बिहार पंचायत चुनाव:सातवें चरण के 5 उम्मीदवारों की वोटिंग से पहले हुई मौत, मौत के कारण आज नहीं हो सका चुनाव

पटना12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सांकेतिक तस्वीर। - Dainik Bhaskar
सांकेतिक तस्वीर।

बिहार पंचायत चुनाव के सातवें चरण का मतदान संपन्न हो चुका है। सातवें चरण में मतदान से पहले 5 उम्मीदवारों की मौत हो गई, जिसकी वजह से यहां चुनाव टल गया । इस चरण में दो जगहों पर राज्य निर्वाचन आयोग ने पुनर्मतदान कराने का फैसला लिया है । ये दोनों ही सारण जिले के पंचायत है ।

सातवें चरण के 5 उम्मीदवारों की वोटिंग से पहले हुई मौत

बिहार पंचायत चुनाव के सातवें चरण में 5 जगह पर उम्मीदवारों की मौत के कारण चुनाव टल गया है । कैमूर जिला के भगवानपुर की पहाड़िया पंचायत में ग्राम पंचायत मुखिया पद के एक उम्मीदवार के मौत के कारण यहां चुनाव टल गया है । इसी तरह से पूर्वी चंपारण के मेहसी प्रखंड के उझीलपुर पंचायत के क्षेत्र संख्या 3 में ग्राम पंचायत मुखिया पद का चुनाव टल गया है । पूर्णिया के कस्बा प्रखंड के संझौली पंचायत के क्षेत्र संख्या 7 में ग्राम पंचायत सदस्य और पश्चिमी चंपारण के मैनाटांड़ प्रखंड के इनरवा क्षेत्र संख्या 7 में पंचायत समिति सदस्य का चुनाव उम्मीदवार की मौत के कारण नहीं हो सका।

पुनर्मतदान कराने का फैसला लिया गया

वैशाली जिला के गरौल प्रखंड के सोन्धो दुल्लह के वार्ड संख्या 9 में ग्राम पंचायत सदस्य के पद भी एक उम्मीदवार की मौत होने के कारण चुनाव टल गया है। सारण जिला के दो पंचायतों में राज्य निर्वाचन आयोग ने पुनर्मतदान कराने का फैसला लिया है। ये जलालपुर प्रखंड के समहौता का मतदान केन्द्र 102 और रेवाड़ी पंचायत का मतदान केंद्र संख्या 117 और 118 है। यहां पंचायत समिति सदस्य पद के लिए फिर से चुनाव होगा , ईवीएम कमिशनिंग में हुई गड़बड़ी के कारण आयोग ने यहां पुर्नमतदान कराने का फैसला लिया है ।

17 और 18 नवंबर को रिजल्ट होगा जारी

सातवें चरण की सीटों पर मतदान संपन्न होने के बाद अब रिजल्ट की बारी है । सातवें चरण की मतगणना 17 और 18 नवंबर को होगी । मतगणना सुबह 8 बजे से सभी 37 जिलों के जिला मुख्यालयों पर होगी । सातवां चरण पंचायतों की संख्या से लिहाज से बेहद अहम है । 11 चरणों में हो रहे पंचायत चुनाव में सबसे अधिक 63 प्रखंडों और 903 पंचायतों में चुनाव सातवें चरण में संपन्न हुआ है ।

खबरें और भी हैं...