• Hindi News
  • Bihar
  • Araria
  • Araria News the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity

17 से शिक्षकों की अनिश्चितकालीन हड़ताल मशाल जुलूस निकाल एकता का दिया परिचय

Araria News - बस स्टैंड से चांदनी चौक तक निकले जुलूस में शामिल हुए शिक्षक बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान...

Feb 16, 2020, 06:20 AM IST
Araria News - the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity
बस स्टैंड से चांदनी चौक तक निकले जुलूस में शामिल हुए शिक्षक

बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर शनिवार को जिले के सभी प्रखंड मुख्यालयों में प्राइमरी नियोजित शिक्षकों ने हड़ताल के समर्थन में मशाल जुलूस निकालकर अपनी चट्टानी एकता का परिचय दिया। समान काम समान वेतन, राज्यकर्मी का दर्जा, समान सेवाशर्त आदि मांगों को लेकर बिहार के साढ़े चार लाख शिक्षक 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर रहेंगे। जिला मुख्यालय में अररिया प्रखंड के शिक्षकों ने मशाल-जुलूस निकाला। मशाल जुलूस का नेतृत्व संघ के प्रखंड अध्यक्ष वजहुल कमर ने किया। अररिया में मशाल जुलूस बस स्टैंड से एडीबी चौक होते हुए चांदनी चौक तक निकाला गया। इस जुलूस में दर्जनों की संख्या में महिला व पुरुष नियोजित शिक्षकों ने भाग लिया। हाथों में मशाल लेकर निकले शिक्षकों ने राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।

जुलूस में शामिल संघ के प्रदेश कोषाध्यक्ष प्रशांत कुमार ने कहा कि जबतक सरकार हमारी मांगों को पूरा नहीं कर देती है हड़ताल जारी रहेगा। प्रदेश कोषाध्यक्ष ने कहा कि हड़ताल हमारा संवैधानिक अधिकार है। सरकार संवैधानिक व लोकतांत्रिक तरीके से हो रहे शिक्षकों के आन्दोलन से भयभीत हो चुकी है, इसलिए असंवैधानिक तरीके से पत्र निकाल कर शिक्षकों को डराने का प्रयास किया जा रहा है। मशाल जुलूस में समन्वय समिति संयोजक अब्दुल कुद्दुस, प्रदेश कोषाध्यक्ष प्रशांत कुमार, राज्य प्रतिनधि माजुउद्दीन, जाफर रहमानी, रंजीत कुमार, गंगा प्रसाद मुखिया, आफताब फिरोज, मगफूर आलम, इमरान आलम, वजहुल कमर, अजीत सिंह, राजीव कुमार, रकीब मंसूरी, चितरंजन झा सहित सैकड़ों शिक्षक-शिक्षिकाएं थे।

समान काम, समान वेतन की मांग पर हड़ताल की घोषणा

कुर्साकांटा | बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति कुर्साकांटा इकाई ने अनिश्चितकालीन हड़ताल में जाने के पूर्व शनिवार की संध्या प्रखंड मुख्यालय स्थित बीआरसी कार्यालय से मशाल जुलूस निकाला। मशाल जुलूस मध्य विद्यालय कुर्साकांटा बीआरसी से निकल कर दुर्गा मंदिर चौक, मुख्य चौक, हटिया सड़क के रास्ते प्रखंड मुख्यालय स्थित नवनिर्मित बीआरसी भवन तक पहुंचकर जुलूस का समापन हुआ। मशाल जुलूस में शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति कुर्साकांटा के फुलेश्वर पांडेय, राजीव कुमार, सुनील कुमार यादव, काशीनाथ सिंह, ब्रह्मदेव सिंह, हरिओम मंडल, संतोष कुमार सिंह, रविराज, बिनोद सागर, ओमप्रकाश साह, अमित कुमार,धर्मेंद्र ठाकुर, रामलाल चौधरी, विजय कुमार सिंह, सरोज कुमार, आलोक गुप्ता, कन्हैया रौनियार, अरुण शुक्ल, असलम परवेज, निशांत कुमार, पंकज दीनकर, मनोज राम, विद्यामोहन मिश्र, पंकज चौधरी, विकास कुमार सिंह, रविंद्र कुमार सिंह, शिवनारायण सिंह, मोहन झा, सुमन कुमार, जितेंद्र कुमार सिंह समेत सैकड़ों शिक्षक मौजूद थे।

शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति ने सौंपा ज्ञापन

सिकटी | नियोजित शिक्षक 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जा रहे हैं। शनिवार को बीडीओ शिवेश कुमार सिंह को एक ज्ञापन सौंपा है। शिक्षक विनोद कुमार व चितरंजन कुमार ने बताया कि नियमित शिक्षकों की भांति वेतन मान व उसी के जैसा सेवा शर्त, राज्य कर्मी का दर्जा आदि कई मांगों को लेकर जिले व प्रखंड के प्रारंभिक, माध्यमिक, व उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत सभी कोटि के शिक्षक व पुस्तकालय अध्यक्ष राज्य व्यापी हड़ताल शुरू करेंगे।

हड़ताल को लेकर रानीगंज में निकला मशाल जुलुश

मशाल जुलूस में शामिल शिक्षक।

मशाल जुलूस में शामिल शिक्षक।

रानीगंज में मशाल जुलूस निकाल सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते शिक्षक।

सिकटी में शनिवार को बीडीओ को ज्ञापन सौंपते शिक्षक।

रानीगंज | 17 फरवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल के समर्थन में शिक्षकों ने मशाल जुलूश निकाला। शिक्षक संघ रानीगंज के अध्यक्ष प्रशांत कुमार सिंह ने शिक्षकों को अंतिम संघर्ष करने के लिए एकजूट होने की अपील की। बैठक के बाद शनिवार को पत्रांक दो के माध्यम से बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के स्थानीय इकाई द्वारा बीडीओ को एक ज्ञापन सौंपा गया। मशाल जुलूश में शिक्षक अजय कुमार झा, मुकेश कुमार गुड्डू, राजू कुमार राजा, पवन कुमार पासवान, अमित कुमार, जय प्रकाश यादव, अविनाश मंगलम, संजय कुमार रजक, आलोक कुमार आजाद, कुंदन कुमार ठाकुर, इंदुभूषण चंदन, राजेश कुमार सिंह, कल्पना देव, भावना कुमारी, सुलोचना कुमारी, रीना कुमारी, फारूख आजम, सुफेद आलम व प्रमोद कुमार पटेल सहित सैकड़ों की संख्या में शिक्षक व शिक्षिका शामिल थे।

Araria News - the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity
Araria News - the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity
Araria News - the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity
X
Araria News - the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity
Araria News - the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity
Araria News - the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity
Araria News - the indefinite strike torch procession of teachers from 17 gave the introduction of unity

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना