16 साल में पायलट बन गई थी ये लड़की, कर चुकी हैं TV एड और फोटोशूट

6 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
नई दिल्ली. देश की यंगेस्ट लेडी पायलट बनने का रिकॉर्ड जम्मू-कश्मीर की आयशा अजीज के नाम है। 16 साल की उम्र में ही उन्होंने पायलट लाइसेंस हासिल कर लिया। अब आयशा 20 की हो चुकी हैं। देश-दुनिया के लोग उनकी सक्सेस का लोहा मानते हैं और कई लड़कियों के लिए वे रोल मॉडल भी हैं। आयशा न सिर्फ पायलट हैं बल्कि टीवी पर के कुछ एड और मैगजीन के लिए फोटोशूट करवा चुकी हैं। हम आपको बता रहे हैं, लेडी पायलट की सक्सेस स्टोरी...
- बचपन में ही आयशा को पायलट बनने का शौक था और इसे पूरा करने के लिए 10th पास करने के वह बाद मुंबई आ गईं।
- यहां बॉम्बे फ्लाइंग क्लब ज्वाइन किया। 16 साल की उम्र पार करते ही नवंबर, 2013 में स्टूडेंट पायलट लाइसेंस हासिल कर लिया।
- आर्थिक परेशानियों के चलते कमर्शियल लाइसेंस मिलने में थोड़ी देरी हुई। हालांकि बाद में उन्हें कमर्शियल पायलट का लाइसेंस मिला।
- आजकल आयशा सिंगल इंजन वाला Cessna-152 और Cessna-172 प्लेन उड़ाती हैं। कई VIPs को अपनी मंजिल तक पहुंचा चुकी हैं।
कौन है आयशा का रोल मॉडल?
- आयशा को NASA विजिट का भी मौका मिला। जहां उनकी मुलाकात एविएटर जॉन मैकब्राइड से हुई थी।
- उनकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा था, जब वह अपनी रोल मॉडल सुनीता विलियम्स से मिली थीं।
- इसके बाद 2013 में जब सुनीता भारत आईं तो वह उनसे मिलीं और अपने अनुभव साझा किए थे।
- आयशा अपनी सक्सेस का श्रेय फैमिली को देती हैं। कहती हैं कि पापा ने मुझे एक बार कहने पर फ्लाइंग स्कूल भेजा था।
- बेटी की इस उपलब्धि पर आयशा के पिता और पूरी फैमिली भी बेहद खुश हुई थी। उन्हें बेटी पर फक्र है।
यूथ के लिए आयशा का मैसेज?
- आयशा कहती हैं, "देश की यंगेस्ट पायलट होने की मुकाबले, मैं अपने बचपन का टारगेट पूरा होने पर ज्यादा खुश हूं।''
- ''महिलाओं का जुनून ही पुरुष प्रधान दुनिया में असली ताकत है। हमें फोकस, स्टेबिलिटी, मेहनत और खुद पर विश्वास की जरूरत है।''
- ''विमान के उड़ान भरने और लैंडिंग का मजा लेती हूं, जबकि मेरे भाई को डर लगता है और वह फ्लाइंग के दौरान हमेशा सोता रहता है।"
आगे की स्लाइड्स में देखें, फोटोज...
खबरें और भी हैं...