जैविक खाद के उपयोग से कम लागत में होगी अच्छी फसल

Aurangabad News - हसामपुर पंचायत अंतर्गत सहरसा गांव में गुरुवार को किसान चौपाल का आयोजन किया गया। इसमें किसानों को नई तकनीक से खेती...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:25 AM IST
Goh News - use of organic manure will lead to good harvest in low cost
हसामपुर पंचायत अंतर्गत सहरसा गांव में गुरुवार को किसान चौपाल का आयोजन किया गया। इसमें किसानों को नई तकनीक से खेती करने की विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यक्रम का उद्घाटन प्रगतिशील कृषक बैजनाथ सिंह ने दीप प्रज्वलित कर किया। हसामपुर पैक्स अध्यक्ष राजीव कुमार विद्यार्थी ने बताया कि कृषि विभाग के तहत किसानों के लिए जो भी कल्याणकारी योजनाएं संचालित हो रही है उसे चौपाल के माध्यम से किसानों को बताया जा रहा है। कृषि समन्वयक उमेश कुमार ने किसानों को कृषि यंत्रीकरण आवेदन, पंजीकरण, जैविक खाद व उत्पादन में बढ़ोतरी को लेकर कई जानकारियां दी। वहीं किसान सलाहकार अखिलेश कुमार ने बताया कि अपने खेतों में रासायनिक खाद की जगह जैविक खाद का प्रयोग करें, जिससे कम लागत में अच्छी उपज व ज्यादा मुनाफा कमा सकते हैं। इस मौके पर प्रखंड कृषि पदाधिकारी देवेंद्र कुमार, उद्यान पदाधिकारी सहित अन्य मौजूद थे।

किसान चौपाल में शामिल कृषि विभाग के अधिकारी।

सिटी रिपोर्टर | गोह

हसामपुर पंचायत अंतर्गत सहरसा गांव में गुरुवार को किसान चौपाल का आयोजन किया गया। इसमें किसानों को नई तकनीक से खेती करने की विस्तार से जानकारी दी गई। कार्यक्रम का उद्घाटन प्रगतिशील कृषक बैजनाथ सिंह ने दीप प्रज्वलित कर किया। हसामपुर पैक्स अध्यक्ष राजीव कुमार विद्यार्थी ने बताया कि कृषि विभाग के तहत किसानों के लिए जो भी कल्याणकारी योजनाएं संचालित हो रही है उसे चौपाल के माध्यम से किसानों को बताया जा रहा है। कृषि समन्वयक उमेश कुमार ने किसानों को कृषि यंत्रीकरण आवेदन, पंजीकरण, जैविक खाद व उत्पादन में बढ़ोतरी को लेकर कई जानकारियां दी। वहीं किसान सलाहकार अखिलेश कुमार ने बताया कि अपने खेतों में रासायनिक खाद की जगह जैविक खाद का प्रयोग करें, जिससे कम लागत में अच्छी उपज व ज्यादा मुनाफा कमा सकते हैं। इस मौके पर प्रखंड कृषि पदाधिकारी देवेंद्र कुमार, उद्यान पदाधिकारी सहित अन्य मौजूद थे।

बहेरा में किसान चौपाल का किया गया आयोजन

कुटुंबा प्रखंड के मटपा पंचायत अंतर्गत बहेरा गांव में गुरुवार को कृषि चौपाल का आयोजन किया गया। चौपाल में कृषि समन्वयक रोहिणी राज ने किसानों को खरीफ फसल के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने किसानों को जैविक खेती करने की सलाह देते हुए कहा कि जैविक खाद के प्रयोग से जहां उत्पादन अच्छा होता है। वहीं खेत की उर्वरा शक्ति कायम रहती है। किसान सलाहकार संजीव कुमार सिंह ने कहा कि किसान खेती के अलावे मत्स्य पालन व पशुपालन भी कर सकते हैं।

जीरो टिलेश से करें धान के बिचड़े की सीधी बुआई

कृषि अधिकारियों ने कहा कि जीरो टिलेज मशीन से धान के बिचड़े की सीधी बुआई करें। इसमें धान की रोपाई नहीं की जाती है। उन्होंने बताया कि सीधी बुआई में एक एकड़ खेत में लगभग अाठ किलोग्राम बीज लगता है, जिसमें डीएपी खाद मिलाकर नमीयुक्त जमीन में सीधे जीरो टिलेज मशीन से लाइन से लाइन बुआई कर दी जाती है। इससे किसानों को काफी फायदा होगा और अगली फसल उगाने के लिए पर्याप्त समय मिलेगा।

X
Goh News - use of organic manure will lead to good harvest in low cost
COMMENT