Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

प्रतापगढ़/ पूर्व मंत्री राजा भैया के पिता उदय प्रताप नजरबंद, मुहर्रम पर मंदिर में कराना था सुंदरकांड और भंडारा

कुंडा से सटी इलाहाबाद, फतेहपुर, कौशांबी, बांदा और चित्रकूट की सीमाओं को सील कर दिया है।

  • एक बंदर की पुण्यतिथि बताकर हर साल मुहर्रम पर धार्मिक आयाेजन करते थे 
  • पुलिस ने 2 साल से इस पर लगा रखी है रोक

Dainik Bhaskar

Sep 21, 2018, 01:24 PM IST

प्रतापगढ़. पूर्व मंत्री राजा भैया के पिता उदय प्रताप सिंह को पुलिस ने नजरबंद कर दिया है। वे हनुमान जी के मंदिर पर एक बंदर की पुण्यतिथि पर सुंदरकांड और भंडारा कराना चाह रहे थे। उदय प्रताप मुहर्रम पर हर साल ये आयोजन करते आए हैं, इस पर पिछले दो साल से पुलिस ने रोक लगा रखी है। 

 

क्या है विवाद: कुंडा तहसील के शेखपुर आशिक में हनुमान मंदिर में मुहर्रम के दिन ही बंदर की पुण्यतिथि मनाई जाती है। साथ ही वहां पिछले 4 दिन से सुंदर काण्ड और भंडारा चल रहा है। मुहर्रम के दिन भी सुंदर कांड और भंडारे के आयोजन की घोषणा से प्रशासन के हाथ-पांव फूल गए। अधिकारियों का कहना है कि मुहर्रम के दिन आयोजन पर पिछले 2 सालों से रोक लगी हुई है। इस बार भी प्रशासन ने कहा कि बिना अनुमति कोई आयोजन नहीं किया जायेगा। इसके लिए इलाके में सुरक्षाबलों द्वारा फ्लैग मार्च किया गया। अाला अफसरों ने शेखपुरा में कैम्प कर लिया है। यही नहीं कुंडा की सीमा को भी सील कर दिया गया है। 

 

पूजा के लिए अनुमति जरूरी नहीं: उदय प्रताप सिंह का कहना है कि पूजा करने के लिए मुझे प्रशासन की अनुमति की आवश्यकता नहीं है। पूजा करना मौलिक अधिकार है। फिलहाल आईजी से लेकर डीएम सभी इलाके का दौरा कर मुहर्रम को शांतिपूर्ण ढंग से निपटाने के प्रयास में लगे हुए हैं।