Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

कानपुर/ आईपीएस सुरेंद्र का परिवार उन्हें पैसा कमाने की मशीन समझता था: ससुर का आरोप



सुरेंद्र दास ने 22 जुलाई 2017 को रवीना को एक ई मेल भेजा था। जिसमे उन्होंने अपनी परेशानी का हवाला देते हुए सुसाईड करने की बात लिखी थी।
  • सुरेंद्र दास ने पारवारिक कलह के चलते जहर खाकर कर लिया था सुसाइड

Dainik Bhaskar

Sep 24, 2018, 08:16 PM IST

कानपुर. आईपीएस सुरेंद्र दास के सुसाइड मामले में सोमवार को उनके ससुर रावेन्द्र सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उनके घरवालों पर कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि सुरेंद्र का परिवार उन्हें पैसा कमाने वाली मशीन समझता था। दबाव बनाकर भाई उनसे रुपया ऐंठता था। इसके साथ ही पति-पत्नी के रिश्ते में दरार डालने का भी काम करते थे। 


भाई और भाभी का रवीना से व्यवहार अच्छा नहीं था: रावेन्द्र सिंह ने आरोप लगाया कि शादी के बाद जब बेटी ससुराल में रुकी तो उसके साथ सुरेंद्र के भाई नरेंद्र और उनकी पत्नी नेहा ने अच्छा व्यव्हार नहीं किया। उसको नाश्ता तक नहीं देते थे। ये बात जब रवीना ने सुरेंद्र को बताई तो दोनों भाइयों के बीच विवाद भी हुआ था। शादी के बाद सुरेंद्र और रवीना सिक्किम घूमने गए थे। सिक्किम में उनके पास उनकी भाभी का फोन आया था उन्होंने सुरेंद्र से पैसो की डिमांड की थी। उनके फोन के बाद उनकी मानसिक स्थिति बिगड़ गयी थी और वो बहुत परेशान हो गए थे।  

 

बड़ा भाई लखनऊ का प्लाट बेचना चाहता था: उन्होंने बताया कि नरेंद्र दास लखनऊ का प्लाट बेचना चाहते थे लेकिन सुरेंद्र दास उस प्लाट को नहीं बेचना चाहते थे। रवीना ने सुरेंद्र दास को समझाया कि ये प्लाट ससुर की देन है। इसे नहीं बेचना है। इस बात को लेकर दोनों भाइयों के बीच विवाद हुआ था। नरेंद्र दास अपने बिजनेस का पैसा, मां की पेंशन का पैसा और सुरेंद्र दास द्वारा दिए गए पैसे का कभी भी हिसाब नहीं देते थे। इसके साथ ही सुरेंद्र दास पर भाई, भाभी और मां दबाव बनाते थे कि रवीना से ज्यादा मतलब नहीं रखे। जब परिवार द्वारा पत्नी से लगातार अलग होने का दबाव बनाया जा रहा था तो सुरेंद्र दास अपनी बहन सावित्री को दुखी होकर 30 मार्च 2018 को फोन किया था। उन्होंने बहन को धमकी देते हुए कहा परिवार के सदस्यों को मार कर खुद भी मर जाऊंगा। जिसकी रिकार्डिंग सीडी मेरे पास है। 

 

मेरी बेटी ने सुरेंद्र के इलाज में 6 लाख रुपए खर्च किए: सुरेंद्र दास ने 22 जुलाई 2017 को रवीना को एक ई मेल भेजा था। जिसमें उन्होंने अपनी परेशानी का हवाला देते हुए सुसाइड करने की बात लिखी थी। ये मेल पढ़ कर बेटी ने सुरेंद्र को बहुत समझाया था। इलाज में बेटी ने 6 लाख रुपए खर्च किए। सुरेंद्र का परिवार मेरी बेटी को बदनाम करने का काम कर रहा है। सुरेंद्र का परिवार उन्हें पैसा कमाने की मशीन समझता था। उन पर रुपए देने का दबाव बनाया जाता था।  जिसकी वजह से वो मानसिक रूप से परेशान रहते थे। उनकी मां इंदु कभी भी बेटे से मिलने के लिए नहीं जाती थी।

 

रवीना से पहले मोनिका से तय हुई थी शादी: ससुर रावेन्द्र सिंह ने बताया कि बेटी रवीना से शादी तय होने से पहले सुरेंद्र की शादी मोनिका नाम की लकड़ी से तय हुयी थी। सुरेन्द्र की मोनिका से वैवाहिक रस्में भी हुई थी लेकिन सुरेंद्र के बड़े भाई नरेंद्र दास, भाभी नेहा और मां इंदुवती के दबाव की वजह से ये रिश्ता टूट गया था। सुरेंद्र दास के बड़े भाई नरेंद्र दास उनके आईपीएस बनने से पहले प्राइवेट नौकरी करते थे। जब सुरेंद्र आइपीएस बने तो अपने वेतन की कुछ धन राशि अपने पास रखते थे और बाकि की राशि अपने भाई को दे देते थे। इसके बाद उन्होंने अपने बड़े भाई के लिए टिम्बर और ग्रिल वैल्डिंग का काम शुरू कराया। इसके बाद लखनऊ स्थित आवास का निर्माण कराया। 

 

भाई और भाभी की मर्जी के खिलाफ हुई थी सुरेंद्र की शादी: उन्होंने बताया कि सुरेंद्र और रवीना की शादी मैट्रीमोनियल साईट से तय हुई थी। सुरेंद्र दास ने रवीना को पसंद किया था लेकिन नरेंद्र दास, भाभी नेहा और मां इन्दुवती इस संबंध के लिए तैयार नहीं थे।  बाद में सुरेंद्र दास ने मां इंदुवती को इस शादी के लिए राजी कर लिया था। भाई और भाभी की मर्जी के खिलाफ उन्होंने 9 अप्रैल 2017 को लखनऊ के एक होटल में शादी की थी। इस शादी में सुरेंद्र दास के परिवार ने किसी प्रकार की आर्थिक सहायता नहीं की थी बल्कि सुरेंद्र ने बड़े भाई को रवीना के लिए उपहार खरीदकर खुद दिया था। जिसका रिकार्डिंग भी उनके पास है।  

 

कौन हैं आईपीएस सुरेंद्र दास: आईपीएस सुरेन्द्र दास कानपुर में एसपी ईस्ट के पद पर तैनात थे। सुरेंद्र दास ने बीते 5 सितंबर की सुबह सल्फास खा कर सुसाइड करने का प्रयास किया था। आईपीएस की पत्नी डॉ रवीना सिंह ने उन्हें रीजेंसी हास्पिटल में एडमिट कराया था। 5 दिनों तक उनका उपचार चलता रहा और 9 सितंबर को उनका देहांत हो गया था। भाई ने पुलिस को उनकी मौत की जांच की तहरीर भी दी है। 

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

टॉप न्यूज़और देखें

Advertisement

बॉलीवुड और देखें

स्पोर्ट्स और देखें

Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

जीवन मंत्रऔर देखें

राज्यऔर देखें

वीडियोऔर देखें

बिज़नेसऔर देखें