पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Former South African Nelson Mandela Dead At 95

कॉलेज से निकाल दिए गए थे मंडेला, करनी पड़ी थी चौकीदार की नौकरी

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
जोहान्सबर्ग. दक्षिण अफ्रीका के पहले अश्‍वेत राष्‍ट्रपति नेल्सन मंडेला का लंबी बीमारी के बाद गुरुवार रात जोहान्सबर्ग में निधन हो गया। मंडेला पिछले दो साल से फेफड़े की बीमारी से ग्रस्त थे। उन्‍होंने अपने घर में अंतिम सांस ली। दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति जैकब जुमा ने उनके निधन की घोषणा करते हुए कहा- राष्ट्र ने अपने सबसे महान बेटे को खो दिया। हमारे लोगों ने अपने पिता को खो दिया। साथियो, नेल्सन मंडेला ने हमें एकजुट किया और हम सब साथ मिलकर उन्हें विदाई देंगे।
मंडेला के निधन पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव बान की मून, ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, प्रिंस विलियम समेत दुनिया भर के नेताओं ने शोक जताया है। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति को रंगभेद के खिलाफ आवाज उठाने वाले प्रिय नेता के रूप में जाना जाता है। उनके जन्मदिन को संयुक्त राष्ट्र 'नेल्सन मंडेला डे' के रूप में मनाता है। इसका मकसद पूरी दुनिया में शांति, स्वतंत्रता और समानता का संदेश फैलाना है।
'भारत रत्‍न' नेल्‍सन मंडेला
नेल्‍सन मंडेला को 1990 में भारत सरकार ने 'भारत रत्‍न' से सम्मानित किया था। मंडेला ऐसे दूसरे गैर भारतीय थे, जिन्हें यह सम्मान मिला। उनके अलावा पाकिस्तान के खान अब्दुल गफ्फार खान को 1987 में 'भारत रत्‍न' से नवाजा गया था।
कौन थे नेल्सन मंडेला
नेल्सन मंडेला का जन्म 18 जुलाई, 1918 को कुनू गांव के थेंबु शाही परिवार में हुआ। उनके बचपन में नाम 'रोहिल्लाहल्ला मंडेला था। जिसे बाद में एक टीचर ने स्कूल में नेल्सन कर दिया। 1964 में सरकार ने उन्हें गिरफ्तार कर रोबेन द्वीप जेल में उम्र कैद की सजा काटने के लिए भेज दिया। 27 साल जेल में बिताने के बाद 1990 में रिहा हुए। 1993 में उन्हें नोबेल शांति पुरस्कार मिला।
1994 में दक्षिण अफ्रीका के पहले अश्वेत राष्ट्रपति बने। मंडेला अपने 13 भाइयों में तीसरे नंबर के थे। वह जब 12 वर्ष के थे, तभी उनके सिर से पिता का साया उठ गया था। मंडेला के पिता ने तीन शादियां की थीं। मंडेला शादी से बचने के लिए एक बार घर से भाग गए थे। उन्‍होंने एक सोने की खदान में चौकीदार की नौकरी भी की थी।
(फोटो कैप्‍शन- नेल्‍सन मंडेला 1991 में अफ्रीकन नेशनल कांग्रेस के अध्‍यक्ष बने और जेल से बाहर आने के बाद उन्‍होंने अपना पहला सार्वजनिक भाषण 1991 में दिया था। मंडेला 11 फरवरी 1990 को रिहा किए गए थे।)
आगे पढ़ें, आगे पढ़ें, 13 बच्‍चों में तीसरी संतान थे मंडेला, पिता ने की थी तीन शादियां