बैंकिंग / घर पर ही मिलेंगी बैंकिंग सुविधाएं, सरकारी बैंक योजना पर कर रहे काम

Dainik Bhaskar

Oct 17, 2019, 04:26 PM IST

यूटिलिटी डेस्क. जल्द ही आपको बैंकिंग से जुड़ सुविधाएं घर बैठे ही मिल सकेंगी। देश के सरकारी बैंक ऐसी योजना पर काम कर रहे हैं जिसके तहत बैंक का एजेंट ग्राहको के घर पर आकर उन्हें बैंकिंग सेवा देगा। हालांकि उन्हें इसके लिए कुछ शुल्क देना पड़ेगा। पहले चरण में यह सुविधा सिर्फ वरिष्ठ नागरिकों और दिव्यांग जनों के लिए होगी। दूसरे चरण में सभी ग्राहकों को यह सुविधा मिलने लगेगी। एक ही सेवा प्रदाता सभी बैंकों की सेवा देगा।

योजना से जुड़ी खास बातें

  1. मिलेंगी ये सेवाएं

    वित्तीय लेन-देन और इससे इतर कई सेवाएं मिलेंगी। 

    वित्तीय सेवा के तहत ग्राहक पैसे की निकासी या जमा कर सकेंगे।  चेक, ड्राफ्ट आदि जमा करना। अकाउंट स्टेटमेंट का अनुरोध। नए चेकबुक रिक्विजिशन स्लिप को जमा करना। नॉन पर्सनलाइज्ड चेकबुक्स, ड्राफ्ट्स, टर्म डिपॉजिट रिसीप्ट, आदि की डिलीवरी। एफडी पर टीडीएस से छूट के लिए 15जी और 15एच फॉर्म लेना। आयकर चालान लेना। टीडीएस या फॉर्म16 सर्टिफिकेट लेना। गिफ्ट कार्ड जैसे प्रीपेड उपकरणों की डिलीवरी। स्टैंडिंड इंस्ट्रक्शन जारी करना।
     

  2. कैसे होगा काम?

    डोरस्टेप बैंकिंग योजना के तहत सभी सरकारी बैंकों का एक साझा कॉल सेंटर, वेबसाइट और मोबाइल एप होगा। ग्राहक इसके जरिए डोरस्टेप बैंकिंग सेवा का अनुरोध कर सकेंगे। 

    एक निश्चित समय तक आने वाले अनुरोध के लिए उसी दिन घर पर सेवा उपलब्ध कराई जाएगी। इसके बाद आने वाले अनुरोध के लिए अगले दिन दोपहर से पहले सेवा उपलब्ध कराई जाएगी। फिलहाल सभी बैंकों की ओर से यूको बैंक ने निजी क्षेत्र की कंपनियों से सेवा प्रदाता बनने के लिए प्रस्ताव आमंत्रित किया है। चुने गए सेवा प्रदाता एजेंटों की नियुक्ति करेंगे।  आपको बता दें कि डोरस्टेप बैंकिंग सरकार के एनहांस्ड एक्सेस एंड सर्विस एक्सीलेंस (ईज) कार्यक्रम का हिस्सा है।

Share
Next Story

महाराष्ट्र / अब पेटीएम से ऑनलाइन कर सकेंगे ट्रैफिक चालान का भुगतान

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News