5 लुटेराें ने हाेटल में रची थी व्यवसायी से लूट की साजिश, नकद व जेवर सहित 3 धराए

Araria News - अररिया-फारबिसगंज फोरलेन पर चार दिन पूर्व आभूषण व्यापारी हुए लूटकांड का पुलिस ने उद्भेदन कर लिया है। पुलिस ने...

Bhaskar News Network

Sep 16, 2019, 06:21 AM IST
Araria News - 5 robbers had conspired in hotel robbery robbed 3 including cash and jewelry
अररिया-फारबिसगंज फोरलेन पर चार दिन पूर्व आभूषण व्यापारी हुए लूटकांड का पुलिस ने उद्भेदन कर लिया है। पुलिस ने लूटकांड में शामिल पांच अपराधियों में से तीन को 15 हजार नकद और अाधा किलो जेवर के साथ गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार लुटेरों में मो. सकील और मो. एजाज हड़ियाबाड़ा का रहने वाला है। जबकि शहजाद धामा का रहने वाला बताया जा रहा है। तीनों को आवश्यक कागजी कार्रवाई के बाद पुलिस ने तीनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। मौके पर डीएसपी कुमार देवेन्द्र सिंह ने बताया कि घटना में पांच लुटेरे शामिल थे। दो अन्य लुटेरे को भी पुलिस चिह्नित कर लिया है। जल्द ही दोनाें को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

लूट के पैसे से अपराधियों ने एक पेटी खरीदी थी प्रतिबंधित दवा

पूछताछ में लुटेरों ने यह भी खुलासा किया कि घटना को अंजाम देने के बाद सभी लोग किसी लाइन होटल में खाना खाया। इसके बाद सकील आैर लुट कांड के मुख्य सरगना एक ही मोटरसाइकिल से एक नशीली दवा के थोक व्यवसायी के पास पहुंचा। वहां पर रात के करीब 11 बजे एक पेटी काेरेक्स की खरीददारी की। कोरेक्स की खरीदारी के बाद दोनों ने एक एक बोतल नशीली दवा का सेवन भी किया। इसके बाद दोनों अपने अपने स्थान के लिए चले गए।

पुलिस ने गिरफ्तार अपराधियों से लूट की 15 हजार राशि भी बरामद की

गिरफ्तार अारोपी से पूछताछ करते डीएसपी व थानाध्यक्ष।

दुकान से ही की जा रही थी व्यापारी की रेकी

डीएसपी ने बताया कि आभूषण व्यवसायी प्रतिदिन संध्या में अपना घर चला आता था। मोहर्रम के दूसरे दिन पांच लुटेरों ने उसे लूटने की योजना एक होटल में बैठकर तैयार बनाई था। पुलिस पूछताछ में लुटेरों ने खुलासा किया कि उनलोगों को पहले से पता था कि व्यापारी किस समय में घर लौटता है। बावजूद उसके दो साथी दुकान से पीछा करते हुए आया। जबकि तीन लोग पेट्रोल पंप के निकट किसी दुकान के पास तीन अन्य लोग पूर्व से इंतजार कर रहे थे। लुटेरों ने यह भी खुलासा किया कि दिन से ही उसके दुकान की रेकी की जा रही थी। जब उनलोगाें को पता चल गया कि उसके दुकान में पांच किलो से अधिक के जेवरात है। तब वे लोग लूट की योजना तैयार किया।

10 हजार में किसान को बेच रहा था हार, पुलिस को लगी भनक

डीएसपी ने बताया कि घटना के दूसरे दिन लूट कांड के सरगना चांदी का हार बेचने के लिए किसी किसान के पास पहुंचा। सरगना ने किसान से हार की कीमत 10 हजार रुपए की मांग की। लेकिन वह पांच हजार रुपए ही देने के लिए तैयार हुआ। उसी समय उसके साथ गिरफ्तार सकील भी वहां पहुंच गया। सकील सरगना को लेकर किसी ओर जगह हार बेचने के लिए चला गया। इस बात की जानकारी पुलिस को लगी। जानकारी मिलते ही पुलिस पहले सकील को गिरफ्तार किया। इसके बाद उसके सहयोग शहजाद एवं एजाज को भी पकड़ लिया। तीनों के निशानदेही पर पुलिस जब सरगना को दबोचने के लिए छापेमारी की तो वह घर से फरार हो गया।

घटना के उद्भेदन में ये सब थे शामिल

घटना का उद्भेदन के लिए एसपी धूरत शायली ने सभी पुलिस कर्मियों को जरुरी दिशा निर्देश दी थी। उनके दिशा निर्देशन में डीएसपी के साथ नगर थानाध्यक्ष किंग कुन्दन, आरएस ओपी प्रभारी शैलेन्द्र कुमार सहित अन्य पुलिस कर्मियों ने घटना के चार दिन बाद ही कांड का उद्भेदन कर लिया।

X
Araria News - 5 robbers had conspired in hotel robbery robbed 3 including cash and jewelry
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना