पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Career
  • MBA Degree Should Be Based On Three Main Reasons; Don't Join MBA For Salary Hike, Join For Switch Careers Or For Higher Education Only.

MBA ट्रेंड्स:सैलेरी हाइक के लिए नहीं करिअर स्विच करने या हायर एजुकेशन के लिए ही लें MBA डिग्री, तीन प्रमुख कारणों पर आधारित हो MBA का फैसला

6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एक एक्जीक्यूटिव या स्टूडेंट के तौर पर आप अगर MBA करना चाहते हैं, तो आपके पास ठोस कारण होने चाहिए। इसमें सबसे पहला यह हो सकता है कि आप फ्रेश ग्रैजुएट हैं और बदलते जॉब मार्केट के लिए खुद को तैयार करना चाहते हैं। यह डिग्री आपको एक अच्छी जॉब हासिल करने में मदद कर सकती हैं। दूसरा कारण करिअर स्विच करना हो सकता है और तीसरा यह कि आप किसी डोमेन में स्पेशलिस्ट बने रहने की बजाय जनरल मैनेजमेंट में जाना चाहते हों। ऐसे में एक अच्छी MBA डिग्री मददगार होगी। अगर आप ज्यादा सैलरी के लिए MBA करने का फैसला कर रहे हैं तो यह जानना जरूरी होगा कि मैनेजमेंट में ग्रेट परफॉर्मर्स के लिए भी उतनी ही सैलरी ऑफर की जाती है, जितनी स्पेशलिस्ट रोल्स के लिए।

कैसे करें उचित ब्रांड का चुनाव

आप जिस देश में करिअर शुरू करना चाहते हैं, उसी देश में MBA प्रोग्राम चुनेंगे तो ज्यादा अवसर मिलेंगे। साथ ही सबसे विश्वसनीय MBA ब्रांड चुने। यहां आपको MBA की कॉस्ट, ड्यूरेशन, एजुकेशन लोन और प्लेसमेंट जैसे फैक्टर्स पर भी गौर करना होगा। इन सभी के आधार पर कुछ ऑप्शन सामने रखें। ध्यान रखें कि जो ब्रांड आप चुनेंगे, वह रिज्यूमे पर हमेशा रहेगा।

टाइमलाइंस का ध्यान रखना होगा

आप सभी ऑप्शंस पर विचार करें। हर MBA प्रोग्राम की चयन प्रक्रिया और डेडलाइंस अलग होती है। ऐसे में अगर आप कॉलेज या जॉब के साथ ही कई एप्लीकेशंस पर विचार कर रहे हैं, तो पहली बार में सफल होना मुश्किल हो सकता है। यहां आप अलग-अलग MBA के एप्लीकेशन प्रोसेस की टाइमलाइंस को नोट करें और सीमित एप्लीकेशंस के साथ क्वालिटी पर ध्यान दें, क्वांटिटी पर नहीं।

सही तैयारी से एडमिशन सुनिश्चित करें

इंटरनेशनल और एग्जीक्यूटिव MBA के लिए जीमैट, जबकि भारतीय बी-स्कूल्स के लिए कैट के अलावा सीईटी, मैट जैसे कई और एग्जाम्स होते हैं। जीमैट के लिए 700 से ऊपर का स्कोर अच्छा माना जाता है। दूसरी ओर देश में MBA के एंट्रेंस टेस्ट का स्कोर इंटरव्यू के लिए चयन का बड़ा फैक्टर है, इसलिए आपको इसमें अच्छा स्कोर सुनिश्चित करना होगा। इसके बाद इंटरव्यू लिया जाता है। मौजूदा दौर में वीडियो कॉल पर हो रही इंटरव्यू प्रक्रिया के लिए अपनी कम्युनिकेशन स्किल्स को मजबूत बनाने पर काम करें और खुद को तैयार रखें।

यह भी पढ़ें-

बीटेक ऑप्शन:बदलते जॉब मार्केट के लिए खुद को तैयार करना है जरूरी, एडवांस्ड इंजीनियरिंग से जुड़े ये बीटेक कोर्सेस रखेंगे आपको अपडेट

करिअर ट्रेंड्स:मंदी से अछूते रहे ये सेक्टर्स, जॉब अपॉर्चुनिटी में भी नहीं आई कोई कमी,आईओटी इंजीनियर और आईओटी आर्किटेक्ट की बढ़ेगी मांग