• Hindi News
  • Rajya
  • Bihar
  • Araria
  • Forbesganj News people from pipra tappu tola majhua kamta baratpur villages stranded in 300 feet of floods which are being threatened by sahababha panchayat

सहबाजपुर पंचायत सेे धमदाहा जाने वाली सड़क 300 फीट कटी बाढ़ में फंसे पिपरा, टप्पू टोला, मझुआ, कामता, बरातपुर गांवों के लोग

Araria News - रूपेश कुमार/सुनील आजाद | फारबिसगंज फारबिसगंज प्रखंड में बढ़ते बाढ़ के जलस्तर ने 14 पंचायतों भारी तबाही मचानी शुरू...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:20 AM IST
Forbesganj News - people from pipra tappu tola majhua kamta baratpur villages stranded in 300 feet of floods which are being threatened by sahababha panchayat
रूपेश कुमार/सुनील आजाद | फारबिसगंज

फारबिसगंज प्रखंड में बढ़ते बाढ़ के जलस्तर ने 14 पंचायतों भारी तबाही मचानी शुरू कर दी है। जहां सहबाजपुर पंचायत के धमदाहा जाने सड़क 300 फीट व बोचाभाग सहित अन्य सड़क जहां तहां कटना शुरू हो गया है। जिसमें 80 हजार से अधिक लोग प्रभावित हैं। पिपरा, झोकरन, बघुआ, नीरपुर, भवानीपुर, नया टोला, टप्पू टोला मझुआ, कामता, अमहरा सहित अन्य अन्य गांवों में 35 हजार से अधिक लोग बाढ़ में फंसे हुए हैं जिसके राहत बचाव के लिये एनडीआरएफ की टीम पहुंच रेस्क्यू कर रही है लेकिन वे फिलहाल नाकाफी ही इधर राहत बचाव के लिए बाढ़ में फंसे लोग परेशान है जिन्हें दूसरे दिन भी राहत नहीं मिल पायी है। वहीं बांध टूटने का डर समाया हुए है वो दिन में लाठी लेकर पहरा देते हुए रतजगा कर रहे हैं। ग्रामीणों ने कहा कि प्रशासनिक व जनप्रतिनिधियों के उदासीनता के कारण बाढ़ की त्रासदी झेलने को मजबूर हैं।

सरकारी नाव की व्यवस्था नहीं होने से कारण कामता घाट, रमई घाट में लोग चंदा मांग कर पूरे व जर्जर नाव को रिपेयर कर ऊंचे स्थानों पर जाने के लिये किसी तरह नैया पार कर रहे हैं।

रेस्क्यू करती एनडीआरएफ की टीम।

300 फीट कटाव के कारण संपर्क टूटा

परमान नदी का पानी फारबिसगंज से धमदाहा जाने वाली सड़क के कटाव के कारण संपर्क टूट गया है वहीं सैकड़ों घरों में घुस गया है। स्थानीय लोग जैसे तैसे या नाव के सहारे किसी भी स्थिति में सड़क पार करने को विवश है। फारबिसगंज और कुर्साकांटा को जोड़ने वाली यह सड़क पूर्व में डोमरा बांध कहलाता था, जिसपर अब सड़क बन चुकी है। अररिया में फारबिसगंज प्रखंड क्षेत्र के पिपरा में परमान नदी उफान पर है जिससे चचरी पुल बह गया है।

इन गांवों में ज्यादा तबाही

बाढ़ का जलस्तर बढ़ने से अमौना, बथनाहा, मटियारी, पिपरा सहबाजपुर, मझुआ, कुशमाहा, अमहरा, तिरसकुण्ड, रमई, खैरखां, खवासपुर, आरटीमोहन, बरातपुर, कामता, बलियादिह, खमकौल, ओसरी, रामगंज, नीरपुर, अमौना, बघुआ, पोटरी, बाधमारा, कामता, बलियाडीह, अम्हारा, गुर्मी आदि गांव ज्यादा प्रभावित हैं। बाढ़ से किसानों के धान रोपाई के बिचड़ा पानी में डूब गए हैं। जूट की फसल को भी भारी नुकसान हुआ है।

X
Forbesganj News - people from pipra tappu tola majhua kamta baratpur villages stranded in 300 feet of floods which are being threatened by sahababha panchayat
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना