह को कोच बनाने का समर्थन किया 
पीसीबी के पैट्रन-इन-चीफ इमरान खान ने मिस्बाह उल हक को मुख्य चयनकर्ता और हेड कोच नियुक्त किए जाने के फैसले का भी समर्थन किया। उन्होंने कहा, \"मिस्बाह को कोच बनाने का फैसला सही है। वो ईमानदार और निष्पक्ष व्यक्ति हैं। उनके पास खेल का लंबा अनुभव है। बतौर कोच उनके नेतृत्व में टीम वनडे और टेस्ट दोनों में अच्छा करेगी। उनमें नए खिलाड़ियों को तराशने की काबिलियत है।\"
 

घरेलू क्रिकेट सिस्टम में बदलाव से फायदा होगा 
इमरान ने नए घरेलू फर्स्ट क्लास सीजन का भी समर्थन किया। इस सीजन में केवल 6 प्रादेशिक टीमों के बीच ही टक्कर होगी। सभी मुकाबले होम और अवे आधार पर होंगे। यानी एक बार टीम विरोधी के खिलाफ अपने मैदान पर खेलेगी और दूसरा मैच उसके घर में होगा। इमरान के मुताबिक, इससे घरेलू क्रिकेट सिस्टम में सुधार होगा। अगर हमारे घरेलू क्रिकेट सिस्टम में सुधार होता है तो इससे पाकिस्तान क्रिकेट जरूर आगे जाएगा।

No ad for you

क्रिकेट की अन्य खबरें

Copyright © 2020-21 DB Corp ltd., All Rights Reserved