• Hindi News
  • डेनमार्क: कॉलेज छोड़कर ISIS से लोहा लेने सीरिया चली गई थी ये लड़की

जब कॉलेज छोड़कर ISIS से लोहा लेने सीरिया चली गई थी ये लड़की

7 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोपनहेगन. ये है डेनमार्क की जोआना पलानी। उसने 2014 में आतंकी संगठन आईएसआईएस (इस्लामिक स्टेट) के खिलाफ जंग लड़ने के लिए कॉलेज छोड़कर इराक का रुख किया था। इसके बाद वह दुनियाभर में फेमस हुई थी। हालांकि, लंबे समय बाद बीते दिनों स्वदेश वापसी पर कोपेनहेगन पुलिस ने उसका पासपोर्ट जब्त कर लिया। डेनमार्क के मिनिस्टर ऑफ जस्टिस सोरेन पिंड ने कहा है कि देश का 'फॉरेन फाइटर' लॉ बिल्कुल 'स्पष्ट' है। हालांकि, उन्होंने जोआना को यह भी सलाह दी है कि वह फैसले के खिलाफ कोर्ट जा सकती है। जोआना ने अपील करने का मन बनाया है।
22 साल की इस साहसी फाइटर ने कहा है, "डेनिश पुलिस ने मेरे देश छोड़ने पर प्रतिबंध लगा दिया है। मैं इस असमंजस में हूं कि एक सोल्जर के रूप में सेवाएं नहीं दे पाऊंगी।" बता दें कि जोआना को डेनमार्क में नए 'फॉरेन फाइटर' नियम के तहत यह सजा दी गई है। यह नियम टेरर ग्रुप्स में शामिल होने से यहां के नागरिकों को रोकने के मकसद से बनाया गया है।
जोआना उन वेस्टनर्स में से हैं, जो सीरियाई शहर कोबानी (आइन अल-अरब) में इराकी पेशमर्गा के साथ मिलकर आईएसआईएस के खिलाफ लड़ रहे थे। जोआना ने अपने एक फेसबुक पोस्ट पर आईएसआईएस को चेतावनी देते हुए लिखा था, "कल तुम्हें आमने-सामने देखती हूं।"
आगे की स्लाइड्स में देखें, जोआना की कुछ फोटोज...