मंत्री का आदेश बेअसर, डॉक्टर के अभाव में हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर बीमार

Banka News - भास्कर न्यूज। पंजवारा पंजवारा में अतिरिक्त एपीएचसी से प्रमोट कर बनाए गए हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर में मरीजाें काे...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:37 AM IST
Barahat News - minister39s order ineffective health and wellness center sick due to lack of doctor
भास्कर न्यूज। पंजवारा

पंजवारा में अतिरिक्त एपीएचसी से प्रमोट कर बनाए गए हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर में मरीजाें काे बेहतर स्वास्थ्य सेवा नहीं मिल रही है। जब पंजवारा का अस्पताल एपीएचसी था, तो अस्पताल में नियुक्त एक आयुष चिकित्सक डॉ. दिनेश भगत आस-पास के 2 दर्जन से अधिक गांवों के लोगों का इलाज कर रहे थे। जैसे ही इसे और बेहतर बनाने के लिए सरकार ने इसे हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर के रूप में डेवलप किया, हालत सुधरने की बजाय बिगड़ने लगा।

अस्पताल से एकमात्र आयुष चिकित्सक को भी हटाकर बाराहाट पीएससी में नियुक्त कर दिया गया। क्षेत्र के मरीजों को अस्पताल प्रबंधन ने मात्र नर्सों के भरोसे छोड़ दिया। प्रतिदिन औसतन 100 से 125 मरीजाें का नर्सों के भराेसे इलाज हो रहा है। नर्सें ना आला ही लगाती हैं और ना ही मरीजों को हाथ लगाकर नब्ज चेक करती है। बस खिड़की के बाहर खड़े मर्ज पूछकर दवाई दे देती हैं। शुक्रवार को भी सुबह के 11 बजे तक अस्पताल में ड्यूटी पर मौजूद नर्सें करीब 40 मरीजों का मर्ज पुछकर दवा दे चुकी थी। ग्रामीण बालकिशोर भगत, उपसरपंच संजीव झा, सिद्धार्थ जयसवाल का कहना है कि लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

नर्से न लागाती हैं आला और न ही टटोलती है नब्ज, दे देती दवा

खिड़की के बाहर खड़े मरीजों को मर्ज पूछकर दवा देती नर्स।

नहीं हो पाई चिकित्सक की तैनाती

पिछले दिनों भाजपा सदस्यता अभियान के दौरान पंजवारा पहुंचे राजस्व मंत्री रामनारायण मंडल को स्थानीय लोगों ने समस्या से अवगत कराया और स्थाई चिकित्सक की नियुक्ति की गुहार लगाई थी। राजस्व मंत्री ने मौके से बांका सीएस को फोन कर आयुष चिकित्सक को वापस पंजवारा भेजने को कहा। सीएस ने भी श्रावणी मेले के बाद आयुष चिकित्सक की नियुक्ति वापस पंजवारा में करने की बात कही थी। परंतु मंत्री के आदेश के बावजूद भी आज तक पंजवारा में स्थाई चिकित्सक की तैनाती नहीं हो पाई है।

अधिकारी एक-दूसरे पर डाल रहे हैं जिम्मेदारी

बांका सीएस डॉ. सुधीर महतो ने हाईकोर्ट में होने का हवाला देकर कहा कि जवाब एसीएमओ परवेज आलम देंगे। जब एसीएमओ ने भी खुद को मीटिंग में होने की बात कह कर ल्ला झाड़ लिया। कहा किसी भी चिकित्सक का डिप्टेशन करने का अधिकार क्षेत्र सीएस का है। इसमें मैं कोई जवाब नहीं दे सकता। वहीं बाराहाट पीएचसी के स्वास्थ्य प्रबंधक अवध किशोर श्यामला ने भी खुद के मीटिंग में व्यस्त होने की बात कह

X
Barahat News - minister39s order ineffective health and wellness center sick due to lack of doctor
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना