राजद विधायक ने राज्य निर्वाचन आयोग को लिखा पत्र:जगदीशपुर विधायक ने SDM, CO और BDO पर लगाया मतगणना के दौरान अनियमितता का आरोप, दोबारा काउंटिंग कराने की मांग की

भोजपुर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जगदीशपुर के राजद विधायक राम विशुन सिंह 'लोहिया'। - Dainik Bhaskar
जगदीशपुर के राजद विधायक राम विशुन सिंह 'लोहिया'।

भोजपुर जिले के जगदीशपुर के राजद विधायक राम विशुन सिंह 'लोहिया' ने राज्य निर्वाचन आयोग को एक पत्र लिखा है। पत्र के माध्यम से राजद विधायक ने जगदीशपुर पंचायत में दोबारा मतगणना कराने की मांग की है। उन्होंने मतगणना के दौरान SDM, CO और BDO पर अनियमितता बरतने का आरोप लगाया है। बिहार पंचायत चुनाव के तीसरे चरण के परिणाम के बाद जगदीशपुर पंचायत में मंगलवार देर रात तक हारे हुए प्रत्याशियों ने जमकर हंगामा किया था। उनका कहना है कि चुनाव का परिणाम गलत तरीके से दिया गया है। जिसके बाद स्थानीय विधायक ने पत्र लिखकर रिकाउंटिंग की मांग की।

राजद विधायक ने राज्य निर्वाचन आयोग को लिखा पत्र।
राजद विधायक ने राज्य निर्वाचन आयोग को लिखा पत्र।

प्रत्याशियों को बिना बुलाए घोषित किया परिणााम
विधायक राम विशुन ने पत्र में लिखा कि भोजपुर जिले के जगदीशपुर प्रखंड में पंचायत चुनाव 8 अक्टूबर को संपन्न हुई थी। जिसका परिणाम 10 अक्टूबर को आरा जिला मुख्यालय के हित नारायण क्षत्रीय स्कूल में घोषित किया गया। उस दौरान बिना किसी प्रत्याशी और अभिकर्ता के आए ही मतगणना कर परिणाम फल लिखित रखा हुआ था। मतगणना के दौरान किसी प्रत्याशी को नहीं बुलाया गया था। बाद में प्रत्याशियों को मतगणना कक्ष में बुला कर बताया गया कि यह आपका परिणाम है, आप नोट कर लो ।

मतगणना के दौरान अनियमितता का लगाया आरोप
उन्होंने कहा कि किसी भी पद का ईवीएम, किसी भी प्रत्याशी के सामने नहीं खोला गया। ऐसी धांधली किसी भी चुनाव में नहीं हुई है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि जगदीशपुर के प्रखंड विकास पदाधिकारी, अनुमंडलाधिकारी, जगदीशपुर एवं अंचलाधिकारी, जगदीशपुर की मिली भगत से मतगणना में भारी अनियमितता बरती गई है। इन सभी बिंदुओं का जिक्र करते हुए राजद विधायक ने राज्य निर्वाचन आयोग से पंचायत में दोबारा मतगणना कराने की बात कही।
हारे हुए प्रत्याशियों का कहना है कि द्वितीय चरण के चुनाव की तरह तृतीय चरण के चुनाव परिणाम में बड़ा बदलाव देखने को मिला था। जगदीशपुर की जनता ने इस चुनाव में 20 पंचायत के मुखिया में से 14 पंचायत के मुखिया को नकार दिया था।

खबरें और भी हैं...