ऑटो इंफो /गाड़ी पर दूसरे कलर की विनाइल कोटिंग लीगल या चालान कटेगा, 3 बातें रखें ध्यान

Dainik Bhaskar

May 18, 2019, 11:52 AM IST


How to Wrap vinyl coating Car installation
X
How to Wrap vinyl coating Car installation

ऑटो डेस्क, संचित टंडन, नई दिल्ली. बाइक, कार, स्कूटर, एसयूवी... किसी को भी भीड़ से अलग दिखाना हो तो उस पर विनाइल कोटिंग करवाना आसान विकल्प बन रहा है। अगर आप भी इस विकल्प को अपनाने की सोच रहे हैं तो यह पता होना जरूरी है।

  • कितना ड्यूरेबल है

    विनाइल कोटिंग की परत हमेशा साथ देने वाली नहीं होती है। रैप करवाना एक अस्थाई विकल्प ही है। इसकी तुलना गाड़ी को दोबारा पेंट करवाने से नहीं हो सकती। भारत में तो मौसम भी इसका पक्ष नहीं लेता है क्योंकि भयंकर गर्मी या तेज बारिश और ठंड से यह परत खराब होने का डर रहता है। अगर सामान लादकर लंबे सफर पर जाएंगे तो भी यह परत घिस जाती है या उखड़ सकती है। उधड़ी हुई रैपिंग से बुरा शायद ही कुछ लगता हो।

  • लीगल है या कटेगा चालान

    यदि गाड़ी का रंग ही बदलवा लेंगे तो चालान कटना तय है। गाड़ी के रजिस्ट्रेशन कार्ड पर रंग का उल्लेख होता है। अगर रैप दूसरे रंग का चढ़वा रहे हैं तो यह नियम के खिलाफ है। विनाइल कोट की डिजाइन और रंग चुनते वक्त थोड़ी स्मार्टनेस दिखाएं, बदलाव तो हो ही लेकिन कानून भी ना टूटे। गाड़ी के रंग का ही विनाइल कोट चुनेंगे तो किसी मुसीबत में नहीं फंसेंगे। गाड़ी चोरी होने पर भी यह बदला रंग दिक्कत दे सकता है।

  • किससे करवाएंगे गाड़ी को रैप

    गाड़ी रैप करना आसान काम नहीं है। बेहद सफाई के साथ की जाने वाली इस कलाकारी में ब्लेड्स का उपयोग होता है। अगर इस परत को चढ़ाने वाला जानकार नहीं है तो सफाई इस काम में नजर नहीं आएगी और ब्लेड्स से ओरिजनल पेंट भी कट सकता है। जिस किसी को भी इस काम की जिम्मे दारी दें, उसका पुराना काम जरूर देख लें। बुरी तरह से रैप की गई गाड़ी का ओरिजनल रंग भी खराब हो जाता है।

  • यह भी जानिए

    • इस कोटिंग को कभी भी हटाया जा सकता है और कार का ओरिजनल रंग फिर हासिल किया जा सकता है।
    • कई कार कंपनियां इसका उपयोग कारों को डिजाइन करने में करती हैं।
    • ओरिजनल पेंट थोड़ा ही खराब हुआ है तो विनाइल कोट से डिजाइन करवाना बेहतर और सस्ता विकल्प है।

COMMENT