बैंकिंग / ICICI बैंक से पैसा निकालने और जमा करने पर देना होगा 100 से 125 रुपए का चार्ज

  • बैंक की शाखा में मशीन के जरिएपैसे जमा करने पर भी लगेगा शुल्क
  • मोबाइलया इंटरनेट बैंकिंग के जरिएहोने वाले एनईएफटी, आरटीजीएस तथा यूपीआई ट्रांजैक्शंस रहेगा फ्री

Dainik Bhaskar

Sep 15, 2019, 01:24 PM IST

यूटिलिटी डेस्क. प्राइवेट सेक्टर के बैंक आईसीआईसीआई ने जमा और निकासी पर चार्ज वसूलने का फैसला किया है। अब से बैंक के सभी ग्राहकों को बैंक में पैसे जमा करने या निकालने पर 100 से 125 रुपए तक का शुल्क देना होगा। 16 अक्टूबर से लागू होने वाले इस नियम के तहत मशीन के जरिए बैंक में पैसा जमा करने पर भी शुल्क लगेगा। इसके साथ ही बैंक ने अपने 'जीरो बैलेंस' अकाउंट होल्डर्स को खाते को किसी अन्य बेसिक सेविंग्स खाते में बदलने या खाता बंद करने की सलाह भी दी है।

मोबाइल बैंकिंग व इंटरनेट बैंकिंग के लिए नहीं देना होगा कोई शुल्क

  1. डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने की पहल

    आईसीआईसीआई बैंक ने शुक्रवार रात को एक नोटिस जारी किया था। नोटिस में लिखा था कि, 'हम अपने ग्राहकों को बैंकिंग लेन-देन डिजिटल मोड में करने के लिए उत्साहित करते हैं, जिससे डिजिटल इंडिया इनिशिएटिव को बढ़ावा मिल सके।

    इसके अतिरिक्त बैंक ने मोबाइल बैंकिंग व इंटरनेट बैंकिंग के जरिए होने वाले नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर ( NEFT ), रियल टाइम ग्रॉस सेटलमेंट ( RTGS ) और यूपीआई लेन-देन पर लगने वाले तमाम तरह के शुल्क को खत्म कर दिया है।

  2. आरटीजीएस के तहत देना होता है 45 रुपए का शुल्क

    मौजूदा समय में 10,000 रुपए से लेकर 10 लाख रुपए तक के एनईएफटी लेन-देन पर 2.25 रुपए से लेकर 24.75 रुपए (जीएसटी अतिरिक्त) का चार्ज देना पड़ता है। वहीं, शाखाओं से दो लाख रुपए से लेकर 10 लाख रुपए तक किए जाने वाले आरटीजीएस लेन-देन के लिए 20 रुपए से लेकर 45 रुपए (जीएसटी अतिरिक्त) का चार्ज देना पड़ता है।

Share
Next Story

सरकारी नौकरी / डीआरडीओ में 224 पदों पर निकली भर्तियां, 10वीं और 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News