पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Release Of The First Was The Tiger 'Ravindra Kaush

रिलीज के पहले 'एक था टाइगर' रविन्द्र कौशिक के परिजनों को दिखाने की मांग

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

जयपुर.फिल्म अभिनेता सलमान खान की फिल्म एक था टाइगर की रिलीज को चुनौती देने वाली याचिका को एकलपीठ ने सुनवाई के लिए खंडपीठ में भेज दिया। साथ ही मामले में केन्द्र के सूचना व प्रसारण मंत्रालय को पक्षकार बनाया है।

न्यायाधीश आर.एस.राठौड़ ने विक्रम वशिष्ठ की याचिका पर बुधवार को सुनवाई करते हुए कहा कि विषय वस्तु को देखते हुए मामला खंडपीठ में भेजा जाए। खंडपीठ में सुनवाई गुरुवार को होगी। यह फिल्म 15 अगस्त को रिलीज होने वाली है। अधिवक्ता माधव मित्र ने बताया कि फिल्म विक्रम के मामा रविन्द्र कौशिक की जीवनी से मिलती है, लेकिन फिल्म बनाने से पहले परिवारजनों से कोई अनुमति नहीं ली।

गंगानगर निवासी रविन्द्र कौशिक को भारत सरकार ने 1973-74 में पाकिस्तान भेजा था। उन्होंने पाकिस्तान की सेना में भर्ती होकर देश के लिए जासूसी की । केन्द्र सरकार ने उन्हें टाइगर की उपाधि दी। जासूस होने का पता पाक सेना को 1983 में चला और 1985 में उन्हें फांसी की सजा सुनाई। लेकिन 1990 में सजा को खत्म कर दिया। 2001 में टीबी की बीमारी से लड़ते हुए उनकी मौत हुई। याचिका में गुहार की कि फिल्म रिलीज होने से पहले उन्हें दिखाई जाए व इसकी समीक्षा के लिए एक कमेटी गठित की जाए। यदि फिल्म रविन्द्र कौशिक के जीवन से प्रेरित हो तो उन्हें श्रृद्धांजलि स्वरूप समर्पित की जाए।