पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

इस सत्र में भी फेल नहीं होंगे छात्र!

9 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

बीकानेर/जोधपुर.राज्य की स्कूलों में कक्षा एक से आठवीं तक किसी भी छात्र को चालू शिक्षा सत्र में फेल नहीं किया जाएगा। वार्षिक परीक्षाएं समाप्त होने के बाद विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रवेश मिलेगा। निशुल्क एवं बाल शिक्षा का अधिनियम (आरटीई) के तहत प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय एक बार फिर इस संबंध में परिपत्र जारी करने की तैयारी कर रहा है।

आरटीई के तहत कक्षा एक से आठवीं तक पिछले साल की तरह इस बार भी बालकों को अगली कक्षा में कक्षोन्नत किया जाएगा।उन्हें मार्कशीट भी मिलेगी, लेकिन सतत मूल्यांकन की प्रक्रिया अभी लागू नहीं की जा सकी है। राज्य में जयपुर और अलवर के कुछ विद्यालय में पायलट प्रोजेक्ट के तहत सतत मूल्यांकन की प्रक्रिया प्रायोगिक तौर पर चल रही है।

अधिनियम के तहत स्कूलों में परीक्षाएं करवाने के बजाए विद्यार्थियों का सतत मूल्यांकन किया जाना है। यह प्रक्रिया गत वर्ष शुरू होनी थी, लेकिन इसके लिए पूरी प्रक्रिया नहीं बन सकी है। पिछले साल निदेशालय को आनन-फानन में परीक्षा करवाने का निर्णय लेना पड़ा था। नए शिक्षा सत्र में परीक्षा होगी या सतत मूल्यांकन, इसे लेकर फिलहाल कोई निर्णय विभागीय स्तर पर नहीं हो पाया है।