बिहार में तीसरे चरण का चुनाव संपन्न:35 जिलों में 58.16% वोटिंग, भोजपुर में 2 प्रत्याशियों के समर्थकों में झड़प, 2 का सिर फटा; नालंदा में SHO की गाड़ी पर पथराव

पटना2 महीने पहले
भोजपुर के जंगल महाल पंचायत के बूथ नंबर 112 पर मारपीट।

बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण की वोटिंग शुक्रवार को खत्म हो गई है। 35 जिलों के 50 प्रखंडों में 58.16% वोटिंग हुई है। सबसे अधिक मतदान गया में 65.42% रहा है। वहीं, दूसरे नंबर पर 62% के साथ नवादा जिला है। दो सीटों पर रिपोल कराए जाने का फैसला लिया गया है। समस्तीपुर के उजियारपुर में पंचायत समिति की एक सीट पर रिपोल होगा। इसके अलावा मुजफ्फरपुर में वार्ड 4 पर लोग फिर से मतदान करेंगे। बैलेट पेपर में गड़बड़ी के कारण रिपोल कराए जाएंगे। आगे जानिए, किस जिले में कितना हुआ है मतदान...

रोहतास- 60, पटना - 61.93, सिवान - 61.50, बक्सर - 49, भोजपुर -55.30, कैमूर - 61, नालंदा -57.83, गया -65.42, नवादा -62, औरंगाबाद -61.02, जहानाबाद - 59.77, अरवल - 62, सारण-50.26, गोपालगंज -55.06, पूर्वी चंपारण - 59.20, मधुबनी-55.73, समस्तीपुर -56.55, मधेपुरा -50.54, पूर्णिया -61.50, कटिहार -58.70, अररिया -52.85, बेगूसराय-61.58, खगड़िया -60.63, मुंगेर -61.53, भागलपुर -61.04, वैशाली -56, सीतामढ़ी- 58.85, सहरसा- 59.13

वहीं, तीसरे चरण की वोटिंग के दौरान कई जिलों में हल्की झड़प भी हुई। भोजपुर के जंगल महाल पंचायत के बूथ नंबर 112 पर दो प्रत्याशियों के समर्थकों के बीच झड़प हो गई। विवाद के बाद हुई मारपीट में 2 लोगों का सिर फट गया। इसके बाद बड़ी संख्या में सुरक्षाकर्मियों को तैनात कर दिया गया था। वहीं, नालंदा के नगरनौसा प्रखंड के खजुरा पंचायत के बूथ नंबर 19 पर थानाध्यक्ष नारद मुनी की गाड़ी पर ही लोगों ने पथराव कर दिया। इस मामले में पुलिस ने 4 लोगों को गिरफ्तार किया।

दरभंगा में SSP के काफिले पर हमला

दरभंगा में भी चुनाव के दौरान गश्ती पर निकले SSP बाबूराम के काफिले पर पथराव हो गया। एक गाड़ी का शीशा फूट गया। मतदान केंद्र पर से भीड़ हटाए जाने के बाद ग्रामीण आक्रोशित हो गए थे। इधर, गोपालगंज के भोरे इलाके की हुस्सेपुर पंचायत में मतदान के दौरान बवाल हो गया। यहां मतदान करने आए वोटरों ने BDO पर गाली-गलौज और धमकी देने का आरोप लगाया। इसके बाद नाराज लोगों ने बूथ से BDO को खदेड़ दिया। वहीं, बेतिया के सेमरी पंचायात के बूथ संख्या 305 पर बवाल हुआ। लोगों ने सेक्टर मजिस्ट्रेट की गाड़ी का शीशा फोड़ दिया। धीमी मतदान को लेकर बूथ पर ग्रामीण भड़क गए थे। इसके बाद बड़ी संख्या में पुलिस टीम को मतदान केंद्र पर भेज दिया गया।

औरंगाबाद के दुधार पंचायत में मतदान करने के लिए पहुंची बुजुर्ग महिला।
औरंगाबाद के दुधार पंचायत में मतदान करने के लिए पहुंची बुजुर्ग महिला।

नाव से पहुंचे थे मतदाता

वहीं, नवादा जिले के नक्सल प्रभावित रजौली इलाके में मतदाता नाव से मतदान केंद्र पर पहुंचे। यहां मतदान केंद्र और गांव के बीच में फुलवरिया डैम है। डैम को पार करने के लिए मतदाताओं ने नाव का सहारा लिया। उधर, नवादा के ही रजौली में सिरोडाबर पंचायत की बूथ संख्या-162 पर वोट देने के लिए शुरुआत के कई घंटों तक वोटर नहीं पहुंचे। ग्रामीणों ने बताया कि दो मुखिया प्रत्याशी के समर्थकों ने वोटिंग से पहले मारपीट की। इसके विरोध में मतदान का बहिष्कार किया गया। हालांकि, अधिकारियों की ओर से काफी समझाने पर मतदान केंद्र पर लोग पहुंचे थे।

गोपालगंज के बैकुंठपुर के BDO अशोक कुमार और ग्रामीणों के बीच विवाद।
गोपालगंज के बैकुंठपुर के BDO अशोक कुमार और ग्रामीणों के बीच विवाद।

मतदान अपडेट्स...

  • सीवान शेखपुरवा बूथ संख्या 173 और 174 पर प्रत्याशियों के समर्थकों और पुलिस में भिड़त।
  • पुलिस ने चटकाई लाठियां। मतदाताओं पर बोगस वोटिंग का लगाया आरोप।
  • नालंदा में SHO की गाड़ी पर पथराव, 4 लोगों को किया गया गिरफ्तार।
  • सहरसा के सोनबरसा प्रखंड में नामांकन के चौथे दिन पुलिस और पब्लिक में हुई भिड़ंत।
  • पत्थरबाजी में कई पुलिसकर्मी हुए चोटिल।
  • गया के अतरी प्रखंड के धुसरी पंचायत के बूथ नंबर 81 पर वोटिंग के दौरान दो पक्षों में मारपीट।
  • बोगस वोटिंग को लेकर दो पक्षों के बीच हुई भिड़ंत, कई लोग हुए घायल।
  • कटिहार के कोढ़ा प्रखंड के मतदान केंद्र संख्या 294 पर मतदानकर्मियों के लिए प्रत्याशी ने चाय-नाश्ता का प्रबंध कराया।
  • संदलपुर के मुखिया प्रत्याशी पर वोट मैनेज करने का आरोप लगा रहे हैं ग्रामीण।
  • मधुबनी के खुटोना पंचायत के बूथ नंबर 41 और 42 पर टेंट के नीचे वोटिंग हुई।
  • दोपहर 1:00 बजे तक कुल 18.29% मतदाताओं ने की वोटिंग।
  • प्रदेश भर में दोपहर 1:00 बजे तक 16,361 बोगस वोटर हुए रिजेक्टेड।
  • मुजफ्फरपुर के मीरापुर पंचायत के बूथ संख्या 62 पर 100 साल की बुजुर्ग महिला पहुंची मतदान करने।
  • चलने पर असमर्थ होने पर पोते और नाती ने गोद में लेकर पहुंचाया मतदान केंद्र।
  • बक्सर जिले के कोरानसराय बूथ संख्या 10 पर सुरक्षा कर्मी ने पोलिंग एजेंट को पीटा।
  • बेतिया के सेमरी पंचायात के बूथ संख्या-305 पर बवाल। सेक्टर मजिस्ट्रेट की गाड़ी का लोगों ने तोड़ा शीशा।
  • भोजपुर के बसौना पंचायत के बूथ नंबर-49 पर पुलिस के खिलाफ सड़क पर उतरे ग्रामीण। पुलिस पर बूथ से लोगों को भगाने का आरोप।
  • नवादा के रजौली में नाव से मतदान करने के लिए पहुंचे मतदाता।
  • समस्तीपुर के उजियारपुर प्रखंड क्षेत्र में आदर्श आचार संहिता की उड़ाई गई धज्जियां।
  • विभिन्न पदों के लिए मैदान में खड़े प्रत्याशियों के पोस्टर मतदान केंद्र के आस-पास चिपके दिखे।
  • गोपालगंज के भोरे के बूथ संख्या 183 पर ग्रामीणों ने BDO को खदेड़ा।
  • मुंगेर जिले के संग्रामपुर प्रखंड के बूथ नंबर 35 एवं 43 पर EVM खराब होने की वजह से मतदान बाधित।
  • समस्तीपुर में मतदान केंद्र संख्या 244 पर हंगामा। पोलिंग एजेंट और पुलिस कर्मी के बीच विवाद।
  • मुजफ्फरपुर में बूथ के आसपास भीड़ लगाने वाले को पुलिस खदेड़ा।
  • SSP जयंतकांत ने क्षेत्र में बूथों पर जाकर लिया चुनाव का जायजा।
  • सुपौल के छातापुर की बूथ संख्या 46 और 65 पर हंगामा हुआ।
  • वार्ड सदस्य के प्रत्याशियों ने चुनाव चिन्ह में गड़बड़ी का लगाया आरोप।
  • वैशाली के बसंतपुर पंचायत के मतदान केंद्र संख्या 43 पर नाव से पहुंचे कई मतदाता।
  • पटना जिले के नौबतपुर के चचौल पंचायत में बाइक से लाए जा रहे हैं वोटर।
  • समस्तीपुर के हरिशंकरपुर मतदान केंद्र संख्या 73 पर मुखिया के प्रचार का टीशर्ट पहन मतदान करने पहुंचा युवक।
जगदीशपुर प्रखंड के दावां गांव में मतदान के लिए जाती बुजुर्ग महिला।
जगदीशपुर प्रखंड के दावां गांव में मतदान के लिए जाती बुजुर्ग महिला।

35 जिलों के 50 प्रखंडों में चुनाव

सुबह साढ़े 6 बजे से ही महिला और पुरूष मतदान केंद्र पर पहुंचने लगे थे। मतदान केंद्र पर सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम किए गए थे। कैमूर के चैनपुर प्रखंड के जगरिया पंचायत में बूथ पर बायोमैट्रिक सिस्टम में गड़बड़ी आ गई थी। इस कारण मतदान काफी देर तक शुरू नहीं हो पाया था। जगदीशपुर प्रखंड में कौंरा पंचायत में बूथ संख्या 9,10 का EVM फिर से ठीक कर दिया गया था। इस चरण में 35 जिलों के 50 प्रखंडो में चुनाव होना है। सुबह 7 बजे से शुरू हुआ मतदान शाम 5 तक चलेगा। तीसरे चरण के कुल 23 हजार 128 पदों के लिए 81 हजार 616 उम्मीदवार मैदान में हैं।

रजौली प्रखंड के सिरोडाबर पंचायत की बूथ संख्या 162 पर नहीं पहुंचे मतदाता।
रजौली प्रखंड के सिरोडाबर पंचायत की बूथ संख्या 162 पर नहीं पहुंचे मतदाता।
सीतामढ़ी में मतदान करने पहुंचे लोग।
सीतामढ़ी में मतदान करने पहुंचे लोग।

6,646 भवनों में बनें थे 10,529 मतदान केंद्र
बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में 43,061 महिला उम्मीदवार मैदान में थे। 38,555 पुरुष उम्मीदवारों ने अपनी किस्मत आजमाया। ग्राम पंचायत सदस्य पद के 10,240 पदों के लिए 46,757 उम्मीदवार मैदान में थे। पंच के 10,240 पदों के लिए 16,464 उम्मीदवार मैदान में थे। मुखिया के 753 पद के लिए 6079 उम्मीदवार मैदान में थे। पंचायत समिति सदस्य पद के 1034 पद पर 6,706 उम्मीदवार मैदान में थे।

भोजपुर के दावां पंचायत के मध्य विद्यालय में बुजुर्ग महिला को गोदी में ले जाते परिजन।
भोजपुर के दावां पंचायत के मध्य विद्यालय में बुजुर्ग महिला को गोदी में ले जाते परिजन।
उतवारी जंगल महाल पंचायत की महिलाएं।
उतवारी जंगल महाल पंचायत की महिलाएं।
रोहतास के काराकट प्रखंड के दनवार पंचायत के बूथ नंबर 179-180 पर पंक्तिबद्ध मतदाता।
रोहतास के काराकट प्रखंड के दनवार पंचायत के बूथ नंबर 179-180 पर पंक्तिबद्ध मतदाता।
खगड़िया में संवेदनशील बूथों का जायजा ले रहे डीएम और एसपी।
खगड़िया में संवेदनशील बूथों का जायजा ले रहे डीएम और एसपी।

3144 प्रत्याशी निर्विरोध हो चुके थे निर्वाचित
सिंगल नॉमिनेशन होने की वजह से तीसरे चरण की 3,144 पदों पर निर्विरोध निर्वाचन हो गया है। इसमें सबसे अधिक पंच पद के लिए 3,020, ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए 118, मुखिया पद के लिए 2, पंचायत समिति सदस्य पद के लिए 3 और ग्राम कचहरी सरपंच पद के लिए 1 पद के लिए निर्विरोध निर्वाचन हुआ है।

तीसरे चरण में 186 पद खाली रह गए
तीसरे चरण के 186 पदों पर कोई नामांकन नहीं हुआ था। इसमें ग्राम पंचायत सदस्य पद के लिए 7, पंच पद के लिए 176 और ग्राम कचहरी सरपंच पद के लिए 3 पद शामिल हैं। आयोग का कहना है कि इन पदों पर किसी भी प्रत्याशी ने दावेदारी नहीं की।

खबरें और भी हैं...