• Hindi News
  • Court Summons Rahul Gandhi Over \'RSS People Killed Mahatma Gandhi\' Comment

\'संघ के लोगों ने गांधीजी को गोली मारी\' वाले बयान पर राहुल गांधी को मिला नोटिस

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो: राहुल गांधी

भ‍िवंडी: महाराष्‍ट्र की एक अदालत ने शुक्रवार को कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी को उनके राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ के बारे में दिए गए एक बयान को लेकर नोटिस जारी किया। कोर्ट ने राहुल को 7 अक्टूबर को पेश होने का आदेश दिया है। बता दें कि लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान आयोजित एक रैली में राहुल ने कथित तौर पर आरएसएस को महात्‍मा गांधी का हत्‍यारा बताया था (अगली स्‍लाइड में देखें वीडियो)। आरएसएस ने राहुल गांधी के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। राहुल गांधी कानूनी मामलों में फंसते नजर आ रहे हैं। अभी कुछ दिन पहले ही नेशनल हेराल्‍ड अखबार से जुड़े मामले में उनकी मां व पार्टी अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और उन्‍हें नोटिस मिल चुका है।

क्‍या है पूरा मामला
मामला 6 मार्च का है। भिवंडी के सोनाली स्‍पोर्ट्स ग्राउंड पर हुई रैली में राहुल ने कथित तौर पर कहा था, 'आरएसएस के लोगों ने गांधी जी को गोली मारी। आज वे ही लोग गांधी जी की बात करते हैं। इसी तरह सरदार पटेल कांग्रेस के नेता हैं। पटेल ने आरएसएस के बारे में साफ-साफ लिखा है। तब वे पटेल का विरोध करते थे, लेकिन अब कांग्रेस के नेताओं को अपना नेता बताते हैं। 10 साल बाद वे यूपीए की नरेगा, भोजन का अधिकार, जमीन अधिग्रहण जैसी लोकप्रिय योजनाओं को अपना बताएंगे।' राहुल के यह बयान देने के अगले दिन संघ के प्रवक्ता राम माधव ने बयान जारी कर कांग्रेस नेता के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की धमकी दी थी।

आरएसएस ने दर्ज कराया था मुकदमा
राहुल गांधी के खिलाफ संघ ने अदालत का दरवाजा खटखटाया था। आरएसएस की भिवंडी शाखा के सचिव राजेश कुंटे की ओर से यह मामला दर्ज कराया गया था। 19 मार्च को प्रथम श्रेणी मजिस्ट्रेट भिवंडी की अदालत में दर्ज कराई अपनी शिकायत में कुंटे ने कहा कि राहुल गांधी का बयान अपमानजनक हैं। उनके बयान से संगठन की अवमानना हुई है। आरएसएस नेता ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी ने चुनावी फायदा उठाने के लिए यह बयान दिया।
आगे की स्‍लाइड में देखें: राहुल के कथित बयान का वीडियो