पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भारत ने देवयानी के लिए यूएन से मांगी राजनयिक छूट

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
संयुक्त राष्ट्र. भारत ने संयुक्त राष्ट्र (यूएन) से आग्रह किया है कि वह देवयानी खोबरागड़े को राजनयिक छूट और सभी विशेषाधिकार दे। देवयानी को हाल में ही यूएन के भारतीय मिशन में बतौर काउंसलर भेजा गया है। यूएन में भारतीय राजदूत अशोक मुखर्जी ने महासचिव बान की मून को राजनयिक छूट के बारे में पत्र के साथ दूसरे दस्तावेज भी भेजे हैं। यूएन ने भारत की ओर से आधिकारिक सूचना मिलने की पुष्टि की है।
कहा है कि आग्रह पर मानक प्रक्रिया के तहत कार्रवाई की जाएगी। मुखर्जी ने कहा कि यूएन से अमेरिकी विदेश विभाग को दस्तावेज भेजे जाने हैं। अमेरिकी विदेश विभाग को इन दस्तावेजों पर जवाब देना है। अब मामला संयुक्त राष्ट्र और अमेरिकी विदेश विभाग के बीच है। राजनयिक छूट देने में संयुक्त राष्ट्र की कोई भूमिका नहीं है। क्योंकि मुख्यालय से जुड़े समझौते के तहत यह छूट अमेरिका देता है।
नई दिल्ली त्नविदेश मंत्री सलमान खुर्शीद ने उम्मीद जाहिर की है कि भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागड़े की गिरफ्तारी के बाद पैदा हुआ गतिरोध जल्दी दूर होगा। उन्होंने कहा कि अमेरिका के साथ हल निकालने की कोशिश चल रही है। भारत-अमेरिका संबंधों पर अपने बयान का अमेरिकी विदेश विभाग के स्वागत करने पर खुर्शीद ने कहा, 'उन्हें (अमेरिका को) कुछ करना चाहिए। स्वागत करना ही काफी नहीं है।'