चाची और भतीजे के बीच होगी चुनावी टक्कर:पिता की मौत के बाद बेटे ने जिला परिषद के लिए भरा नामांकन, इधर चाची पहले से ही मैदान में टक्कर देने को हैं तैयार

जहानाबाद8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
चाची अनुराधा देवी और भतीजा अभिषेक कुमार। - Dainik Bhaskar
चाची अनुराधा देवी और भतीजा अभिषेक कुमार।

जहानाबाद जिले के घोसी प्रखंड में पंचायत चुनाव के दूसरे चरण में मतदान होना हैं। इस प्रखंड में 29 तारीख को मतदान होगा। जहां 226 पदों के लिए 778 प्रत्याशी नामांकन कराया है।

वहीं इस क्षेत्र में कुल 101 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। जहां दो जिला परिषद के सीट हैं। दोनों जिला पार्षद में 5-5 पंचायत के बनाए गए थे। लेकिन घोसी भाग 1 तीन पंचायत को नगर पंचायत का दर्जा मिल गया। इसी के कारण इस क्षेत्र में दो पंचायतों पर जिला पार्षद सीट बनाया गया।

इस क्षेत्र से कुल 11 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। लेकिन इस दौरान सबसे दिलचस्प बात ये है कि यहां से चाची और भतीजे की टक्कर हो रही है। इस जिले की सबसे लंबी राजनीति करने वाले रामाश्रय प्रसाद यादव जो मुखिया से लेकर सांसद तक बन चुके है। उनके दो पुत्र हैं अजीत और अनिल। रामाश्रय प्रसाद सिंह बड़े पुत्र अजीत की कोरोना बीमारी से मौत हो गई। वहीं जिला परिषद भाग 1 से जिला परिषद अनुराधा देवी निवर्तमान जिला पार्षद है, जो अनिल कुमार की पत्नी है।

लेकिन इस बार अजीत कुमार के पुत्र अभिषेक कुमार ने जिला परिषद भाग 1 से प्रत्याशी बने है। जिसके बाद से चाची और भतीजे जोर शोर से चुनाव प्रचार कर रहे हैं। कोई अपने ससुर के नाम पर वोट मांग रही है तो दूसरे अपने दादाजी के किए हुए कार्य के बदले। वहीं चाची और भतीजा के बीच हो रहे इस चुनावी लड़ाई के कारण जनता दुविधा में पड़ी है।

खबरें और भी हैं...