पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Bihar election
  • PM Modi Speech In Gaya And Bhagalpur : PM Modi Election Rally In Gaya Bhagalpur For Bihar Assembly Election 2020

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पीएम की रैली:गया में मोदी बोले - हमने नक्सलवाद समेट दिया; भागलपुर में कहा - भ्रष्टाचार की वजह से खत्म हुए यहां के कारोबार

गया/भागलपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पीएम मोदी ने आज सासाराम, गया और भागलपुर में चुनावी सभाओं को संबोधित किया।
  • गया के गांधी मैदान में चुनावी रैली को पीएम ने संबोधित किया
  • यहां भी वे बिहार में राजद के 15 सालों की सरकार की याद दिलाते रहे

पीएम मोदी की आज आखिरी चुनावी सभा भागलपुर में आयोजित थी। इस सभा की शुरुआत भी उन्होंने 'भारत माता की जय' के नारे के साथ की। फिर कहा - मंदार पर्वत, चंपा नगरी, अजगैबी-नाथ की धरती को प्रणाम करता हूं। बिहार चुनाव की ये मेरी तीसरी सभा है। नीतीश कुमार की अगुवाई में वीआईपी, हम, भाजपा साथ में विजयी हो रहे हैं। बिहार की जनता नीतीश कुमार को दोबारा सीएम बनाने का संकल्प ले चुकी है। तीन तलाक, जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटाने का, भारत की जांबाज सेना सरहद पर देश की शान बढ़ाये, सुप्रीम कोर्ट राम मंदिर निर्माण कराये - कुछ लोग इनका विरोध करते हैं। हमेशा विरोध करनेवाले ये लोग बिहार को विकास नहीं बर्बादी के पुराने रास्ते पर ही ले जाएंगे।

चुनावी एयरपोर्ट: प्रधानमंत्री जी…मैं सिर्फ कहने को एयरपोर्ट हूं, चुनाव के पहले भी भागलपुर का विमान आकर पटना से लौटा

'भ्रष्टाचार से भागलपुर-मुंगेर में कारोबार खत्म होते गए'

उन्होंने कहा - बिहार में लोकतंत्र के बीज बोये गये हैं। बिहार को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना है। इसको कौन सुनिश्चित करेगा। विकास कौन सुनिश्चित करेगा। वो लोग जिन्होंने परिवार का भला किया। या प्रदेश का विकास किया। पहले जो सरकारें रहीं उन्होंने आदिवासियों के लिए, उनके उत्थान के लिए सिर्फ झूठे वादे किए। छोटे दुकानदार, कारोबारी, मजदूर उनके जंगलराज में परेशान होते रहे। इतना भ्रष्टाचार था कि भागलपुर, मुंगेर में कारोबार खत्म होते गए। भागलपुर से गुजर रहे एनएच का चौड़ीकरण किया जा रहा है। बीते वर्षों में गंगा के ऊपर कई पुल बने हैं और कई पर काम चल रहा है। बाढ़, मुंगेर में रेल महा सेतु पहले ही पूरा हो चुका है। बिक्रमशिला के समानांतर फोरलेन पुल का निर्माण किया जा रहा है। इससे उत्तर बिहार से झारखंड आना-जाना भी आसान होगा। हमारे व्यापारियों और भगवान भोले के भक्तों को आसानी होगी। भागलपुर सहित बिहार के अनेक शहर और व्यापारिक केंद्र गंगा के किनारे बसे हुए हैं। गंगा में व्यापार से जुड़े जहाज चलने लगे हैं।

मोदी ने कहा - केंद्र ने बिहार के विकास के लिए एक योजना बनाई है। स्वामित्व योजना के जरिए ग्रामीणों को खेतों और घर का स्वामित्व कार्ड मिलेगा। यहां भी इस योजना का लाभ मिलेगा। यहां भी इसे बहुत तेजी से शुरू किया जाएगा। बिहार आत्मनिर्भरता के क्षेत्र में बढ़ेगा। नीतीश जी की अगुवाई में बीजेपी, जेडीयू, हम और वीआईपी को एक-एक वोट मिलना चाहिए। त्योहारों में अधिक से अधिक लोकल खरीदेंगे। मंजूषा को प्रोत्साहित करना है। मिट्टी के बर्तन और दूसरे शिल्पियों का इस्तेमाल कीजिए।

सासाराम में कुछ इस अंदाज में मिले पीएम मोदी और सीएम नीतीश।
सासाराम में कुछ इस अंदाज में मिले पीएम मोदी और सीएम नीतीश।

इससे पहले गया में हुई दिन की दूसरी सभा

सासाराम से बिहार में अपने चुनावी अभियान की शुरुआत करते प्रधानमंत्री ने गया में आज के दिन की दूसरी सभा की। शहर के गांधी मैदान में आयोजित इस रैली में भी वे बिहार में एनडीए सरकार के पहले के 15 सालों की याद दिलाने से नहीं चूके। उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए कहा कि बिहार का चुनाव दो कारणों से महत्वपूर्ण है। पहला कोरोना के बीच यह पहला चुनाव है, दूसरा यह एनडीए का चुनाव है।

आगे कहा - 90 के दशक में बिहार के लोगों को अव्यवस्था और कुशासन के दलदल में धकेल दिया गया। यहां अनेक युवा साथी हैं जो पहली बार वोट डाल रहे हैं। या जिनका जन्म नई सदी में हुआ है। आपको अंदाजा नहीं है कि बिहार ने कितना लंबा रास्ता तय किया है। हम बिहार में नई व्यवस्थाओं को बनते देख रहे हैं। इसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती है। रात में रेलवे स्टेशन पर उतरने के बाद लोग घर नहीं जाते थे, सारी रात स्टेशन पर गुजारते थे। ये वो दौर था जब लोग गाड़ी नहीं खरीदते थे क्योंकि एक खास राजनीतिक दल को पता चलने पर गाड़ी लूट लिए जाने का डर रहता था।

बिहार में मोदी प्रचार: मोदी को रामविलास याद आए, पर खुद को PM का हनुमान बता रहे चिराग का नाम लेने से भी बचे

प्रधानमंत्री ने कहा कि ये वो दौर था जब बिजली नहीं थी। लोग लालटेन और ढिबरी के भरोसे थे। अब बिहार में लालटेन की जरूरत खत्म हो गई है। एक वो दौर था बिहार के ग्रामीण इलाकों में सड़कों से जाना असंभव था। गाडि़यों की स्थिति खराब हो जाती थी। एक आज का समय है कि आप कहीं भी पहुंच सकते हैं। बिहार ने वो समय भी देखा है कि यहां के बच्चे छोटे-छोटे स्कूल के लिए भी तरसते थे।

मोदी ने कहा कि गया जी का एक क्षेत्र पूरी दुनिया के लिए ज्ञान और अध्यात्म का केंद्र रहा। कितनी बड़ी विडंबना है कि जहां बुद्ध को ज्ञान को मिला वहां नक्सलियों का तांडव था। हमने नक्सलवाद को एक छोटे से हिस्से में समेट दिया है। इस पूरे इलाके को विकास में लाने के लिए काफी काम किया गया है। नवादा, औरंगाबाद सहित वो जिले जो विकास में पीछे छूट गए थे उन्हें आकांक्षी जिलों के लिए चुना गया। आपको ललचाए लोगों से सावधान रहने की जरूरत है। महागठबंधन के रग-रग से बिहार का एक-एक नागरिक वाकिफ है। जिन्होंने नक्सलियों को खुली छूट दी वो एनडीए का विरोध कर रहे हैं। देश तोड़ने वाले और सौहार्द बिगाड़ने वालों पर जब कार्रवाई होती है तो वो विरोध करते ही हैं।

मोदी की जहां रैली, उस इलाके से रिपोर्ट सीरीज की खबरें

नीतीश के 7 निश्चय में से एक नल-जल योजना की सच्चाई; गांव में पाइप तो पहुंच गया, पानी नहीं

सासाराम की इस सड़क का सूरत-ए-हाल नहीं है सपाट, है बस गड्ढों का साम्राज्य

रोहतास के नीमा गांव के छात्र बोले- सिर्फ कागजों पर हो रहा काम, नहीं मिल रहा रोजगार

उज्ज्वला योजना से कई घर अभी तक नहीं हुए उज्ज्वल; महिलाएं बोली- किसी ने आज तक पूछा भी नहीं​​​​​​​

भागलपुर के जयप्रकाशनगर इलाके के लोग आज भी हवाई अड्डा मैदान जाकर करते हैं शौच​​​​​​​

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थिति तथा समय में तालमेल बिठाकर कार्य करने में सक्षम रहेंगे। माता-पिता तथा बुजुर्गों के प्रति मन में सेवा भाव बना रहेगा। विद्यार्थी तथा युवा अपने अध्ययन तथा कैरियर के प्रति पूरी तरह फोकस ...

और पढ़ें