सरकार बनाने को लेकर 'आप' का फैसला जल्द, ज्यादातर लोग चाहते हैं केजरीवाल बने सीएम

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्‍ली. आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने रविवार को कहा कि जनता ने उन्‍हें सरकार बनाने के पक्ष में राय दी है। हालांकि, पार्टी की ओर से आधिकारिक घोषणा सोमवार सुबह 11 बजे की जाएगी। केजरीवाल ने रविवार को 'आप' की जनसभा के मंच से कांग्रेस और भाजपा के लिए खतरे की घंटे भी बजा दी। उन्‍होंने कहा- अगर हम सरकार बनाएंगे तो कड़ा भ्रष्‍टाचार निरोधी कानून लाएंगे और कांग्रेस-भाजपा के भ्रष्‍ट नेताओं को जेल भेजेंगे। दूसरी ओर 'आप' की प्रवक्‍ता अस्‍वथी मुरलीधरन ने भी कहा कि ज्‍यादातर लोगों ने सरकार बनाने के पक्ष में राय दी है। कांग्रेस की ओर से समर्थन की घोषणा के बाद 'आप' ने जनता से राय मांगी थी। पार्टी ने एसएमएस, ई-मेल और दिल्‍ली के सभी 271 वार्ड में जनसभाओं के जरिए रविवार तक लोगों से राय देने को कहा था।
बताया जा रहा है कि 'आप' को एसएमएस, ई-मेल, फेसबुक, जनसभा और उनकी वेबसाइट के जरिए 6.5 लाख लोगों की प्रतिक्रिया मिली। सोमवार सुबह 9 बजे 'आप' की बैठक के बाद 11 बजे केजरीवाल पार्टी के फैसले की घोषणा करेंगे और 12.30 बजे उपराज्‍यपाल नजीब जंग से मुलाकात करेंगे।
दूसरी ओर आम आदमी पार्टी ने बीजेपी और कांग्रेस पर जोरदार हमला बोला है। आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि बीजेपी और कांग्रेस के नेता राजनीति नहीं बल्कि दलाली कर रहे हैं। केजरीवाल रविवार को दिल्ली में चार स्थानों पर जनसभाएं करके लोगों से उनकी राय जानी।
गोल मार्किट में आयोजित जनसभा में केजरीवाल ने लोगों से सरकार बनाने को लेकर सवाल पूछा। सभा में मौजूद लोगों ने हाथ उठाते हुए सरकार बनाने के पक्ष में राय दी। वहां मौजूद करीब 44 लोगों ने सरकार बनाने के खिलाफ हाथ खड़ा किया। इसी प्रकार से उन्‍होंने सरोजनी नगर व अन्‍य सभाओं में भी लोगों की राय जानी।
जनता की राय मांगने के 'आप' के फैसले की जमकर आलोचना भी हो रही है। कांग्रेस नेता किरण वालिया ने इसे चुनाव का अपमान बताया था तो आप के सहयोगी रहे संतोष हेगड़े ने इसे अव्यावहारिक करार दिया था। बीजेपी पहले ही बिना बहुमत के सरकार न बनाने का फैसला कर चुकी है। कांग्रेस ने आम आदमी पार्टी को बिना शर्त समर्थन की बात कहकर सरकार बनाने को लेकर गेंद 'आप' के पाले में डाल रखी है।
आगे पढ़ें- अभी तक की रायशुमारी में क्या चाहती है दिल्ली की जनता