वाराणसी / केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- भारत में मंदी का असर कितना, यह अभी जांच का विषय

वाराणसी में केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण।

  • मंगलवार को निर्मणा सीतारमण ने टैक्स अधिकारियों, कारोबारियों से काशी में की मुलाकात
  • कहा- भारत में कृषि क्षेत्र में सर्वाधिक रोजगार

Dainik Bhaskar

Aug 20, 2019, 07:18 PM IST

वाराणसी. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को वाराणसी में कहा कि, दुनिया भर में मंदी जैसे हालात हैं। भारत पर इसका प्रभाव कितना पड़ेगा, ये अभी चर्चा का विषय है। इंडस्ट्रीज की तरफ से समस्याएं सामने आई हैं। सरकार उनसे बात कर इनपुट जुटा रही है, ताकि समस्याओं को दूर किया जा सके। सरकार ने बजट के माध्यम से सभी सेक्टर को सशक्त किया है। सबसे अधिक फोकस कृषि क्षेत्र को किया गया है, क्योंकि आज भी भारत की अर्थव्यवस्था कृषि पर आधारित है। सर्वाधिक रोजगार इसी क्षेत्र में है।

भारत तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था वाला देश, हर सेक्टर में हो रहा काम

  1. वित्त मंत्री ने कहा कि, भारत दुनिया में तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था वाला देश है। बैंकिंग सेक्टर, फाइनेंशियल, नॉन फाइनेंशियल सेक्टर में काम किया जा रहा है। डिफेंकस के क्षेत्र में पिछले सालों के गैप को लेकर बजट बढ़ाया गया है। कहा कि, ऑटो मोबाइल इंडस्ट्री में गिरावट को लेकर चर्चा हो रही है। चीनी दूर संचार कंपनियों को लेकर कुछ बातें सामने आई हैं, उसे देखा जा रहा है। 

  2. वित्तमंत्री ने कहा कि, जीएसटी आने के बाद पेट्रोलियम प्रोडक्ट को भी इसके अंतर्गत आना है। सोने के बढ़ते दामों पर उन्होंने कहा कि, जैसे पेट्रोल व क्रूड ऑयल उपयोग करते हैं, वैसे सोना भी है। लेकिन सोना का उत्पादन नहीं है। उसका दाम जरुर बढ़ेगा। सोना इंपोर्ट किया जा रहा है, इसलिए दाम बढ़े हैं। लेकिन पूरे विश्व में मंदी है, भारत में किस फेज में है, यह कोई कैसे बता सकता है। 

     

Share
Next Story

उप्र में बाढ़ / काशी के घाट जलमग्न; मर्णिकर्णिका पर दाह संस्कार के लिए लंबी लाइन, जालौन के 20 गांव बने टापू

Next

Dainik Bhaskar Brings you the latest Hindi News

Recommended News