3 राजस्वकर्मी पर 20 पंचायतों की जिम्मेदारी, बढ़ रहे भू-विवाद

Araria News - अंचल क्षेत्र में राजस्व विभाग के कार्यों के निष्पादन के लिए 3 राजस्व कर्मचारी 20 पंचायतों का राजस्व कार्य निबटा रहे...

Nov 11, 2019, 06:51 AM IST
अंचल क्षेत्र में राजस्व विभाग के कार्यों के निष्पादन के लिए 3 राजस्व कर्मचारी 20 पंचायतों का राजस्व कार्य निबटा रहे हैं। जिसमे एक राजस्व कर्मचारी के जिम्मे अंचल निरीक्षक का भी भार है। राजस्व कर्मचारी की कमी के कारण राजस्व लगान के अलावा भू नामांतरण व सरकार प्रायोजित योजना समय पर पूरा नहीं हो रहा है।

निजी कर्मी के माध्यम से कार्य का निष्पादन कराया जाता है। निजी कर्मी ही राजस्व कर्मी की अनुपस्थिति में अभिलेखों का संधारण भी करते हैं। जिस कारण अंचल क्षेत्र में भू विवाद की समस्या जटिल होती जा रही है। जानकारी अनुसार अंचल क्षेत्र के कार्य निष्पादन के लिए पूर्व में मौजा को हल्का में विभक्त कर कार्य निष्पादन किया जाता था। मौजा को 8 हल्का में बांट कर राजस्व कार्य का निष्पादन किया जाता था।

विभागीय निर्देश के आलोक में हल्का को विलुप्त कर दिया गया। पंचायत में पड़ने वाले सभी मौजा को एक इकाई बना दिया गया। जिसके बाद से पंचायत के अधीन पड़ने वाले सभी मौजा के कार्य निष्पादन के लिए पंचायत वार राजस्व कर्मचारी को प्रभार देकर कार्य का निष्पादन किया जा रहा है। लेकिन राजस्व कर्मचारी की कमी के कारण एक से अधिक पंचायत का दायित्व निभा रहे हैं। एक से अधिक पंचायत का प्रभार रहने के कारण राजस्व कर्मचारी निर्धारित पंचायत में समय नहीं दे पाते हैं। राजस्व कर्मचारी की अनुपस्थिति में निजी कर्मी द्वारा राजस्व अभिलेख के कार्य का निष्पादन करते हैं।

तीन राजस्व कर्मचारी में विकास कुमार को 6 पंचायतों के प्रभार के अलावा अंचल निरीक्षक का भी दायित्व है। अवधेश कुमार व रेणु कुशवाहा के पास 7 पंचायतों का प्रभार है। एक से अधिक पंचायत का प्रभार रहने के कारण राजस्व कर्मचारी प्रभार वाले पंचायत में नियमित रूप से समय नहीं दे पाते हैं।

अवधेश और रेणु कुशवाहा को सात-सात पंचायतों का प्रभार

राजस्व कर्मचारी की कमी के कारण दिया गया है प्रभार

इस संबंध में डीसीएलआर सह वरीय पदाधिकारी युनूस अंसारी ने बताया कि राजस्व कर्मचारी की कमी के कारण एक से अधिक पंचायतों का प्रभार दिया गया है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना