अनचाहे कॉल से हो गए हैं परेशान, तो अब डॉन्ट वरी...

10 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक




भोपाल। राजधानी में कई ऐसे लोग हैं, जिनके पास डू नॉट डिस्टर्ब (डीएनडी) में रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद भी प्रमोशनल कॉल और एसएमएस आने का सिलसिला बंद नहीं हुआ है।





जब 27 सितंबर 2011 को ट्राई ने डीएनडी सुविधा शुरू की, तब से अब तक करीब 15 करोड़ लोग देशभर में इस सुविधा के लिए अप्लाई कर चुके हैं। ट्राई की सख्ती के बावजूद कंपनियां संदेश भेजने से बाज नहीं आ रही हैं, जबकि डीएनडी में रजिस्टर्ड होने के बावजूद आने वाले अनचाहे कॉल्स और एसएमएस को लेकर ट्राई संबंधित कंपनी पर जुर्माना भी कर रही है। ज्यादातर लोगों को इस बारे में जानकारी न होने से वे कस्टमर केयर में शिकायत करके चुप हो जाते हैं।






टेलीकॉम विशेषज्ञ बताते हैं कि डीएनडी सेवा लेने के बाद भी यदि प्रमोशनल कॉल या एसएमएस का सिलसिला बंद न हो तो शिकायत पर ट्राई कंपनी को नोटिस जारी करती है। यदि फिर भी कंपनी बाज न आए तो दूसरी बार में रजिस्टर्ड कंपनी पर जुर्माना और उसे ब्लैक लिस्टेड करने का प्रावधान है। वहीं अनरजिस्टर्ड कंपनियों के नंबरों को डिस्कनेक्ट करने का प्रावधान है।






कंपनियों को देना होगा वॉइस अलर्ट






यदि टेलीकॉम कंपनियां किसी सेवा की प्रीमियम दर लेती हैं तो उन्हें उपभोक्ताओं को वॉइस अलर्ट के जरिए इसकी जानकारी देनी होगी। वैल्यू एडेड सेवाएं लेने पर भी उपभोक्ताओं को उसके शुल्क आदि की जानकारी देना जरूरी कर दिया गया है। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण ने टेलीकॉम कंपनियों के लिए उपभोक्ता संरक्षण और उपभोक्ता शिकायत निवारण नियम जारी किए हैं।






यह भी जरूरी






टेलीकॉम कंपनियों के लिए नए नियम फरवरी के दूसरे सप्ताह से पालन करना जरूरी हो गया है। अब कंपनियों को स्टार्टअप किट देना जरूरी कर दिया है। किट में सिम के साथ मोबाइल नंबर, प्रीपेड व पोस्टपेड की जानकारी, कस्टमर केयर नंबर देना होगा। उपभोक्ताओं की शिकायतों के लिए सुबह 8 बजे से रात 12 बजे तक टोल फ्री उपभोक्ता केंद्र, दो सदस्यीय सलाहकार समिति, सिटीजन चार्टर और वेब आधारित कम्पलेंट मॉनिटरिंग सिस्टम भी जरूरी किया गया है।






ऐसे करें रजिस्टर्ड -






मोबाइल के मैसेज बॉक्स में जाकर एसटीएआरटी स्पेस जीरो लिखकर उसे 1909 पर भेज दें। - 1909 से कन्फर्मेशन मैसेज आएगा, उसका रिप्लाई ‘वाय’ लिखकर दें। - 1909 को सीधे डायल भी कर सकते हैं। - रजिस्ट्रेशन होने पर मोबाइल पर यूनिक कोड भेजा जाएगा। रजिस्ट्रेशन सात कैटेगरी में होता है। - जीरो से सभी कैटेगरी के अनचाहे कॉल और एसएमएस बंद होंगे। - 7 दिन के भीतर प्रमोशनल कॉल बंद हो जाएंगे। यदि इसके बाद भी आएं तो .. - जिस नंबर से फोन आया, वह नंबर और कॉल का टाइम नोट करें। - एसएमएस आने पर सेंडर (जिस कोड से भेजा गया) और समय नोट करें। - मोबाइल से 1909 डायल करें, शिकायत दर्ज कराने का ऑप्शन चुनें। - पूरी शिकायत का ब्योरा दर्ज कराएं।






अब तक 26 लाख का जुर्माना






डीएनडी सेवा का उल्लंघन करने पर ट्राई ने टेली मार्केटिंग कंपनियों को 1,122 नोटिस जारी किए हैं। वहीं ऐसे 111 नंबरों को बंद किया जा चुका है। 37 कंपनियां ऐसी हैं, जिन पर कार्रवाई हुई और इन पर 26 लाख रुपए का जुर्माना किया गया।