पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Banka News Sadar Hospital Does Not Arrive On Time Doctor And Staff Waiting For Hours Outside Opd Patients

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सदर अस्पताल में समय पर नहीं पहुंचते हैं डॉक्टर अाैर कर्मी, ओपीडी के बाहर घंटाें इंतजार करते रहते हैं मरीज

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
एक ओर जहां स्वास्थ्य विभाग रोगियों के बेहतर इलाज के लिए नई-नई योजना लागू कर रही है। वहीं दूसरी ओर डॉक्टर व कर्मियों की लेटलतीफी की वजह से मरीजों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। एईएस को लेकर जहां स्वास्थ्य विभाग ने जिले भर के अस्पतालों को अलर्ट पर रखा है, वहीं बांका शहर स्थित सदर अस्पताल में कर्मियों के अस्पताल आने का समय निर्धारित है लेकिन डॉक्टर व कर्मी अपने अनुसार अस्पताल में ड्यूटी करने आते हैं। जहां आठ बजे तक पर्ची काटने के लिए रजिस्ट्रेशन काउंटर खुलने व डॉक्टर को ओपीडी में बैठने का समय निर्धारित है वहीं शनिवार को कोई भी डॉक्टर व स्टाफ समय पर अस्पताल नहीं पहुंचे। डॉकटरों के इंतजार में मरीजों को घंटो इंतजार करना पड़ा।

काफी देर से खुला ओपीडी

सदर अस्पताल में शनिवार को इलाज के लिए पहुंचे सैंकड़ों मरीजों को डॉक्टर व स्टाफ का इंतजार करना पड़ा। जहां मरीज इलाज के लिए लाइन में खड़े रहे, वहीं डॉ. सलाउद्दीन 8.45 ओपीडी में दाखिल हुए। रजिस्ट्रेशन काउंटर नहीं खुलने की वजह से पहले इमरजेंसी के मरीजों को देखा। रजिस्ट्रेशन काउंटर पर बैठने वाले दीपक व राकेश कुमार 9 बजे तक अस्पताल नहीं पहंुचे। जिसकी वजह से बुखार व अन्य बीमारी से तड़प रहे मरीज उनके इंतजार में लाइन में खड़े रहे। 9 बजकर 5 मिनट पर राकेश कुमार ने रजिस्ट्रेशन काउंटर खोला। पूछने पर बताया कि रोज समय पर आते हैं, आज लेट हो गया। वहीं दीपक कुमार तब तक भी काउंटर पर नहीं पहुंचे थे।

सुबह 9 बजकर पांच मिनट पर खुला रजिस्ट्रेशन काउंटर, कर्मी ने बताया - रोज समय पर आता हूं, सिर्फ आज लेट हो गया हूं
रजिस्ट्रेशन काउंटर खुलने के इंतजार में बैठे मरीज।

2 घंटे से रजिस्ट्रेशन काउंटर पर करना पड़ा इंतजार

मैं सात बजे रजिस्ट्रेशन काउंटर पर लाइन में लगी। 2 घंटे तक इंतजार करने के बावजूद कर्मी नहीं पहुंचे। सांस फूलने की वजह से काफी परेशानी हो रही है। जानकी देवी, देसड़ा, बांका।

डाॅक्टरों को अपने रवैए में बदलाव लाना होगा

अस्पताल में समय पर नहीं आते हैं कर्मी

सदर अस्पताल में कई बार इलाज के लिए सुबह आते हैं लेकिन कभी भी स्टाफ समय पर नहीं आते हैं। जिसकी वजह से मरीजों को लंबा इंतजार करना पड़ता है। कमल किशोर दास, कटेली, बांका।

अस्पताल में जिनकी ड्यूटी होती है, उन्हें समय पर आना चाहिए। डॉक्टर व कर्मियों को अपने रवैए में बदलाव लाने के लिए कहा जाएगा। मरीजों को समय पर इलाज मिलना चाहिए। कर्मियों को अपने व्यवहार में बदलाव लाना होगा। डॉ. अंजनी कुमार, अधीक्षक, सदर अस्पताल बांका

दिखाने के लिए आया तो पर्ची काटने वाला नहीं मिला

कई दिनों से हड्‌डी में दर्द है और बुखार भी है। डॉक्टर को दिखाने के लिए आए लेकिन न तो पर्चा काटने वाला आया है और न ही कोई डॉक्टर आए हैं। असर्फी शरण, बांका।

रजिस्ट्रेशन काउंटर के बाहर काउंटर खुलने के इंतजार में बैठे मरीज व उनके परिजन।

समय पर नहीं होगा इलाज तो हो सकती है परेशानी

मुझे दो दिन से बुखार है। आज सुबह डॉक्टर को दिखाने आए हैं लेकिन अब तक कोई स्टाफ नहीं आया है। बुखार की वजह से परेशान हैं। चंचला कुमारी, भदरिया, बांका।

सुबह के 9.15 बजे तक महिला ओपीडी रहा खाली।

महिला डॉक्टर के नहीं आने से महिला ओपीडी व प्रसूता वार्ड के मरीजों को हुई परेशानी

सुबह से ही महिला मरीज व प्रसूताओं की भीड़ अस्पताल में लगने लगी थी। लेकिन महिला डॉक्टर शैल झा 10 बजे तक न तो महिला ओपीडी में मरीजों को देखने पहुंचीं और न ही प्रसूता वार्ड में प्रसूता व नवजात को देखने पहुंचीं। शुक्रवार की रात आठ नवजात का जन्म हुआ था। नवजात को टीका दिलाने के लिए पहंुचे लोगों को भी प्रतिरक्षण कक्ष बंद होने की वजह से काफी देर तक इंतजार करना पड़ा। 9 बजे तक प्रतिरक्षण कक्ष का ताला बंद रहा। वहीं दवा काउंटर पर जीएनएम मधु की ड्यूटी लगी थी लेकिन वह भी 9 बजे तक काउंटर पर नहीं पहुंची थीं। जबकि काउंटर पर डाटा ऑपरेटर भी नदारद दिखे। ईएनटी विभाग में भी कोई चिकित्सक या सहायक 9.15 बजे तक नहीं पहुंचे थे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें