पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Teachers Gathered To Demand Pay Raise, The Police

वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर जुटे टीचर्स पर पुलिस ने बरसाए डंडे

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीनगर। वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर नागरिक सचिवालय की ओर बढ़ रहे रहबर-ए-तालीम टीचर्स के प्रयास को पुलिस ने विफल कर दिया। प्रदर्शन कर रहे टीचर्स को खदेड़ने के लिए पुलिस ने पानी और बल प्रयोग किया। पुलिस कार्रवाई में दर्जन के करीब टीचर्स को मामूली चोटें भी आई हैं। पुलिस ने एहतियात के तौर पर जेकेटीएफ नेता अब्दुल क्यूम वानी एवं आरईटी टीचर्स को हिरासत में ले लिया है। जम्मू कश्मीर टीचर्स फेडरेशन के नेता अब्दुल क्यूम वानी के नेतृत्व में बड़ी तादाद में रहबर-ए-तालीम टीचर्स ने जुलूस निकाला। नियमित किए जाने और वेतन बढ़ोत्तरी की मांग को लेकर प्रदर्शन रहे टीचरों ने श्रीनगर में जुलूस निकालते हुए नागरिक सचिवालय को ओ बढ़ने लगे। अध्यापकों को आगे बढ़ने से रोकने के लिए बड़ी तादाद में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था। नारेबाजी करते हुए जब अध्यापकों ने पुलिस घेरे को तोड़ने का प्रयास किया तो पुलिस कर्मियों के साथ धक्कामुक्की हुई। प्रदर्शन कर रहे टीचर्स को खदेड़ने के लिए पुलिस ने नीले रंग का पानी फेंका लेकिन टीचर्स ने आगे बढ़ना जारी रखा। आखिरकार पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा। रहबर-ए-तालीम टीचर्स मांग कर रहे थे कि उन्हें समयानुसार नियमित तथा वेतन में इजाफा किया जाए। आरईटी टीचर्स को 5 साल के बाद नियमित किया जाता है और इस दौरान उन्हें 2500 रुपए मासिक भत्ता दिया जाता है। पुलिस द्वारा बल प्रयोग किए जाने से लगभग दर्जन भर आरईटी टीचर्स को मामूली चोटें भी आई हैं। पुलिस ने जेकेटीएफ के नेता अब्दुल क्यूम वानी समेत कुछ आरईटी टीचर्स को हिरासत में ले लिया। इन्हें श्रीनगर के शहीदगंज पुलिस थाने में रखा गया है। प्रदर्शन में एजुकेशन वॉलेंटियर भी शामिल थे जो नियमित किए जाने की मांग कर रहे थे।