• Hindi News
  • Rajya
  • Bihar
  • Begusarai
  • Begusarai News devotees take a dip in the ganges on the banks of ganga simaria jhamtia chamatha munger and several ghats of matihani from the harp of ganga

हर-हर गंगे के जयघोष से गूंजा गंगा तट, सिमरिया, झमटिया, चमथा मुंगेर व मटिहानी के कई घाटों पर श्रद्धालुओं ने लगाई गंगा में डुबकी

Begusarai News - उत्तरवाहिनी सिमरियाधाम गंगा तट पर कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर गंगा स्नान को ले श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी।...

Nov 13, 2019, 06:21 AM IST
Begusarai News - devotees take a dip in the ganges on the banks of ganga simaria jhamtia chamatha munger and several ghats of matihani from the harp of ganga
उत्तरवाहिनी सिमरियाधाम गंगा तट पर कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर गंगा स्नान को ले श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। मंगलवार की अहले सुबह बड़ी संख्या में श्रद्धालु गंगा तट पर पहुंचकर मां गंगा में डुबकी लगाई। यह क्रम दिनभर चलता रहा। पांच लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने गंगा स्नान किया। सिमरिया गंगा तट पर श्रद्धालुओं के स्नान के लिए बने 16 स्नान घाट पर सोमवार की रात 12 बजे के बाद से ही हरहर गंगे की जयघोष होने लगी, मंगलवार शाम तक यह सिलसिला जारी रहा। नेपाल, भूटान, मधुबनी, दरभंगा, झंझारपुर, सुपौल, मधेपुरा, बेनीपट्टी समस्तीपुर, बेगूसराय, खगड़िया, सहरसा, पटना, लखीसराय, नवादा, शेखपुरा, जमुई,कोलकत्ता सहित पूरे बिहार सहित अन्य राज्यों व विदेश से लाखों श्रद्धालुओं ने ट्रेन, बस व निजी वाहनों से सिमरिया गंगा नदी तट पर पहुंच कर गंगा स्नान किया। साथ ही विभिन्न मंदिरों व गंगा नदी तट पर पूजा अर्चना के बाद गंगा जल अपने साथ ले गए। गंगा स्नान करने आए श्रद्धालुओं ने जहां होटलों में जलपान किया वहीं बाजार में जमकर खरीदारी की।

प्रशासनिक तैयारी थी चुस्त-दुरुस्त

कार्तिक पूर्णिमा की भीड़ के मद्देनजर जिला प्रशासन चौकस दिखा। सोमवार की शाम से ही सिमरिया गंगा तट पर वाहनों का प्रवेश वर्जित कर दिया गया। दूर दराज से आने वाले वाहनों को बैरियर के पास बने पार्किंग स्थल पर लगाया गया। रात से ही एन एच 31 तीनमुहानी, बैरियर के पास,बिन्द टोली चौराहे, सीढ़ी के पास, मुख्य सीढ़ी के अलावा विभिन्न स्नान घाटों पर पुलिस पदाधिकारी, जवान व मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई थी। बैरियर के पास मुख्य स्नान घाट जाने वाले रास्ते को बंद कर सिर्फ गंगा नदी से स्नान करने के बाद लौटने वाले लोगों के लिए वन वे ट्रैफिक की व्यवस्था की गई।

सुबह से ही तैनात थे पुलिस पदाधिकारी

मंगलवार की अहले सुबह तीन बजे सदर एसडीओ संजीब कुमार चौधरी, सदर डीएसपी राजन सिन्हा, नगर परिषद बीहट के कार्यपालक पदाधिकारी शिवांशु शिवेश, बरौनी बीडीओ सुनील कुमार, सीओ सुजीत सुमन, चकिया ओपी प्रभारी राकेश कुमार गुप्ता, रिफाइनरी ओपी प्रभारी विवेक भारती, सिंघौल ओपी प्रभारी मनीष कुमार, जीरोमाइल इंस्पेक्टर अक्षयलाल, जीरोमाइल ओपी प्रभारी समरेन्द्र कुमार सहित विभिन्न थाना प्रभारी व पदाधिकारी व मजिस्ट्रेट अपनी ड्यूटी पर लग गए। सदर एसडीओ व सदर डीएसपी ने बैरियर के पास चार पहिया एवं दो पहिया वाहनों को रोक दिया। वहां पर तैनात पुलिस पदाधिकारी के द्वारा सभी वाहनों को पार्किंग में लगाया गया। उसके बाद लोगों की भीड़ को अलग अलग रास्ते में भेजते रहे। ताकि भीड़ के दौरान किसी भी तरह की कोई अप्रिय घटना नहीं हो। पुलिस व जिला प्रशासन के सहयोग से सड़क पर जाम नहीं दिखा।

मुंगेर राजघाट

गंगा नदी किनारे गंगा स्नान के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

जान जोखिम में डालकर गंगा स्नान करने जा रहे थे श्रद्धालु

श्रद्धालुओं की भीड़ जान जोखिम में डालकर राजेन्द्र पुल से रेलवे ट्रैक को पार करके सिमरिया काली धाम की ओर जा आ रहे थे। विदित हो कि जिला प्रशासन द्वारा एनएच 31 सड़क से गंगा नदी तट जाने वाले सीढ़ी को अत्यधिक भीड़ की वजह से बंद कर दिया गया। हालांकि रेलवे ट्रैक के पास पुलिस जवान तैनात थे।

कार्तिक पूर्णिमा को लेकर गंगा स्नान के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

बछवाड़ा| कार्तिक पूर्णिमा को लेकर मिथिलांचल इलाके के प्रसिद्ध झमटिया धाम गंगा घाट पर मंगलवार की सुबह से ही स्नान करने को लेकर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। कार्तिक पूर्णिमा को लेकर झमटिया धाम गंगा घाट पर स्नान को लेकर दिन भर लोगों का तांता लगा रहा। गंगा स्नान के लिए आने वाले लोगों के भीड़ से बछवाड़ा बाजार समेत झमटिया ढाला एनएच-28 पर जबर्दस्त भीड़ देखने को मिला। झमटिया घाट से लेकर बछवाड़ा जंक्शन तक श्रद्धालुआें की भीड़ के कारण दिन भर मेला सा नजारा दिख रहा था। झमटिया धाम गंगा घाट मिथिलांचल इलाके के प्रसिद्ध घाट माना जाता है। वहीं झमटिया धाम गंगा घाट पर समस्तीपुर, दरभंगा, मधुबनी समेत मिथिलांचल इलाके से आने वाली सभी ट्रेन पर श्रद्धालुओं की भीड़ देखी गई। इसको लेकर बछवाड़ा रेलवे स्टेशन से लेकर झमटिया धाम गंगा घाट तक मेला सा नजारा बना रहा। झमटिया धाम गंगा घाट के पंडित विजय कुमार झा ने बताया कि कार्तिक मास के आरंम्भ होते ही लोग गंगा स्नान शुरू कर देते हैं। जो आज पूर्णिमा के साथ ही खत्म हो जाता है। पूर्णिमा को लेकर गंगा स्नान के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ को देखते हुए स्थानीय प्रशासन द्वारा सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया गया था।

एसडीआरएफ एवं स्थानीय गोताखोर की टीम लग रहे थे गश्त

गंगा नदी में मोटर वोट पर सवार होकर एसडीआरएफ एवं स्थानीय गोताखोर की टीम सुबह से शाम तक गश्त लगा रही थी। जो भी लोग बैरिकेडिंग के बाहर जाते उनको रोक रहे थे। प्रशासनिक व्यवस्था की वजह से लोग इत्मीनान से गंगा स्नान करके लौट गए। राजेंद्र पुल पर जाम नहीं दिखा, सड़क किनारे वाहनों की लंबी कतार के बावजूद सड़क पर वाहन गुजर रहे थे।

कल्पवास मेला

गंगा स्नान के लिए उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

सूचना केन्द्र बिछड़े लोगों को मिलाने का कर रहा था काम

सिमरिया कल्पवास मेला में जिला नियंत्रण कक्ष में बनाए गए सूचना केन्द्र व खोया पाया केन्द्र कार्तिक पूर्णिमा के दिन उमड़ी भीड़ में अपने अपने परिजनों से बिछड़े लोगों को मिलाने का बखूबी काम किया। सूचना केन्द्र पर तैनात गोरेलाल सिंह सहित अन्य कर्मचारी ने बताया कि देर रात से अब तक करीब सात सौ लोगों व बच्चों को उनके परिजनों से मिलाने का काम किया गया।

गंगा नदी तट पर भगतई का दिखा नजारा

कार्तिक पूर्णिमा को लेकर सिमरिया गंगा नदी तट नेपाल, भूटान सहित बिहार के विभिन्न जिलों से आए भगतो की टोली गंगा नदी तट किनारे अपने अपने टोली बनाकर पूजा पाठ करने के साथ घंटों महिला और पुरुष भगत के द्वारा भगतई का खेल चलता रहा। उसके बाद गंगा नदी में जाकर भी बहुत देर तक सभी भगत भगतई करते रहे।

गंगा में श्रद्धालुओं ने लगाई डुबकी

गंगा स्नान के साथ कल्पवास मेले का समापन

चमथा| कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर शुक्रवार को गंगा स्नान के लिए प्रखंड क्षेत्र के विशनपुर पंचायत के चिड़ैयाटोक गंगा घाट पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। कार्तिक के गुरु पूर्णिमा के अवसर पर विशनपुर पंचायत के चिड़ैयाटोक गंगा तट पर लगा हुआ कल्पवास मेला का भी समापन हो गया। कल्पवास मेला के समापन के दौरान दरभंगा, मधुबनी, सीतामढ़ी, समस्तीपुर समेत समस्त मिथिलांचल से हज़ारों की संख्या में श्रद्धालु गंगा स्नान करने के लिए बस, ट्रेन भर कर आए। श्रद्धालुओं को चिड़ैया टोक गंगा तट जाने के लिए ऑटो और निजी वाहनों का सहारा लेना पड़ा। मधुबनी से आए विजय शंकर झा, शंकर मिश्रा, लीला देवी समेत दर्जनों श्रद्धालुओं ने बताया कि हम सुनते आ रहे हैं कि चमथा राजा जनक की तपस्थली है, वे यहां स्नान करने आते थे।

अयोध्या से भी आए श्रद्धालु

इतना ही नहीं इस गंगा तट पर मां सीता और महाकवि विद्यापति के साथ उगना के रूप में स्वयं महादेव स्नान करने आते थे। इस गंगा तट का जो महत्व है वह किसी काशी प्रयाग से कम नहीं है। विदित हो कार्तिक माह में कल्पवास करने के लिए उत्तरप्रदेश के अयोध्या, मिथिलांचल समेत बिहार और देश के अन्य हिस्सों से हजारों की तादाद में श्रद्धालु आए हुए थे। गंगा स्नान के प्रति जिन लोगों में उत्साह दिखा मानो श्रद्धालु गंगा की गोद से बाहर आना नहीं चाहते थे। गंगा स्नान की वजह से पुरा दियारा क्षेत्र लोगों के आवागमन से गुलजार हो उठा। कार्तिक के गुरु पूर्णिमा के अवसर पर गंगा स्नान के साथ ही कल्पवास मेला की समाप्ति हो गई।

मटिहानी के विभिन्न घाटों पर श्रद्धालुओं ने किया गंगा स्नान

प्रखंड क्षेत्र में कार्तिक पूर्णिमा को लेकर छितरौर गंगा घाट, चाक गंगा घाट, खोरमपुर गंगा घाट, सिहमा पतला टोल गंगा घाट, गोसाई टोल गंगा घाट, माली टोल गंगा घाट, चकोर गंगा घाट में स्नान करने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी। दिनभर श्रद्धालुओं की भीड़ गंगातट पर जमी रही।

चाक-चैबंद थी व्यवस्था, नहीं होने दी गई कोई दिक्कत

गंगा स्नान को लेकर प्रशासन ने पूरी तैयारी कर रखी थी। किसी भी तरह की दिक्कत श्रद्धालुओं को नहीं हो इसका पूरा ख्याल रखा गया था। कई रास्तों को वन-वे कर दिया गया था।

Begusarai News - devotees take a dip in the ganges on the banks of ganga simaria jhamtia chamatha munger and several ghats of matihani from the harp of ganga
X
Begusarai News - devotees take a dip in the ganges on the banks of ganga simaria jhamtia chamatha munger and several ghats of matihani from the harp of ganga
Begusarai News - devotees take a dip in the ganges on the banks of ganga simaria jhamtia chamatha munger and several ghats of matihani from the harp of ganga
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना