Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

उरई/ फूड प्वॉइजनिंग से 2 बच्चियों की मौत, मां और 3 बच्चों की हालत खराब, रात में खाई थी पूड़ी-सब्जी

दोनों बच्चों का सरकारी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

  • जालौन जिले के अटागांव का मामला
  • फूड विभाग ने खाद्य पदार्थों का लिया सैंपल

Dainik Bhaskar

Nov 15, 2018, 09:39 AM IST

उरई. माधौगढ़ थाना क्षेत्र में अटागांव निवासी एक परिवार के छह लोग फूड प्वॉइजनिंग का शिकार हो गए। उल्टी, दस्त व पेट में दर्द शुरू होने पर सभी को सरकारी अस्पताल ले जाया गया। जहां दो बच्चियों की मौत हो गई। जबकि तीन अन्य का इलाज चल रहा है। 

ये भी पढ़ें

बेरहम पिता ने अपनी तीन बेटियों की हत्या की, सिर पर हथौड़ा मारकर खुद को भी किया घायल  

हालत बिगड़ने पर परिवार के मुखिया ने नहीं दिया ध्यान


माधौगढ़ थाना इलाके के अटागांव निवासी संतोष के घर में मंगलवार रात पूड़ियां बनीं थीं। पूरा परिवार इन्हें खाकर सो गया। लेकिन देर रात पूरे परिवार को उल्टियां और दस्त शुरू हो गए। हालांकि संतोष की तबियत मामूली तौर पर बिगड़ने के बाद संभल गई। पत्नी और बच्चों की गंभीर होती हालत पर उसने ज्यादा ध्यान नहीं दिया। बुधवार सुबह सबकी हालत बिगड़ गई तो संतोष के हाथ पैर फूल गए। पड़ोसियों की मदद से आनन-फानन में पत्नी शीला देवी (43) और बेटी स्नेहलता (6) और प्रियंका (5), शिवम (14), राखी (9) और वैष्णवी (3) को भर्ती कराया। लेकिन डॉक्टरों ने स्नेहलता व शिवम को मृत घोषित कर दिया। 

 

उप जिलाधिकारी मनोज कुमार सागर और पुलिस उपाधीक्षक गिरीश कुमार सिंह अस्पताल पहुंचे। उप जिलाधिकारी ने बताया कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि जिस तेल में पूड़ियां बनी थीं उसके दूषित होने की वजह से संतोष के घर के लोग बीमार हुए या खाने में कोई जहरीला कीड़ा गिरने से ऐसा हुआ। खाद्य निरीक्षक ने पूड़ी, सब्जी व तेल का नमूना लिया है।