Advertisement

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

अयोध्या/ धर्मसभा से पहले अयोध्या में जुटेंगे चार लाख रामभक्त, कल सुबह सात बजे शुरू होगी 14 कोसी परिक्रमा

अयोध्या में 14 कोसी परिक्रमा के दौरान सरयू तट पर उमड़ी लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ (फाइल फोटो)

  • ड्रोन कैमरे से होगी निगरानी, सुरक्षा के कड़े प्रबंध
  • आज रात से अयोध्या में बड़े वाहनों का प्रवेश बंद हो जाएगा

Dainik Bhaskar

Nov 15, 2018, 06:21 PM IST

अयोध्या. राम की नगरी अयोध्या में कार्तिक पूर्णिमा मेला शुक्रवार को 14 कोसी परिक्रमा के साथ शुरू हो रहा है। यह परिक्रमा सुबह 6:52 बजे शुरू होगी। अगले दिन सुबह साढ़े पांच बजे खत्म होगी। 24 घंटे चलने वाली इस 14 कोसी परिक्रमा में चार लाख राम भक्तों के आने की संभावना है। 25 नवंबर को होनी वाली धर्मसभा व इस परक्रमा आयोजन को लेकर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं। 

ये भी पढ़ें

विहिप के अंतरराष्ट्रीय अध्यक्ष चंपत राय बोले- ऐतिहासिक होगी अयोध्या में धर्मसभा, एक लाख जुटेंगे रामभक्त  


प्रदेश के कोने कोने से श्रद्धालुओं का अयोध्या पहुंचना जारी है। परिक्रमा मार्ग पर श्रद्धालु नंगे पांव 14 कोस पैदल चल कर परिक्रमा पूरा करते हैं। एक अनुमान के मुताबिक, गुरुवार शाम तक करीब 4 लाख श्रद्धालु अयोध्या पहुंच चुके हैं। 


सुरक्षा के कड़े प्रबंध-
एसपी ग्रामीण संजय कुमार ने बताया कि परिक्रमा क्षेत्र को 5 जोन, 22 सेक्टर,  29 सब सेक्टर में बांटा गया है। विशेष सतर्कता के लिए मेला क्षेत्र की निगरानी ड्रोन कैमरों से की जा रही है। एटीएस दस्ते व सादी वर्दी में भी पुलिस बल तैनात हैं। 6 कम्पनी पीएसी व बड़ी संख्या में संवेदनशील स्थलों पर पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गई है। रूट डायवर्जन भी किया गया है। 

 

हम मंदिर बनवाएंगे- भाजपा ने कभी नहीं कही यह बात

उद्धव ठाकरे के अयोध्या कार्यक्रम पर भाजपा सांसद लल्लू सिंह ने तंज कसा है। उन्होंने कहा, शिवसेना ने कभी राम मंदिर के लिए आंदोलन नहीं किया। उद्धव ठाकरे केवल रामलला के दर्शन करने व संतों का सम्मान करने अयोध्या आ रहे हैं। कहा कि, संत सरकार से नहीं सुप्रीम कोर्ट से नाराज है। भाजपा सांसद ने कहा कि भाजपा ने कभी नहीं कहा, हम राम मंदिर बनाएंगे। केवल सहयोग की बात कही गई थी। उन्होंने बाबरी मस्जिद के पक्षकार इकबाल अंसारी के अयोध्या पलायन की चेतावनी को झूठ करार दिया। कहा कि, संत सभा का उद्देश्य अयोध्या का माहौल खराब करना नहीं है। केवल अपनी बात रखना है। अपनी अहमियत बताने के लिए इकबाल अंसारी अनर्गल दे बयान दे रहे हैं।