पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
Loading advertisement...

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अफरीदी ने की द्रविड़ की तारीफ:कहा- पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर्स राहुल से सीखें, आगे आकर युवा टैलेंट को तराशने का काम करें

लाहौर2 महीने पहले
अफरीदी ने अपने इंटरनेशनल करियर में 27 टेस्ट, 398 वनडे और 99 टी-20 खेले। (फाइल फोटो)
Loading advertisement...
Open Dainik Bhaskar in...
Browser

पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी ने भारत के दिग्गज प्लेयर राहुल द्रविड़ की तारीफ की है। उन्होंने कहा है कि पाकिस्तान के पूर्व क्रिकेटर्स को द्रविड़ के नक्शेकदम पर चलना चाहिए और युवा टैलेंट का मार्गदर्शन करना चाहिए। अफरीदी ने यह बयान पाकिस्तान के न्यूजीलैंड दौरे पर खराब प्रदर्शन के बाद दिया। कीवी टीम ने पाकिस्तान को टी-20 सीरीज में 2-1 और टेस्ट सीरीज में 2-0 से व्हाइटवॉश किया था।

द्रविड़ ने NCA में शानदार काम किया
अफरीदी ने लाहौर में एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि द्रविड़ ने नेशनल क्रिकेट एकेडमी (NCA) में युवा टैलेंट को तराशने का शानदार काम किया है। उन्होंने कहा कि भारत के अंडर-19 टीम में प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं। इसका श्रेय द्रविड़ को जाता है, क्योंकि उन्होंने युवा खिलाड़ियों पर काफी मेहनत की।

पाकिस्तान में प्रतिभा की कमी
अफरीदी ने कहा कि पाकिस्तान में प्रतिभा की कमी दिख रही है। ऐसे में हमारे देश के पूर्व क्रिकेटर्स को भी आगे आकर युवा खिलाड़ियों को तराशना चाहिए। हमारे युवा प्लेयर्स को भी पूर्व क्रिकेटर्स के मार्गदर्शन की जरूरत है। इंजमाम उल हक, यूनुस खान और मोहम्मद युसुफ जैसे दिग्गज क्रिकेटर्स यह काम कर सकते हैं।

पाकिस्तान में कोच से विवाद की पुरानी समस्या
​​​​​​​अफरीदी ने मोहम्मद आमिर के इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने पर भी बात की। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी क्रिकेट में बॉलर्स और कोच के बीच तालमेल की पुरानी समस्या है। हमारे समय में भी ऐसा होता था। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) को इन मामलों में सामने आना चाहिए और नाराज खिलाड़ियों से बात करनी चाहिए।

PCB आमिर से बात कर सकता है
​​​​​​​​​​​​​​अफरीदी ने कहा कि PCB चाहे तो आमिर से बात कर सकता है। आमिर में अभी काफी क्रिकेट बचा है और वे काफी समय तक क्रिकेट खेल सकते हैं। आमिर ने पिछले महीने इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की थी। उन्होंने पाकिस्तानी टीम मैनेजमेंट पर गंभीर आरोप लगाए थे। आमिर ने कहा था कि वे पाकिस्तान के मुख्य कोच मिस्बाह उल हक और बॉलिंग कोच वकार युनूस के साथ नहीं खेलना चाहते।

Loading advertisement...
खबरें और भी हैं...