• Hindi News
  • Bihar
  • Ara
  • Ara News despite the ban trucks come at night from patna side on koilwar bridge the entry gang makes it across

रोक के बावजूद कोईलवर पुल पर पटना की तरफ से रात में आते हैं ट्रक, इंट्री-गिरोह कराता है पार

Ara News - जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए भोजपुर और पटना जिला प्रशासन ने आपसी सामंजस्य बनाकर पटना की ओर से कोईलवर पुल...

Dec 05, 2019, 06:12 AM IST
जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए भोजपुर और पटना जिला प्रशासन ने आपसी सामंजस्य बनाकर पटना की ओर से कोईलवर पुल होते हुए भोजपुर व छपरा आने वाली वाहनों पर रोक लगा दिया था। जिसे लेकर डीएम रोशन कुशवाहा ने 21 नवम्बर से बिहटा की ओर कोईलवर पुल की तरफ आने वाले मालवाहक ट्रक, बालू लोड ट्रक, गैस गाड़ियों के परिचालन पर नो-इंट्री लगा दिया था। जिला प्रशासन के इस आदेश के बाद भी कोईलवर पुल पर तैनात पुलिसकर्मी रात होते ही ट्रकों को कोईलवर पुल के रास्ते आरा या छपरा की तरफ भेज देते हैं। इन ट्रकों को पास कराने के लिए यातायात में तैनात पुलिसकर्मी सेवा शुल्क लेते हंै। जिसके लिए पुल के पूर्वी छोर पर दलाल भी सक्रिय रहते हैं। कोईलवर पुल पार कर आरा की तरफ आने वाले ट्रक शाम में ही बिहटा होते हुए परेव बाजार पर पटना जिला की सीमा पर पहुंचते हंै। परेव बाजार में वे रात होने का इंतजार करते हैं। इसके बाद पहले से तय सेटिंग-गेटिंग के अाधार पर रात दस बजे से ट्रकों को पास कराने का धंधा शुरू होता है। एक बार में 15- 20 ओवरलोड ट्रक को कोईलवर पुल से इस पार कराया जाता है। जिन ट्रकों को दलाल आरा-छपरा फोरलेन सड़क तक छोड़ते हैं, जिनके बदले वे प्रति ट्रक रुपया लेते हंै। ट्रकों को पार कराने वाले इंट्री गिरोह के दलाल कोईलवर थाना के गश्ती-दल से बच यह धंधा को संचालित करते हैं। ट्रक को पार कराने का वीडियो भी वायरल होता रहता है।

देर रात के समय कोईलवर पुल को पार कर रहा ट्रक

गुरुवार को सीसीटीवी हो जाएगा चालू : कार्यपालक पदाधिकारी

नगर पंचायत, कोईलवर कार्यपालक पदाधिकारी जुल्फिकार अली प्यामी ने बताया कि कोईलवर पुल समेत नगर में 12 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। जिनका तार टूट गया। उसे मरम्मत कराया जा रहा है। गुरुवार को सभी सीसीटीवी कैमरे को दुरुस्त करा दिया जाएगा।

पुल पर निगरानी के लिए लगा सीसीटीवी खराब

जिला प्रशासन ने नगर पंचायत कोईलवर के कार्यपालक पदाधिकारी को अब्दुल बारी कोईलवर पुल पर 24 घंटा मॉनिटरिंग के लिए पावर-बैकअप एवं सीसीटीवी का आदेश दिया था। इसके बावजूद कोईलवर पुल पर लगे सीसीटीवी कई महीनों से खराब है। इधर, डीएम के आदेश के 10 दिन बीत जाने के बाद भी सीसीटीवी को ठीक नहीं कराया गया। जिस कारण पुल पर मॉनिटरिंग नहीं हो रही है। जिसका फायदा यातायात पुलिस में तैनात जवान और दलाल उठा रहे हंै।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना