पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मशहूर फिल्म निर्माता-निर्देशक यश चोपड़ा का इंतकाल

8 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

मुंबई। फिल्म निर्माता निर्देशक यश चोपड़ा का पिछले कई दिनों से लीलीवती अस्पताल में इलाज चल रहा था। अभी-अभी खबर आई है कि डेंगू से पीड़ित यश चोपड़ा का इंतकाल हो गया है।



गौरतलब है कि यश चोपड़ा को रविवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था और उन्हें चिकित्सकों की देखरेख में रखा गया था। एक रिपोर्ट के मुताबिक उनके परिवार के सदस्यों के अलावा फिल्म अभिनेत्री रानी मुखर्जी उनसे मिलने अस्पताल पहुंचीं थीं।



सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, यश चोपड़ा के बेटे आदित्य चोपड़ा व उदय चोपड़ा ने अपने पिता के पार्थिव शरीर को लोगों के अंतिम दर्शन के लिए यशराज स्टूडियो में ही रखने का फैसला किया है। अंतिम संस्कार के लिए यश चोपड़ा का पार्थिव शरीर स्टूडियो से ही अंतिम यात्रा के लिए निकाला जाएगा।


यश चोपड़ा ने पिछले दिनों घोषणा की थी कि 'जब तक है जान' उनके डायरेक्शन में बनने वाली अंतिम फिल्म होगी। डेंगू से पीड़ित होने के कारण यशराज चोपड़ा अपनी इस फिल्म का गाना शूट नहीं कर पाए और यह फिल्म एक तरह से अधूरी ही रह गई। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, करण जौहर को इस गाने की कमान दी जा सकती है। हालांकि, अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि आदित्य इस गाने को अब खुद शूट करेंगे या किसी और को करने के लिए देंगे।



यश चोपड़ा ने 'दाग', 'कभी-कभी', 'सिलसिला', 'चांदनी', 'लम्हे', 'दीवार' और 'त्रिशुल' जैसी यादगार फिल्में बनाई हैं। उनकी आखिरी निर्देशित फिल्म 'जब तक है जान' है जो 13 नवंबर को रिलीज होगी।



वैसे तो यश चोपड़ा को किंग ऑफ रोमांस कहा जाता है, लेकिन दीवार, त्रिशूल जैसी एक्शन प्रधान फिल्में बनाकर इन्होंने अमिताभ वच्चन की यंग एंग्री मैन की छवि निर्मित की।



यश चोपड़ा के निधन का समाचार मिलते ही बॉलीवुड में शोक की लहर छा गयी है। बॉलीवुड की तमाम हस्तियां ये दुखद खबर मिलते ही शोक संवेदना ब्यक्त कर रही हैं। यश चोपड़ा की मशहूर फिल्म जिसने अमिताभ बच्चन को सुपरस्टार बनाया, उसके पटकथा लेखकों में एक जावेद अख्तर ने कहा कि चोपड़ा साहब के निधन से हिन्दी फिल्मों के एक युग का अंत हो गया है।



यश चोपड़ा के निधन पर बॉलीवुड की तमाम हस्तियों के साथ ही साथ प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शोक जताया है। सूचना एवं प्रसारण मंत्री अंबिका सोनी ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके निधन से फिल्म जगत को बहुत बड़ा नुकसान हुआ है।



उनकी मौत की खबर आते ही पूरे फ़िल्म जगत में सन्नाटा छा गया। फिल्म इंडस्ट्री की जानी-मानी हस्तियों ने ट्विटर और फेसबुक के जरिए अपने शोक संदेश देने शुरू कर दिए।



जानी-मानी गायिका लता मंगेश्कर ने उनको श्रृद्धांजलि देते हुए कहा कि यश चोपड़ा एक बड़े फिल्मकार होने के साथ-साथ उससे भी ज़्यादा बड़े इंसान थे। लता मंगेश्कर के अनुसार उनका और यश चोपड़ा का रिश्ता सिर्फ फ़िल्मों के कारण नहीं था, बल्कि वे दोनों एक भाई-बहन की तरह थे।



यश चोपड़ा की फ़िल्म 'जब तक है जान' बन कर तैयार है और 13 नवंबर को रिलीज़ होने वाली है। इसमें शाहरूख़ ख़ान, कटरीना कैफ़ और अनुष्का शर्मा अहम भूमिका निभा रहें हैं।


फिल्म के क्षेत्र में अपने अविस्मरणीय योगदान के लिए भारत सरकार ने उन्हें 2001 में दादा साहब फाल्के एवं 2005 में पद्म भूषण से सम्मानित किया। यशराज चोपड़ा का जन्म 21 सितम्बर 1932 को अविभाजित भारत के लाहौर शहर में हुआ था। यश राज ने अपना फिल्मी करियर अपने बड़े भाई बी.आर. चोपड़ा (बल राज चोपड़ा) के सहायक के तौर पर किया।



यशराज ने बीआर फिल्म्स के तले बनी फिल्म `धूल का फूल` के जरिए निर्देशन के क्षेत्र में सफलतापूर्वक कदम रखा। इसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। यश ने बीआर फिल्म्स की जबरदस्त सफल फिल्म `वक्त` के अलावा अमिताभ बच्चन अभिनीत `दीवार` का भी निर्देशन किया। इस फिल्म ने अमिताभ को एंग्री यंग मैन के खिताब से नवाजा।



यशराज ने 1973 में यशराज फिल्म्स से खुद का बैनर स्थापित किया और एक से बढ़कर एक फिल्में दी। प्रेम कहानी को पिरोने के जादूगर यशराज ने `दाग`, `त्रिशूल`, `कभी-कभी`, `चांदनी`, `डर`, `दिल तो पागल है`, `मोहब्बतें` एवं `वीर जारा` जैसी फिल्मों का निर्माण एवं निर्देशन किया। यशराज की फिल्में अपने संगीत के जरिए दर्शकों के दिलों में जगह बनाने में कामयाब रहीं।



पिछले दिनों यश चोपड़ा `जब तक है जान` की शूटिंग में व्यस्त थे। स्वास्थ्य खराब होने के कारण फिल्म की शूटिंग के कुछ हिस्सों की शूटिंग को रोक दिया गया था। उन्होंने इस फिल्म के साथ ही फिल्म निर्माण से संन्यास की घोषणा कर दी थी। यशराज को अपने 50 साल के फिल्मी करियर में छह राष्ट्रीय पुरस्कार एवं 11 फिल्म फेयर पुरस्कारों से नवाजा गया था।



अस्पताल पहुंचे शाहरुख, भरी आंखों से चूम लिया यश जी का सिर



अधूरा रह गया यश जी आखिरी सपना, आखिर कौन करेगा उसे पूरा



यश चोपड़ा का आखिरी इंटरव्यू

मुझे तो दीवार में एक कील गाड़नी तक नहीं आती थी: यश चोपड़ा

यश चोपड़ा की अंतिम फिल्म 'जब तक है जान' का ट्रेलर



0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें