• Hindi News
  • Result, Rajasthan Board Of Secondary Education, Ajmer, News

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का रिजल्ट जारी, बेटियां फिर आगे

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
श्रीगंगानगर। बेटियों ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि समाज में उनका स्थान महत्वपूर्ण है और अब उनके बारे में धारणाएं बदलनी चाहिए। राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से मंगलवार को घोषित सीनियर सेकंडरी कला वर्ग के परिणाम में बेटियों ने अपनी प्रतिभा दिखा दी है।
जिला मेरिट में पहले दस स्थान पर आए 13 स्टूडेंट्स में 10 बेटियां हैं। साथ ही, लड़कों का उतीर्ण प्रतिशत जहां 80.08 प्रतिशत रहा, वहीं यहां भी बढ़त बनाते हुए 86.80 प्रतिशत लड़कियां उतीर्ण हुई हैं। प्रथम श्रेणी प्राप्त करने के मामले में भी लड़कियां कहीं आगे हैं। 28.04 प्रतिशत लड़के प्रथम श्रेणी से उतीर्ण हुए, वहीं लड़कियों में यह आंकड़ा 46.14 प्रतिशत रहा है। हालांकि सूरतगढ़ का महेंद्र गोदारा जिला मेरिट में पहले और राज्य मेरिट में दूसरे स्थान पर रहने में कामयाब रहा है।
83.23 प्रतिशत रहा जिले का परीक्षा परिणाम
इस बार जिले से कला वर्ग में 17890 परीक्षार्थी शामिल हुए थे, जिनमें से 14889 उतीर्ण हुए हैं। जिले का परीक्षा परिणाम 83.23 प्रतिशत रहा। जिला मेरिट में सूरतगढ़ के पांच, विजयनगर के तीन, जिला मुख्यालय से एक, सादुलशहर से एक, जैतसर से एक, करणपुर से एक व एक स्टूडेंट अनूपगढ़ से है। इस परिणाम में सूरतगढ़ व विजयनगर का दबदबा रहा है।
जिला मुख्यालय से सिर्फ एक स्टूडेंट
राज्य मेरिट तो दूर, जिला मुख्यालय के नामी स्कूलों का कोई भी स्टूडेंट जिला मेरिट में भी अपनी उपस्थिति दर्ज नहीं करा पाया। जवाहरनगर स्थित विद्या मंदिर गल्र्स सीनियर सेकंडरी स्कूल की छात्रा दिव्यांशी गौड़ ने ही जिला मेरिट में नौवां स्थान हासिल किया है। जिला मेरिट में केवल अनूपगढ़ के गवर्नमेंट गल्र्स सीनियर सेकंडरी स्कूल की सपना ने सातवां स्थान पाया है। जिला मेरिट में आए 13 स्टूडेंट्स में 12 निजी स्कूलों के हैं।
फैक्ट फाइल
कुल रजिस्टर्ड 18381
लड़के 9865
लड़कियां 8516
कुल परीक्षार्थी 17890
लड़के 9517
लड़कियां 8373
लड़कों का लेखाजोखा
फस्र्ट डिवीजन 2670
सेकंड डिवीजन 4653
थर्ड डिवीजन 295
उतीर्ण 3
कुल उतीर्ण प्रतिशत 80.08 प्रतिशत
लड़कियों का लेखाजोखा
फस्र्ट डिवीजन 3864
सेकंड डिवीजन 3297
थर्ड डिवीजन 103
उतीर्ण 4
कुल उतीर्ण प्रतिशत 86.80 प्रतिशत
जिले का कुल परिणाम
फस्र्ट डिवीजन 6534
सेकंड डिवीजन 7950
थर्ड डिवीजन 398
उतीर्ण 7
कुल उतीर्ण प्रतिशत: 83.23 प्रतिशत
बुलंद हौसलों से मिलती है सफलता
जिला मुख्यालय के विद्या मंदिर गर्ल्स सीनियर सेकंडरी स्कूल की छात्रा दिव्यांशी गौड़ का कहना है कि हौसले बुलंद हों तो सफलता निश्चित रूप से मिलती है। दिव्यांशी ने जिला मेरिट में नौवां स्थान पाया है। दिव्यांशी भविष्य में प्रशासनिक सेवाओं में जाने की इच्छुक है।
खुद के ही टॉपर्स से कराते हैं प्रतिस्पर्धा
उधर, साइंस, कॉमर्स व आर्ट्स तीनों वर्गो की जिला मेरिट में उपस्थिति दर्ज कराने वाले जिले के संभवत: एकमात्र स्कूल न्यू होप मॉडल सीनियर सेकंडरी स्कूल विजयनगर में स्टूडेंट्स की प्रतिस्पर्धा पूर्व टॉपर्स से कराई जाती है। प्रिंसीपल जसविंद्रपालसिंह के अनुसार, सत्र की शुरुआत से ही बच्चों पर विशेष ध्यान दिया जाता है। सिलेबस पूरा होने के बाद कई बार रिवीजन कराई जाती है। छुट्टियों में बोर्ड कक्षाओं के स्टूडेंट्स को एक्सट्रा क्लासेज से तैयारी कराई जाती है। इस वर्ष घोषित नतीजों में इस स्कूल के साइंस में दो, कॉमर्स के चार व आर्ट्स में एक स्टूडेंट ने जिला मेरिट पर कब्जा जमाया है।
पूरा रिजल्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें