पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भर्ती प्रक्रिया पर शुरू हुआ होमवर्क, खाली हैं शिक्षकों के 4766 पद

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
ग्वालियर। शिक्षकों के खाली पदों पर संविदा नियुक्ति अभी नहीं होगी। इससे साफ है कि पंद्रह अप्रैल से प्रारंभ हो रहे नए सत्र में भी शिक्षकों की कमी रहेगी। दूसरी तरफ भोपाल में भर्ती प्रक्रिया पर होमवर्क जारी है। इसके लिए ग्वालियर में भी तैयारी चल रही है। अंचल में पिछले दो साल से शिक्षकों के 4766 पद खाली हैं। काम चलाऊ व्यवस्था के तहत कुछ पदों पर अतिथि शिक्षक रखे गए हैं। व्यावसायिक परीक्षा मंडल ने संविदा शिक्षक वर्ग-1 का परीक्षा परिणाम, स्कूल शिक्षा विभाग को भेज दिया है। वर्ग-2 व 3 का परिणाम 15 से 20 अप्रैल के बीच आने की संभावना है। वर्तमान में शिक्षकों के पदों के कार्रवाई को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इसके बाद जिलास्तर से खाली पदों की जानकारी लेकर उसे ऑनलाइन किया जाएगा। सूत्र बताते हैं कि पात्रता प्रवेश परीक्षा के आधार पर उम्मीदवार ऑन लाइन आवेदन करेंगे। इसके बाद रिक्त पदों के आधार पर हर जिले की मेरिट बनेगी और उम्मीदवार को उसकी पसंद के जिले में चुना जाएगा। स्थानीय निकाय करेंगे नियुक्ति संविदा शिक्षकों के रिक्तपदों पर स्थानीय निकाय नियुक्तिदेंगे। इससे पहले स्कूल शिक्षा विभाग रिक्तपद व उन्हें भरने की मंजूरी देगा। आवेदकों का चयन पात्रता परीक्षा में आने वाले अंकों के आधार पर होगा। और क्या है खास-खास - ग्वालियर में शिक्षकों के 329 पद खाली हैं। - प्रदेश में शिक्षकों के 96 हजार पद भरे जाएंगे। - तीनों प्रवेश परीक्षा में प्रदेश के 17 लाख आवेदक शामिल हुए। पदों की जानकारी मांगी है संविदा शिक्षकों के रिक्तपदों की संवर्ग वार जानकारी जिलों से मांगी गई है। जानकारी आते ही पद भरने के लिए संबंधित निकाय को अनुमति दी जाएगी। इस बार संविदा शाला शिक्षक के लिए आवेदकों को ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके लिए साफ्टवेयर तैयार किया जा रहा है। -सभाजीत यादव, संचालक, स्कूल शिक्षा संविदा शिक्षक पात्रता प्रवेश परीक्षा वर्ग- 2 व 3 में शामिल हुए उम्मीदवारों की संख्या अधिक है। इसी कारण रिजल्ट घोषित करने में देरी हुई है। मध्य अप्रैल तक रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। -सुनील श्रीवास्तव, पीआरओ, व्यापमं