• Hindi News
  • Bihar
  • Begusarai
  • Bkhri News netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life

123वीं जयंती पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस को किया याद, डीएम ने कहा-नेताजी के जीवन से प्रेरणा लेने की जरूरत

Begusarai News - क्षेत्र की प्रख्यात साहित्यिक बौद्धिक संस्था श्रीविश्वबंधु पुस्तकालय में नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 123वीं जयंती...

Jan 24, 2020, 07:10 AM IST
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life

क्षेत्र की प्रख्यात साहित्यिक बौद्धिक संस्था श्रीविश्वबंधु पुस्तकालय में नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 123वीं जयंती समारोह पूर्वक मनाई गई। पुस्तकालय के अध्यक्ष डॉ विशाल केसरी की अध्यक्षता में आयोजित जयंती समारोह को संबोधित करते हुए नगर पार्षद सिधेश आर्य ने कहा कि भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में सुभाष बाबू का योगदान अतुलनीय है। तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा तथा दिल्ली चलो का नारा देकर उन्होंने स्वाधीनता आंदोलन में नौजवानों की सक्रिय भागीदारी को और अधिक तेज करने का काम किया। उन्होंने कहा कि सुभाष चंद्र बोस इटली, जापान सहित यूरोप के अन्य देशों की यात्रा कर आजाद हिन्द फौज की स्थापना की तथा हिटलर, मुसोलिनी, तोजो जैसे विश्व नेताओं का विश्वास हासिल कर विदेशों में भारत की आजादी के लिए समर्थन जुटाया। सुभाष चन्द्र बोस ने आजादी के आंदोलन को गांधीजी के रास्ते से इतर जाकर एक अलग ही धार दी। कार्यक्रम का संचालन कविराज ने किया।

इन लोगों ने किया संबोधित

पुस्तकालय के उपाध्यक्ष भारत भूषण इंडिया, सह सचिव विकास पोद्दार, डॉ रमण झा, सचिन केसरी, प्रो सुधीर चौरसिया, रामनंदन अज्ञानी, प्रेम किशन मन्नू, कौशल किशोर क्रांति, राजन कुमार, अभिषेक पोद्दार आदि मौजूद थे।

इन छात्रों को किया गया पुरस्कृत : मौके पर स्कूली छात्र छात्राओं के बीच चित्र लेखन एवं वाद विवाद प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। प्रथम पुरस्कार सरस्वती शिशु मंदिर की खुशी कुमारी को दिया गया। जबकि श्रवण कुमार को द्वितीय एवं कृष्कांधा को तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

बलिया में मनाई सुभाषचन्द्र बोस की जयंती, शोषण के खिलाफ बनाया गया संगठन

बलिया| बलिया व्यापार मंडल परिसर में सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाई गई। जयंती कार्यक्रम की अध्यक्षता विजय कुमार शर्मा ने की एवं संचालन संतोष राय ने की। बैठक का मुख्य उद्देश्य समाज में हो रहे शोषण के खिलाफ एक सामाजिक संगठन का निर्माण करने को लेकर किया गया। इस सामाजिक संगठन का नाम सभी की सहमति से सुभाष चंद्र बोस सामाजिक उत्थान मंच रखा गया। सर्वसम्मति से अध्यक्ष सुमित कुमार यादव, सचिव अविनाश कुमार, कोषाध्यक्ष राज सिंह, बैठक में एक संरक्षक कमेटी भी तैयार की गई। इस बैठक में मनीष कुमार, छोटू कुमार, मो. मुमताज, मो. आसिफ, जितेंद्र कुमार, मानव ठाकुर, गौतम कुमार, बलवंत कुमार गांधी सहित कई लोग मौजूद थे।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाई

गढ़पुरा| युवा सामाजिक सेवा संघ द्वारा मारवाड़ी धर्मशाला परिसर में गुरुवार को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती मनाई गई। लोगों ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किया। श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए लोगों ने नेताजी के विशाल व्यक्तित्व व कृतित्व की चर्चा करते हुए उनके आदर्श को अपनाने का संकल्प लिया। मौके पर सुशील सिंघानिया, ऋतुराज कुमार, संजय सिंह, मुकेश कुमार, गोलू शर्मा, संजीव पोद्दार, योगेंद्र महतो, गरीब दास आदि मौजूद थे।

सुभाषचन्द्र बोस की जयंती पर सीपीआई राज्य परिषद सदस्य ने कहा-नेताजी से प्रेरणा लेकर सीएए कानून वापस ले सरकार

बेगूसराय| सीपीआई द्वारा गुरुवार को पटेल चौक स्थित जिला कार्यालय कार्यानन्द भवन में नेताजी सुभाषचन्द्र बोस जयंती समारोह का आयोजन किया गया। सीपीआई नेता चंद्रशेखर भगत की अध्यक्षता में आयोजित समारोह में कार्यकारी जिला सचिव अवधेश राय ने कहा कि जब देश पर अंग्रेजों का राज्य था, तब लोग लोकतांत्रिक अधिकार के साथ सत्ता के खिलाफ मुखर थे। तब हमारा समाज लोकतांत्रिक नहीं था, लेकिन हम इस बात को लेकर दृढ़ थे कि जनआंदोलन हमारा हक़ है। साथ ही कहा कि आज के लोकतांत्रिक समाज में जनता से यह अधिकार छीनने की कोशिश हो रही है। नेताजी विरोध की आवाज को हमेशा मजबूती देने का काम किए थे, इसी तरह धर्मनिरपेक्षता को लेकर भी उनका नजरिया न्यायसंगत है। आजाद हिन्द फ़ौज में उनके करीबी और शीर्ष के कई कमांडर मुसलमान थे। वहीं राज्य परिषद सदस्य अनिल कुमार अंजान ने कहा कि वतन की आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्यौछावर करने वाले नेता जी ने देश के युवाओं को ललकारते हुए कहा था कि तुम हमें खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा। नेताजी की इस ललकार पर ढेर सारे नौजवान आगे आए और देश के लिए अपनी शहादत दी। आज उसी नौजवानों को एक बार फिर आजाद देश में आजादी का नारा लगाना पड़ रहा है। वहीं सरकार अंग्रेज की भूमिका में जनआंदोलन को कुचलने पर तुली हुई है। विरोध करने वाले को देशद्रोही, जेहादी, माओवादी व अर्बन नक्सल की संज्ञा दी जा रही है। उन्होंने कहा कि सुभाष चन्द्र बोस स्वतंत्रता संग्राम के दौरान सिंगापुर और दक्षिण पूर्व एशिया में सभी धर्मों के हिन्दुस्तानियों को इकट्ठा किया था और संगठन में महिलाओं को विशेष जिम्मेवारी दी थी। इसलिए वर्तमान सरकार को नेताजी की जीवन से प्रेरणा लेते हुए धर्म के आधार पर बनाए गए कानून सीएए, एनआरसी और एनआरपी को वापस लेते हुए महिला उत्पीड़न पर रोक लगाए। मौके पर पूर्व एमएलसी उषा सहनी, जिला सचिव मंडल सदस्य राजेन्द्र चौधरी, प्रह्लाद सिंह, कमली महतो, इन्द्रदेव कुंवर, चन्द्रमोहन साह अकेला, सत्यनारायण राय पटेल, रमेश सिंह, सुनील कुमार, भागीरथ सिंह, रामशंकर ठाकुर, जवाहर कुमार शर्मा, शंकर सिंह समदर्शी, शंभू राय, जयजय राम सिंह ने श्रद्धासुमन अर्पित किया।


श्री विश्वबंधु पुस्तकालय में सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर कई प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

भाजपा कार्यालय में याद किए गए सुभाषचंद्र बोस

भाजपा कार्यालय में जिलाध्यक्ष राजकिशोर सिंह की अध्यक्षता में सुभाषचंद्र बोस की जयंती पर श्रद्धांजलि सभा आयोजित किया गया। मौके पर जिलाध्यक्ष ने कहा कि सुभाष चंद्र बोस ना केवल भारतीय गणराज्य के बल्कि पूरे विश्व के लिए प्रेरणादायक हैं। उन्होंने जिस प्रकार से अपने दृढ़ निश्चय के दम पर राष्ट्र की एकता अखंडता और संप्रभुता को संजोए रखने का संकल्प निभाया है। वह आज की युवा पीढ़ी एवं संपूर्ण बुद्धिजीवी वर्ग के लिए प्रेरक है।

इन्होंने भी किया याद

मौके पर भाजपा जिला महामंत्री हीरा पोद्दार, राजीव वर्मा, सुनील कुमार मुन्ना, बिपिन सिंह, अशोक कुमार सिंह, मनोज यादबेन्दू, पंकज भारती एवं अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।

वक्ताओं ने कहा-नेताजी जैसे महानायक की आज भी जरूरत, नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 123वीं जयंती मनाई गई

भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में सुभाष बाबू का योगदान अतुलनीय

वक्ताओं ने कहा- नेताजी के जीवन से प्रेरणा लेने और उनके आदर्शों को अपने जीवन में उतारने की है जरूरत

सिटी रिपोर्टर| बेगूसराय

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की 123वीं जयंती के अवसर पर गुरुवार को डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने उनके आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर डीएम अरविंद कुमार वर्मा ने सुभाष चौक स्थित उनकी प्रतिमा के समक्ष माल्यार्पण के बाद उन्हें नमन किया। साथ ही कहा कि आज हमसबों को नेताजी के जीवन से प्रेरणा लेने की जरूरत है। साथ ही उनके आदर्शों को अपने जीवन में उतारने की जरूरत है। इस दौरान उनके साथ बरौनी रिफाइनरी की ईडी शुक्ला मिस्त्री, विधान पार्षद रजनीश कुमार, एसडीएम संजीव कुमार चौधरी, बरौनी रिफाइनरी कॉपोरेट संचार के अधिकारी अंकिता श्रीवास्तव, उपमेयर राजीव रंजन, सहित जिला प्रशासन के कई अधिकारी मौजूद थे।

नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 123वीं जयंती पर कार्यक्रमों का लगा रहा तांता

बेगूसराय| नेताजी सुभाषचंद्र बोस की 123वीं जयंती पर गुरुवार को जिला में पूरे दिन कार्यक्रमों का तांता लगा रहा है। इस अवसर पर दून पब्लिक स्कूल रमजानपुर, एसबीएसएस कॉलेज, भाजपा, भाकपा एवं शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति सहित अन्य संगठनों ने भी श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर दून पब्लिक स्कूल रमजानपुर में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की तस्वीर पर प्राचार्य जीके सिंह सहित शिक्षकों व छात्रों ने उनकी तस्वीर पर माल्यार्पण किया। मौके पर प्राचार्य जेके सिंह ने कहा कि आजादी के आंदोलन में तुम मुझे खून दो, हम तुम्हें आजादी देंगे का नारा ने युवाओं को काफी प्रेरित करने का काम किया। दूसरी ओर एसबीएसएस कॉलेज में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में प्राचार्य डॉ लक्ष्मण झा सहित प्राध्यापक एवं छात्रसंघ के प्रतिनिधियों ने उनकी तस्वीर पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दिया। मौके पर प्राचार्य ने कहा कि आजादी दिलाने में सुभाष चंद्र बोस के योगदान लोगों को सदा प्रेरित करते रहेंगे। इस अवसर पर प्राध्यापक डॉ अनिल शर्मा, प्रो अमित कुमार गुंजन, प्रो सुरेंद्र कुमार शर्मा, छात्रसंघ के अध्यक्ष आलोक कुमार, कोषाध्यक्ष विपिन कुमार, सचिव अमन कुमार सहित काफी संख्या में छात्र-छात्राओं ने दी माल्यार्पण किया। वहीं सर्वोदय नगर में शहीद सुखदेव सिंह समन्वय समिति द्वारा आयोजित श्रद्धांजलि सभा में शिक्षक अमरेंद्र कुमार सिंह, डॉ चंद्रशेखर चौरसिया, दिलीप सिन्हा आदि ने अपने विचारों को रखा।

नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मनाई गई जयंती

बरौनी| बरौनी के एपीएसएम कॉलेज एवं ईस्ट सेंट्रल रेलवे भारत स्काउट एंड गाइड द्वारा गढहारा स्थित बाल शिक्षा निकेतन स्काउट पार्क में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 123वीं जयंती समारोह पूर्वक मनाई गई। एपीएसएम कॉलेज के प्राचार्य डॉ मुकेश कुमार सिंह एवं बर्सर प्रो सुशील कुमार ने कहा कि देश के स्वतंत्रता आंदोलन में अहम भागीदारी निभाने वाले गिने-चुने स्वतंत्रता सेनानियों में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की अग्रणी भूमिका रही। लेकिन आजादी के बाद नेताजी को जो सम्मान देश में प्राप्त होना चाहिए, वास्तव में उस सम्मान से वे वंचित रह गए, जो दुर्भाग्यपूर्ण है। स्वतंत्रता संग्राम के दौरान नेताजी सुभाष चंद्र बोस की नेतृत्व क्षमता एवं दुश्मनों को मुंहतोड़ जवाब देने के लिए कुशल व सफल रणनीति पर रिसर्च नए पीढी के युवाओं के लिए आज भी लाभप्रद होगा। कार्यक्रम के दौरान मौके पर प्राचार्य डॉ मुकेश कुमार,बर्सर प्रो सुशील कुमार, प्रो. मनोज कुमार, डॉ. नंद किशोर पंडित, प्रो. ध्रुवदेव कुमार मौजूद थे।

सुभाष चैक पर सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर माल्यार्पण के बाद उपस्थित अधिकारी व अन्य।

भाजपा कार्यालय में सुभाष चन्द्र बोस की जयंती भाजपा कार्यकर्ता

दून पब्लिक स्कूल में माल्यार्पण करते प्राचार्य।

सुभाषचंद्र बोस जयंती समारोह को संबोधित करते वक्ता।

नेताजी सुभाषचंद्र बोस जयंती समारोह में उपस्थित लोग।

Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
X
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
Bkhri News - netaji subhash chandra bose remembered on 123rd birth anniversary dm said need to take inspiration from netaji39s life
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना