• Hindi News
  • Rajya
  • Bihar
  • Araria
  • Raniganj News in the evening the woman was referred to purnia from sadar hospital the body was recovered from the canal in the morning

शाम में महिला को सदर अस्पताल से पूर्णिया किया था रेफर, सुबह नहर से शव बरामद

Araria News - लगाए जा रहे कयास, यदि एंबुलेंस कर्मी ने पूर्णिया में कराया होता भर्ती तो नहर पर नहीं मिलती लाश भास्कर न्यूज |...

Dec 04, 2019, 09:06 AM IST
Raniganj News - in the evening the woman was referred to purnia from sadar hospital the body was recovered from the canal in the morning
लगाए जा रहे कयास, यदि एंबुलेंस कर्मी ने पूर्णिया में कराया होता भर्ती तो नहर पर नहीं मिलती लाश

भास्कर न्यूज | अररिया

गरीब, लाचार और अज्ञात के स्वास्थ्य के प्रति विभाग कितना गंभीर है, इसका उदाहरण फिर एक बार फिर सामने आया है। रामपुर कोदरकट्‌टी पंचायत के बालू चौक के निकट नहर मार्ग में सोमवार की सुबह जिस अज्ञात वृद्ध महिला का शव पुलिस ने बरामद किया था। उस महिला को सदर अस्पताल अररिया से गत रविवार को गंभीर अवस्था में एंबुलेंस 102 पर बेहतर चिकित्सा के लिए रेफर किया गया था। लेकिन एंबुलेंस कर्मी उसे पूर्णिया तक पहुंचाया की नहीं यह जांच का विषय बन गया है। लेकिन रेफर होने के दूसरे दिन ही उसका शव बरामद होने के बाद स्वास्थ विभाग में खलबली मची है। महिला को एंबुलेंस कर्मी ने पूर्णिया पहुंचाया या मरने के लिए नहर किनारे छोड़ आया, अब अस्पताल प्रशासन इस बात की जांच में जुटा है।

सुबह कोदरकट्‌टी के बालू चौक के निकट नहर मार्ग पर मिला शव

जलावन चुनने गई बच्चियों ने शव देखकर दी थी सूचना

जानकारी के अनुसार अज्ञात वृद्ध महिला को गंभीर अवस्था में किसी ने सदर अस्पताल अररिया में भर्ती कराया था। जहां डाॅ. जितेन्द्र प्रसाद, डाॅ. अनसार आलम ने उसकी चिकित्सा की। प्राथमिकी उपचार के बाद भी जब उसकी स्थिति में सुधार नहीं हुआ तो चिकित्सकों ने महिला को बेहतर इलाज के लिए पूर्णिया रेफर कर दिया। देर संध्या छोटे एंबुलेंस 102 पर उसे पूर्णिया भेजा गया था। लेकिन सुबह मेंं उसका शव पाया गया। हालांकि नगर थाना पुलिस के समक्ष कुछ जलावन चुनने वाली बच्चियों ने बताया था कि महिला को एक दो दिन पूर्व से देखा गया था। लेकिन बच्चियों ने जिस महिला को देखा था, ये वही महिला है इस बात की पुष्टि फिलहाल नहीं हो रही है।

अररिया स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्था लचर

समाज सेवी मजहर इमाम, मो. इश्तियाक आदि ने बताया कि अररिया स्वास्थ्य विभाग की व्यवस्था लचर है। अस्पताल में किसी को कोई देखने वाला नहीं है। इन दोनों का कहना है एंबुलेंस कर्मी महिला को पूर्णिया तक पहुंचाया ही नहीं होगा। कर्मी उससे पल्ला झाड़ने के लिए नहर मार्ग पर छोड़ दिया होगा। यदि पूर्णिया तक पहुंचाया गया होता तो महिला का शव बालू चौक पर नहीं मिलता। इन लोगों ने पूरे मामले की जांच कर दोषी के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है।

प्रबंधक ने एंबुलेंस कर्मी से मांगे पूर्णिया में भर्ती कराने के प्रमाण

सदर अस्पताल प्रबंधक ने एंबुलेंस कर्मी से मांगी रिपोर्ट

अस्पताल प्रबंधक विकास आनंद ने बताया कि महिला को प्राथमिक उपचार के बाद एंबुलेंस से पूर्णिया भेजा गया था। उसे पूर्णिया तक पहुंचाया गया या नहीं, इसकी पूरी जानकारी कर्मी से मांगी गई है। लेकिन प्रबंधक को भी अंदेशा है कि महिला पूर्णिया तक नहीं छोड़ा गया होगा। यदि छोड़ा गया होता तो सुबह में वह बालू चौक पर नहीं मिलती। प्रबंधक ने कहा कि यदि एंबुलेंस कर्मी दोषी पाए जाते हैं तो उसके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कहा कि इस मामले में अस्पताल प्रबंधन गंभीर है।

X
Raniganj News - in the evening the woman was referred to purnia from sadar hospital the body was recovered from the canal in the morning
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना