पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Naxal Attack In Jheeram Ghati Chhatisgarh

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले निकले नक्सली, झीरम बनी मौत की घाटी

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

सुकमा/जगदलपुर. छत्‍तीसगढ़ के सुकमा जिले में सोमवार को हुए नक्‍सली हमले के मास्‍टरमाइंड की पहचान हो गई है। एबीपी न्‍यूज चैनल के मुताबिक, मास्‍टरमाइंड का नाम वी श्रीनिवास बताया जा रहा है। श्रीनिवास दंतेवाड़ा स्‍पेशल जोन का कमांडर है। इस हमले की साजिश रचने में जिस शख्‍स ने श्रीनिवास की मदद की उसका नाम गणेश वीके बताया जा रहा है।

क्रूरता जो दिल दहला दे

नक्‍सली हमले के एक दिन बाद, बुधवार को केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे रायपुर पहुंचे थे। मंगलवार को छत्‍तीसगढ़ के सुकमा में नक्‍सलियों ने जो क्रूरता दिखाई उसकी दास्‍तान दिल दहला देने वाली है। लोकसभा चुनाव के ठीक पहले दो सौ से ज्यादा हथियारबंद नक्सलियों ने झीरम घाटी के पास रोड ओपनिंग के लिए निकली सीआरपीएफ और जिला पुलिस की पार्टी पर जबर्दस्त हमला किया। नक्सलियों ने कई घायल जवानों को चाकू से गोद कर उनकी हत्या कर दी। जवानों की हत्या करने के बाद नक्सली उनके पास के सारे हथियार, गोलियां, वायरलेस सेट लूटकर भाग निकले। जवानों के शरीर पर बंधे बुलेट के पाउच को भी काट कर वे साथ ले गए। यहां तक कि शव के नीचे भी बम रख गए थे। हमले के कुछ देर बाद ही जब भास्‍कर संवाददाता वहां पहुंचा, तो पूरा हाईवे खून से सना हुआ था। सड़क और पास के खेतों में जवानों के गोलियों से छलनी शव पड़े थे। गोलियों के खोखे बिखरे हुए थे।

(तस्‍वीरों में देखिए इस साल के सबसे बड़े नक्‍सली हमले की भयावहता)

गोलीबारी और आईईडी से किए विस्फोटों में सीआरपीएफ और जिला पुलिस के 15 जवानों के अलावा वहां से गुजर रहा जगदलपुर का एक कारोबारी विक्रम निषाद भी मारा गया। विक्रम सुकमा में ऑटो पार्ट्स की दुकान चलाता था। मोटे अनुमान के अनुसार दोनों तरफ से पांच सौ से ज्यादा गोलियां चलीं।

आगे पढ़ें- हमले की कहानी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर आप कुछ समय से स्थान परिवर्तन की योजना बना रहे हैं या किसी प्रॉपर्टी से संबंधित कार्य करने से पहले उस पर दोबारा विचार विमर्श कर लें। आपको अवश्य ही सफलता प्राप्त होगी। संतान की तरफ से भी को...

और पढ़ें